चालो मारी रेल भवानी संतो के चालो देश भजन लिरिक्स | Chalo Mari Rail Bhawani Bhajan Lyrics

1698

चालो मारी रेल भवानी संतो के चालो देश भजन लिरिक्स

चालो मारी रेल भवानी संतो के चालो देश भजन लिरिक्स, Chalo Mari Rail Bhawani guru mahima bhajan lyrics

।। दोहा ।।
कबीर माया मोहिनी, जैसी मीठी खांड।
सतगुरु की किरपा भई, नहीं तौ करती भांड॥


~ संतो के चालो देश ~

चालो मारी रेल भवानी ,
संतो के चालो देश।
संतो के चालो देश ,
भक्तो के चालो देश।


सतगुरु खोली बारी ,
अब हो गई टिकट की त्यारी।
बैठ चलो नर नारी ,
सिमरो देव गणेश।
चालो मारी रेल भवानी ,
संतो के चालो देश। टेर। ….


सतगुरु बणिया टीटी ,
गाड़ी बजावे सिटी।
सब दुनिया हो गई मोटी ,
फुला फिरे नरेश।
चालो मारी रेल भवानी ,
संतो के चालो देश। टेर। ….


हरी झण्डी हिली ,
डाक डगामग चाली।
हर बीस में चाली जी ,
कट जावे करम कलेश।
चालो मारी रेल भवानी ,
संतो के चालो देश। टेर। ….


सुखीराम उदासी रे ,
गढ़ अमरापुर को वासी।
वारो और जन्म नहीं आसी जी ,
सतगुरु का उपदेश।
चालो मारी रेल भवानी ,
संतो के चालो देश। टेर। ….


जरूर देखे :- साधो भाई संत सदा अवतारा

जरूर देखे :- म्हारा सतगुरु आया मिजमान

guru mahima bhajan lyrics in hindi

~ Chalo Mari Rail Bhawani ~

Chalo Mari Rail Bhawani,
santo ke chalo desh.
santo ke chalo desh,
bhakto ke chalo desh.


satguru kholi bari,
ab ho gai tikat ki taiyari.
baith chalo nar nari,
simro dev ganesh.
chalo mari rel bhavani,
santo ke chalo desh.


satguru baniya titi,
gadi bajave city.
sab duniya ho gai moti,
fula fire naresh.
chalo mari rel bhavani,
santo ke chalo desh.


hari jhandi hili,
dak dagamag chali.
har bees me chali ji.
kat jave karam kalesh.
chalo mari rel bhavani,
santo ke chalo desh.


sukhiram udasi re,
gad amrapur ko vasi.
varo or janam nhi aasi ji,
satguru ka updesh.
chalo mari rel bhavani,
santo ke chalo desh.


जरूर देखे :- साधो भाई सतगुरु मिलिया पंसारी

जरूर देखे :- भाग ज्यांरे संत पावणा आवे

सतगुरु भजन लिरिक्स इन हिंदी

~ चालो मारी रेल भवानी ~

चालो मारी रेल भवानी ,संतो के चालो देश।
संतो के चालो देश ,भक्तो के चालो देश।

सतगुरु खोली बारी ,अब हो गई टिकट की त्यारी।
बैठ चलो नर नारी ,सिमरो देव गणेश।
चालो मारी रेल भवानी ,संतो के चालो देश। टेर। ….

सतगुरु बणिया टीटी ,गाड़ी बजावे सिटी।
सब दुनिया हो गई मोटी ,फुला फिरे नरेश।
चालो मारी रेल भवानी ,संतो के चालो देश। टेर। ….

हरी झण्डी हिली ,डाक डगामग चाली।
हर बीस में चाली जी ,कट जावे करम कलेश।
चालो मारी रेल भवानी ,संतो के चालो देश। टेर। ….

सुखीराम उदासी रे ,गढ़ अमरापुर को वासी।
वारो और जन्म नहीं आसी जी ,सतगुरु का उपदेश।
चालो मारी रेल भवानी ,संतो के चालो देश। टेर। ….

अनिल नागौरी के भजन

भजन :- संतो के चालो देश
गायक :- अनिल नागौरी
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर देखे :- साधु भाई गुरु मिल्या उपकारी

जरूर देखे :- आज मारो भाग जागो दिया दर्शन आय

पिछला लेखसाधो भाई संत सदा अवतारा भजन लिरिक्स | Sadhu Bhai Sant Sada Avatara Bhajan Lyrics
अगला लेखमन तू राम सिमर लो भाई भजन लिरिक्स | Man Tu Ram Simar Lo Bhai Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

five × two =