साधु भाई मेरा देश दीवाना भजन लिरिक्स | Sadhu Bhai Mera Desh Deewana Bhajan Lyrics

486

साधु भाई मेरा देश दीवाना भजन लिरिक्स

साधु भाई मेरा देश दीवाना भजन लिरिक्स, Sadhu Bhai Mera Desh Deewana Chetavani nirguni bhajan lyrics

।। दोहा ।।
चलती चक्की देख के, दिया कबीरा रोये ।
दो पाटन के बीच में, साबुत बचा न कोए ।


~ साधु भाई मेरा देश दीवाना ~

सतगुरु सैन लखाई साँची ,
मगन हुआ मस्ताना।
साधु भाई मेरा देश दीवाना।


नहीं सूर्य अरु नहीं चन्द्रमा ,
नहीं धरण असमाना।
उदय न अस्त दिवश नहीं रजनी ,
नाही वेद क़ुराणा।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …


नहीं जोग नहीं क्रिया कहिये ,
नहीं कोई सुमरन ध्याना।
स्वासो स्वासन अजपा कहिये ,
नहीं कोई नाम निशाना।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …


भोम ग्राम शून्य नहीं बस्ती ,
ना कोई ठोर ठिकाना।
आतम अनुभव है परिपूर्ण ,
नहीं आना नहीं जाना।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …


राम भारती समर्थ मिलिया ,
दिया शब्द परवाना।
कल्याण भारती संतो शरणे ,
पाया पद निर्वाणा।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …


जरूर पढ़े :- आवो नी पधारो म्हारा किशन कन्हैया

जरूर पढ़े :- काया कैसे रोई तज दिना प्राण

Chetavani nirguni bhajan lyrics

~ Sadhu Bhai Mera Desh Deewana ~

Satguru Sain lakhai sanchi,
magan hua mastana.
Sadhu bhai mera desh diwana.


nahi surye aru nhi chandrama,
nahi dharan asmana.
uday n ast divash nhi rajani,
nahi ved kurana.
Sadhu bhai mera desh diwana.


nhi jog nhi kriya kahiye,
nhi koi sumran dhyana.
swaso swasan ajpa kahiye,
nhi koi naam nishana.
Sadhu bhai mera desh diwana.


bhom gram sunye nhi basti,
naa koi thor thikana.
aatam anubhav hai paripurn,
nhi aana nhi jana.
Sadhu bhai mera desh diwana.


ram bharati samrth miliya,
diya shabad parvana.
kalyan bharati santo sharne,
paya pad nirvana.
Sadhu bhai mera desh diwana.


जरूर पढ़े :- कालो गणों रुपालो रे गढ़बोरिया वालो

जरूर पढ़े :- मैं तो दर्शन करबा आयो

देसी निर्गुणी भजन लिरिक्स इन हिंदी

~ साधु भाई मेरा देश दीवाना ~

सतगुरु सैन लखाई साँची ,मगन हुआ मस्ताना।
साधु भाई मेरा देश दीवाना।

नहीं सूर्य अरु नहीं चन्द्रमा ,नहीं धरण असमाना।
उदय न अस्त दिवश नहीं रजनी ,नाही वेद क़ुराणा।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …

नहीं जोग नहीं क्रिया कहिये ,नहीं कोई सुमरन ध्याना।
स्वासो स्वासन अजपा कहिये ,नहीं कोई नाम निशाना।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …

भोम ग्राम शून्य नहीं बस्ती ,ना कोई ठोर ठिकाना।
आतम अनुभव है परिपूर्ण ,नहीं आना नहीं जाना।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …

राम भारती समर्थ मिलिया ,दिया शब्द परवाना।
कल्याण भारती संतो शरणे ,पाया पद निर्वाणा।
साधु भाई मेरा देश दीवाना। टेर। …

निर्गुणी भजन लिरिक्स

भजन :- साधु भाई मेरा देश दीवाना।
गायक :- ज्ञानानन्द जी महाराज
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़े :- मै हूं पूर्ण ब्रह्म अनादि

जरूर पढ़े :- साधु भाई आनंद रूप में सवाया

पिछला लेखआवो नी पधारो म्हारा किशन कन्हैया भजन लिरिक्स | Aavo Ni Padharo Mara Kishan Kanhaiya Bhajan Lyrics
अगला लेखसाधु भाई निर्भय रूप हमारा भजन लिरिक्स | Sadhu Bhai Nirbhay Rup Hamara Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

seventeen − 4 =