बालाजी महाराज अनोखी थारी झांकी भजन लिरिक्स | anokhi thari jhanki bhajan lyrics

272

बालाजी महाराज अनोखी थारी झांकी भजन लिरिक्स

बालाजी महाराज अनोखी थारी झांकी भजन लिरिक्स, anokhi thari jhanki bhajan lyrics

।। दोहा ।।
राम नाम रटते रहो, जब तक घट में प्राण।
कभी तो दीनदयाल के, भनक पड़ेगी कान।


~ अनोखी थारी झांकी ~

जय श्री सालासर महाराज ,
अनोखी थारी झांकी।
अनोखी थारी झांकी ,
निराली थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी।


थारे सिर पर मुकुट बिराजे ,
कानो में कुण्डल साजे।
बाबा गल बैजंती माल ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


थारे नैणा में सुरमो साजे ,
माथे पर तिलक बिराजे।
बाबा मुख में नागर पान ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


थारे अंग में चोला साजे ,
ऊपर से बरक बिराजे।
बाबा रोम रोम में राम ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


थारे हाथ में घोटा साजे ,
दूजे में गदा बिराजे।
बाबा ह्रदय बिराजे राम ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


थारे पांव पैजनिया साजे ,
चलता की छमछम बाजे।
बाबा चरणा की बलिहारी ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


थारे भोग लडुवा को लागे ,
पेड़ा को भोग भी लागे।
बाबा चूरमा की है बौछार ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


जब लक्मण मूर्छित पाये ,
संजीवन बूटी लाये।
बाबो ल्यायो पहाड़ उठाय ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


जब रावण मार गिराये ,
तब राज विभीषण पाये।
बाबा माता देई मिलाय ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


सालासर में जोत बिराजे ,
थारी पड़ी निपता बाजे।
बाबा भक्त करे जयकार ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


तुलसीदास यश गावे ,
व्याका जनम मरण छूट ज्यावे।
बाबा करदयो बेडा पार ,
अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,
अनोखी थारी झांकी। टेर। ….


जरूर पढ़े :- बजरंगबली मेरी नाव चली

जरूर पढ़े :- हनुमान हमारे आँगन में

Balaji Maharaj Hindi Bhajan Lyrics

~ Anokhi Thari Jhanki ~

jay shri salasar maharaj,
anokhi thari jhanki.
anokhi thari jhanki,
nirali thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thari jhanki.


thare sir par mukut biraje,
kano me kundal saje.
baba gal baijanti maal,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thari jhanki.


thare naina me surmo saje,
mathe par tilak biraje.
baba mukh me nagar paan,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thari jhanki.


thare ang me chola saje,
upar se barak biraje.
baba rom rom me ram,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thari jhanki.


thare hath me ghota saje,
duje me gada biraje.
baba harday biraje ram,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thaari jhanki.


thare panv paijaniya saje,
chalta ki chhamchham baje.
baba charna ki balihari,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thaari jhanki.


thare bhog laduva ko lage,
peda ko bhog bhi lage.
baba churama ki hai bochar,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thaari jhanki.


jab laxman murchhit paye,
sanjivan buti laaye.
babo lyayo pahad uthay,
anokhi thari jhanki.
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thaari jhanki.


jab ravan mar giraye,
tab raj vibhishan paaye.
baba mata dei milay,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thaari jhanki.


salasar me jot biraje,
thari padi nipata baje.
baba bhakt kare jaykar,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thaari jhanki.


tumsidas yash gave,
vyaka janam maran chut jyave.
baba kardyo beda par,
anokhi thari jhanki.
jay shri balaji maharaj ,
anokhi thaari jhanki.


जरूर पढ़े :- कठे से आयो श्याम

जरूर पढ़े :- एक दिन खाली करनी पड़सी

बालाजी महाराज भजन लिरिक्स

~ अनोखी थारी झांकी ~

जय श्री सालासर महाराज ,अनोखी थारी झांकी।
अनोखी थारी झांकी ,निराली थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी।

थारे सिर पर मुकुट बिराजे ,कानो में कुण्डल साजे।
बाबा गल बैजंती माल ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

थारे नैणा में सुरमो साजे ,माथे पर तिलक बिराजे।
बाबा मुख में नागर पान ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

थारे अंग में चोला साजे ,ऊपर से बरक बिराजे।
बाबा रोम रोम में राम ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

थारे हाथ में घोटा साजे ,दूजे में गदा बिराजे।
बाबा ह्रदय बिराजे राम ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

थारे पांव पैजनिया साजे ,चलता की छमछम बाजे।
बाबा चरणा की बलिहारी ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

थारे भोग लडुवा को लागे ,पेड़ा को भोग भी लागे।
बाबा चूरमा की है बौछार ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

जब लक्मण मूर्छित पाये ,संजीवन बूटी लाये।
बाबो ल्यायो पहाड़ उठाय ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

जब रावण मार गिराये ,तब राज विभीषण पाये।
बाबा माता देई मिलाय ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

सालासर में जोत बिराजे ,थारी पड़ी निपता बाजे।
बाबा भक्त करे जयकार ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

तुलसीदास यश गावे ,व्याका जनम मरण छूट ज्यावे।
बाबा करदयो बेडा पार ,अनोखी थारी झांकी।
जय श्री बालाजी महाराज ,अनोखी थारी झांकी। टेर। ….

रेखा गर्ग के भजन

भजन :- अनोखी थारी झांकी
गायिका :- रेखा गर्ग
लेबल :- राजस्थानी भजन लिरिक्स

जरूर पढ़े :- बजरंगबली तेरा हम दर्श अगर पाएं

जरूर पढ़े :- म्हाने सालासर ले चालो कोई आज

पिछला लेखबजरंगबली मेरी नाव चली भजन लिरिक्स | bajrangbali meri naav chali Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें