तू राम भजन कर प्राणी भजन लिरिक्स | tu ram bhajan kar prani teri do din ki zindgani Bhajan Lyrics

309

तू राम भजन कर प्राणी भजन लिरिक्स

तू राम भजन कर प्राणी भजन लिरिक्स, tu ram bhajan kar prani teri do din ki zindgani Bhajan Lyrics

।। दोहा ।।
राम किसी को मारे नहीं, नहीं है पापी राम।
अपने आप मर जावसी , कर कर खोटा काम।


~ तू राम भजन कर प्राणी ~

तू राम भजन कर प्राणी ,
तेरी दो दिन की जिंदगानी।


काया माया बादल छाया ,
मूरख मन काहे भरमाया।
उड़ जायेगा साँस का पंछी ,
फिर क्या है आनी जानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,
तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …


ऐसे दीन अनाथो का है ,
राम नाम आधार।
मुख बोल राम की बानी ,
मनवा बोल राम की बानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,
तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …


सजन सनेही सुख के संगी ,
दुनिया की है चाल दुरंगी।
नाच रहा है काल शीश पे ,
चेत चेत अभिमानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,
तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …


जिसने राम नाम गुण गाया ,
उसको लगे न दुःख की छाया।
निर्धन का धन राम नाम है ,
में हु राम दीवानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,
तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …


जरूर पढ़े :- भजो रे मन राम नाम सुखदाई

जरूर पढ़े :- मन मेरा मत कर तन री बढ़ाई 

shri ram chandra ji ke bhajan

~ tu ram bhajan kar prani ~

Tu ram bhajan kar prani,
teri do din ki jindagani.


kaya maya badal chhaya,
murakh man kaahe bharmaya.
ud jayega sans ka panchi,
fir kya hai aani jani.
Tu ram bhajan kar prani,
teri do din ki jindagani.


aise din anatho ka hai,
ram naam aadhar.
mukh bol ram ki bani,
manva bol ram ki bani.
Tu ram bhajan kar prani,
teri do din ki jindagani.


sajan sanehi sukh ke sangi,
duniya ki hai chal duragi.
nach raha hai kaal shish pe,
chet chet abhimani.
Tu raam bhajan kar prani,
teri do din ki jindagani.


jisne ram naam gun gaya,
usko lage n dukh ki chhaya.
nirdhan ka dhan ram naam hai,
me hu ram diwani.
Tu raam bhajan kar prani,
teri do din ki jindagani.


जरूर पढ़े :- तेरी बन जायेगी गोविन्द

जरूर पढ़े :- गोविन्द जय जय गोपाल जय जय

श्री राम जी के भजन लिरिक्स

~ तू राम भजन कर प्राणी ~

तू राम भजन कर प्राणी ,तेरी दो दिन की जिंदगानी।

काया माया बादल छाया ,मूरख मन काहे भरमाया।
उड़ जायेगा साँस का पंछी ,फिर क्या है आनी जानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …

ऐसे दीन अनाथो का है ,राम नाम आधार।
मुख बोल राम की बानी ,मनवा बोल राम की बानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …

सजन सनेही सुख के संगी ,दुनिया की है चाल दुरंगी।
नाच रहा है काल शीश पे ,चेत चेत अभिमानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …

जिसने राम नाम गुण गाया ,उसको लगे न दुःख की छाया।
निर्धन का धन राम नाम है ,में हु राम दीवानी।
तू राम भजन कर प्राणी ,तेरी दो दिन की जिंदगानी। टेर। …

अनुराधा पौडवाल के भजन

भजन :- तू राम भजन कर प्राणी
गायिका :- अनुराधा पौडवाल
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़े :- जग असार में सार रसना

जरूर पढ़े :- रे मन प्रति स्वाँस पुकार यही

पिछला लेखभजो रे मन राम नाम सुखदाई भजन लिरिक्स | Bhajo Re Man Ram Naam Sukhdai Bhajan Lyrics
अगला लेखराम कहो राम कहो राम कहो बावरे भजन लिरिक्स | Ram Kaho Ram Kaho Bawre Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

four × five =