साधो भाई सतगुरु तार लियो भजन लिरिक्स | Sadhu Bhai Satguru Taar Liyo Bhajan Lyrics

275

साधो भाई सतगुरु तार लियो भजन लिरिक्स

साधो भाई सतगुरु तार लियो भजन लिरिक्स, Sadhu Bhai Satguru Taar Liyo Satguru Nirguni Bhajan Lyrics

।। दोहा ।।
गुरु समान दाता नहीं, याचक सीष समान।
तीन लोक की सम्पदा, सो गुरु दिन्ही दान॥


~ सतगुरु तार लियो ~

सतगुरु मुझ में में सतगुरु में ,
जल बिच तरंग थयो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो।


जागा जागा पुरबला संचित ,
समर्थ हाथ धरयो।
ऐडा ऐडा हीरा धनिया बिन सुना ,
जंवरी लूट रियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …


भूल भूल में कित्तरा दिन खोया ,
अब के जाग पड़ियो।
उडी म्हारी नींद स्वपन में चेत्यो ,
गुरु गम सेल बहियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …


अकल अरूपी ब्रह्मा अखण्डा ,
खोजत आनंद भयो।
कटया करम भरम सब भाग्या ,
भव सिंधु पार कियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …


धन सुखाराम मिल्या गुरु पूरा ,
केवल ज्ञान दियो।
ईसरराम खेल ख़याली का ,
बहुरंग निरख रियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …


जरूर पढ़े :- मारे गुरुदेव घर आया जी

जरूर पढ़े :- साधु भाई ऐसा अण घड ध्याया

Satguru Nirguni Bhajan Lyrics

~ Sadhu Bhai Satguru Taar Liyo ~

Satguru mujh me me satguru me,
jal bich tarang thayo.
sadhu bhai satguru taar liyo.


jaga jaga purabala sanchit,
samarth hath dharyo.
aida aida hira dhaniya bin suna,
janvari lut riyo.
sadhu bhai satguru taar liyo.


bhul bhul me kittara din khoya,
ab ke jag padiyo.
udi mhari nind swapna me chetyo,
guru gam sel bahiyo.
sadhu bhai satguru taar liyo.


akal arupi brahma akhanda,
khojat anand bhayo.
katya karam bharam sab bhagya,
bhav sindhu par kiyo.
sadho bhai satguru taar liyo.


dhan sukhram milya guru pura,
keval gyan diyo .
esarram khel khayali ka,
bahurang nirakh riyo.
sadho bhai satguru taar liyo.


जरूर पढ़े :- साधो भाई जाग्रत बड़ा झबाका

जरूर पढ़े :- साधो भाई वे रावल मस्ताना

सतगुरु निर्गुणी भजन लिरिक्स

~ साधो भाई सतगुरु तार लियो ~

सतगुरु मुझ में में सतगुरु में ,जल बिच तरंग थयो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो।

जागा जागा पुरबला संचित ,समर्थ हाथ धरयो।
ऐडा ऐडा हीरा धनिया बिन सुना ,जंवरी लूट रियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …

भूल भूल में कित्तरा दिन खोया ,अब के जाग पड़ियो।
उडी म्हारी नींद स्वपन में चेत्यो ,गुरु गम सेल बहियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …

अकल अरूपी ब्रह्मा अखण्डा ,खोजत आनंद भयो।
कटया करम भरम सब भाग्या ,भव सिंधु पार कियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …

धन सुखाराम मिल्या गुरु पूरा ,केवल ज्ञान दियो।
ईसरराम खेल ख़याली का ,बहुरंग निरख रियो।
साधो भाई सतगुरु तार लियो। टेर। …

ramdas ji ke bhajan

भजन :- साधो भाई सतगुरु तार लियो
गायक :- राम दास जी
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़े :- यह जग दूषित काहे दिठा

जरूर पढ़े :- साधु भाई मरियो मौज करे

पिछला लेखमारे गुरुदेव घर आया जी आनंद भयो अपार भजन लिरिक्स | Gurudev Ghar Aaya Anand Bhayo Apar Bhajan Lyrics
अगला लेखगुरु शब्दा रो जीके लागो झटको भजन लिरिक्स | Guru Shabda Ro Jeeke Lago Jhatako Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

4 × 3 =