साधु भाई ऐसा देश हमारा भजन लिरिक्स | Sadhu Bhai Aisa Desh Hamara Bhajan Lyrics

3587

साधु भाई ऐसा देश हमारा भजन लिरिक्स

साधु भाई ऐसा देश हमारा भजन लिरिक्स, Sadhu Bhai Aisa Desh Hamara marwadi desi nirguni bhajan lyrics

।। दोहा ।।
गुरु बिन ज्ञान न उपजै, गुरु बिन मिलै न मोष।
गुरु बिन लखै न सत्य को, गुरु बिन मिटै न दोष॥


~ ऐसा देश हमारा ~

सच्चिदानन्द सदा निर्बन्ध ,
अखै अरूप अपारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा।


आवरण वर्ण रूप नहीं रेखा ,
नहीं आकार विकारा।
उदयनअस्त बणे नहीं बिखरे ,
नित निर्गुण निराकारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..


बेहद आप आप नहीं त्रिगुण ,
नहीं हल्का नहीं भारा।
किरिया रहित सकल घट व्यापे ,
जड़ चेतन इकसारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..


जगत दृश्य जंजाल पसारा ,
घर अदृश्य है मेरा।
चर्म दृष्टि से अगम अगोचर ,
परसे गुरुमुख प्यारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..


इनके परे दृष्टि नहीं कुछ ,
कहा कहु विस्तारा।
कहे हरदेव सुनो भाई साधो ,
किया खूब निस्तारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..


जरूर देखे :- मैय्या तूने जुलम कर डाला

जरूर देखे :- साधु भाई परम ब्रह्मा गुरुदेवा

budhram ji ke bhajan

~ Sadhu Bhai Aisa Desh Hamara ~

Sachchidanand sada nirbandh ,
akhe arup apara.
sadhu bhai aisa desh hamara.


aavaran varn rup nhi rekha,
nhi aakar vikara.
udayan ast bane nhi bikhare,
nit nirgun nirakara.
sadhu bhai aisa desh hamara.


behad aap aap nhi trigun ,
nhi halka nhi bhara.
kiriya rahit sakal ghat vyape ,
jad chetan iksara.
sadhu bhai aisa desh hamara.


jagat drishy janjal pasara,
ghar adrishy hai mera.
charm drishti se agam agochar,
parse gurumukh pyara.
sadho bhai aisa desh hamara.


inke pare drishti nhi kuch,
kaha kahu vistara.
kahe hardev suno bhai sadhu,
kiya khub nistara.
sadho bhai aisa desh hamara.


जरूर देखे :- साधु भाई ज्ञान घटा झुक आया

जरूर देखे :- साधु भाई में मेरो मन समझायो

पुराने निर्गुणी भजन लिरिक्स

~ साधु भाई ऐसा देश हमारा ~

सच्चिदानन्द सदा निर्बन्ध ,अखै अरूप अपारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा।

आवरण वर्ण रूप नहीं रेखा ,नहीं आकार विकारा।
उदयनअस्त बणे नहीं बिखरे ,नित निर्गुण निराकारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..

बेहद आप आप नहीं त्रिगुण ,नहीं हल्का नहीं भारा।
किरिया रहित सकल घट व्यापे ,जड़ चेतन इकसारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..

जगत दृश्य जंजाल पसारा ,घर अदृश्य है मेरा।
चर्म दृष्टि से अगम अगोचर ,परसे गुरुमुख प्यारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..

इनके परे दृष्टि नहीं कुछ ,कहा कहु विस्तारा।
कहे हरदेव सुनो भाई साधो ,किया खूब निस्तारा।
साधु भाई ऐसा देश हमारा। टेर। ..

budhram ji ke bhajan

भजन :- साधु भाई ऐसा देश हमारा
गायक :- बुधराम जी
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर देखे :- मारा भेरू खजुरिया वाला वो

जरूर देखे :- साधु भाई यु भुला जग सारा

पिछला लेखमैय्या तूने जुलम कर डाला भजन लिरिक्स | Maiyya Tune Julam Kar Dala Bhajan Lyrics
अगला लेखसाधु भाई आनंद रूप में सवाया भजन लिरिक्स | Sadhu Bhai Aanand rup Sawaya Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

4 × 3 =