चालो रे उण देश में रे जोगिया भजन लिरिक्स | Chalo Un Desh Me Jogiya Bhajan Lyrics

422

चालो रे उण देश में रे जोगिया भजन लिरिक्स

चालो रे उण देश में रे जोगिया भजन लिरिक्स, Chalo Un Desh Me Jogiya Bhajan Lyrics, jogiya bhajan lyrics

।। दोहा ।।
सुता सुता क्या करो, सुता ने आवे नींद।
जम सिराणे यु खड़ो, ज्यू तोरण आयो बिंद।


~ चालो रे उण देश में रे जोगिया ~

चालो रे उण देश में रे जोगिया रे ,
कर जोगी रो वेष।


काना में मुद्रा जोग रा रे जोगिया ,
ज्ञान जटा सिर धार।
चोलो भक्ति विवेक रो रे जोगिया ,
धीरज आसान मार।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …


शैली सत वैराग री रे जोगिया ,
शील भभूति रमाय।
जत मत ऋ सिंघी करो रे जोगिया ,
बारम्बार बजाय।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …


करम बाळ धूणी तपो रे जोगिया ,
लंघो दशवे द्वार।
डोरी गहो निज नाम री रे जोगिया ,
जद पावो दीदार।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …


इण बाना से पीव मिले जोगिया ,
अमर सुहागण होय।
समझावे शुकदेव जी रे जोगिया ,
चरणदास चित जोय।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …


जरूर देखे :- सजन म्हारा घर आवो मेहमान

जरूर देखे :- पियाजी रही रात दिन रोय

jogiya bhajan lyrics In hindi

~ Chalo Un Desh Me Jogiya ~

chalo re un desh me re jogiya,
kar jogi ro vesh.


kana me mudra jog ra re jogiya,
gyan jata sir dhar.
cholo bhakti vivek ro re jogiya,
dhiraj aasan maar.
chalo re un desh me re jogiya,


shaili sat vairag ri re jogiya,
shil bhabhuti ramay.
jat mat ri sindhi karo re jogiya,
barambar bajay.
chalo re un desh me re jogiya,


karam bal dhuni tapo re jogiya,
langho dashve dwar.
dori gaho nuj naam ri re jogiya,
jad pavo didar.
chalo re un desh me re jogiya,


in bana se piv mile jogiya,
amar suhagan hoy.
samjhave sukdev ji re jogiya,
charandas chit joy.
chalo re un desh me re jogiya,


जरूर देखे :- पियाजी लागा हे शब्दो रा बाण

जरूर देखे :- फकीरी चालणो खाण्डा री धार

जोगिया भजन लिरिक्स

~ चालो रे उण देश में रे जोगिया ~

चालो रे उण देश में रे जोगिया रे ,कर जोगी रो वेष।

काना में मुद्रा जोग रा रे जोगिया ,ज्ञान जटा सिर धार।
चोलो भक्ति विवेक रो रे जोगिया ,धीरज आसान मार।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …

शैली सत वैराग री रे जोगिया ,शील भभूति रमाय।
जत मत ऋ सिंघी करो रे जोगिया ,बारम्बार बजाय।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …

करम बाळ धूणी तपो रे जोगिया ,लंघो दशवे द्वार।
डोरी गहो निज नाम री रे जोगिया ,जद पावो दीदार।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …

इण बाना से पीव मिले जोगिया ,अमर सुहागण होय।
समझावे शुकदेव जी रे जोगिया ,चरणदास चित जोय।
चालो रे उण देश में रे जोगिया। टेर। …

jogiya bhajan rajasthani

भजन :- चालो रे उण देश में रे जोगिया
गायक :- unknown
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर देखे :- फकीरी कायर सु नहीं होय

जरूर देखे :- फकीरी मन मारे सो ही शुर

पिछला लेखसजन म्हारा घर आवो मेहमान भजन लिरिक्स | Sajan Mhara Ghar Aavo Mehman Bhajan Lyrics
अगला लेखआनंद उण देश रो जोगिया भजन लिरिक्स | Anand Un Desh Ro Jogiya Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

5 × four =