एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे भजन लिरिक्स | Aido Re Avasar Hath Nhi Aave Bhajan Lyrics

955

एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे भजन लिरिक्स

एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे भजन लिरिक्स, Aido Re Avasar Hath Nhi Aave chetawani bhajan lyrics

।। दोहा ।।
सतगुरु आवत देखिया, कांधे लाल बन्दुक।
गोली दागी हरी नाम की, भाग गया जम दूत।


~ एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ~

लेवणा होये तो लीजो म्हारा भाईडा ,
अजु रे लेवण केडी वेळा।
मनख जनम हीरो हाथ नी आवे ,
नहीं आवे बारम्बारा।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,
मिले न दूजी वारा। टेर। …..


श्याम पलट ने भया रे सफेदा ,
अजे नहीं उपजी रे लाजा।
तिरिया जको नर करणी से तिरिया ,
ज्या रा सजिया काजा।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,
मिले न दूजी वारा। टेर। …..


केहनी केता नर रेहनी नी रेता ,
बिना करणी रा कैसा ध्याना।
दिल तो अपनों परमोदे नी सकता ,
अवरो ने पूछे मियाना।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,
मिले न दूजी वारा। टेर। …..


भजन करे ज्यो रे घट उजियारा ,
अकल कला रे मांय रमता।
हंसा होय हंसो री हाली हाले ,
छीलर पांव नी धरता।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,
मिले न दूजी वारा। टेर। …..


शीश उतार धरियो गुरु आगे ,
अब कुछ धोखा नाही।
पांच उलटावे एकन घर लावो ,
अणि आतम रे माहि।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,
मिले न दूजी वारा। टेर। …..


कृपा भई जद सौदा रचिया ,
संत भगत कहे साँची।
रोयल रतन अमोलक पायो ,
सिर साटे अविनाशी।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,
मिले न दूजी वारा। टेर। …..


जरूर देखे :- रे संतो ! रावळ जोगी मस्ताना

जरूर देखे :- साधु भाई ! परखो सबद टकसारा

chetawani bhajan lyrics in hindi

~ Aido Re Avasar Hath Nhi Aave ~

levna hoye to lijo mhara bhaida,
aju re levan kedi vela.
manakh janam hiro hath ni aave,
nhi aave barambara.
aido re avasar hath nhi aave,
mile ne duji vara.


shyam palat ne bhaya re safeda,
aje nhi upji re laja.
tiriya jako nar karni se tiriya,
jya ra sajiya kaja.
aido re avasar hath nhi aave,
mile ne duji vara.


kehani keta nar rehni ni reta,
bina karni ra kaisa dhyana.
dil to apno parmode ni sakta,
avro ne puche miyana.
aido re avasar hath nhi aave,
mile ne duji vara.


bhajan kare jyo re ghat ujiyara,
akal kala re may ramta.
hansa hoy hanso ri hali hale,
chhilar panv ni dharta.
aido re avasar hath nhi aave,
mile ne duji vara.


shish utar dhariyo guru aage,
ab kuch dhokha nahi.
panch ultave aikan ghar lavo,
ani aatam re mahi.
aido re avasar hath nhi aave,
mile ne duji vara.


चेतावनी भजन लिरिक्स मारवाड़ी

~ एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ~

लेवणा होये तो लीजो म्हारा भाईडा ,अजु रे लेवण केडी वेळा।
मनख जनम हीरो हाथ नी आवे ,नहीं आवे बारम्बारा।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,मिले न दूजी वारा। टेर। …..

श्याम पलट ने भया रे सफेदा ,अजे नहीं उपजी रे लाजा।
तिरिया जको नर करणी से तिरिया ,ज्या रा सजिया काजा।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,मिले न दूजी वारा। टेर। …..

केहनी केता नर रेहनी नी रेता ,बिना करणी रा कैसा ध्याना।
दिल तो अपनों परमोदे नी सकता ,अवरो ने पूछे मियाना।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,मिले न दूजी वारा। टेर। …..

भजन करे ज्यो रे घट उजियारा ,अकल कला रे मांय रमता।
हंसा होय हंसो री हाली हाले ,छीलर पांव नी धरता।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,मिले न दूजी वारा। टेर। …..

शीश उतार धरियो गुरु आगे ,अब कुछ धोखा नाही।
पांच उलटावे एकन घर लावो ,अणि आतम रे माहि।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,मिले न दूजी वारा। टेर। …..

कृपा भई जद सौदा रचिया ,संत भगत कहे साँची।
रोयल रतन अमोलक पायो ,सिर साटे अविनाशी।
एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे ,मिले न दूजी वारा। टेर। …..

भजन :- एड़ो रे अवसर हाथ नहीं आवे
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर देखे :- रे संतो ! अमी रस क्यों नहीं चखता

जरूर देखे :- संतो ! अमरलोक कुण जासी

पिछला लेखरे संतो ! रावळ जोगी मस्ताना भजन लिरिक्स | raval jogi mastana Bhajan Lyrics
अगला लेखसंतो ! एडा मूरख जग माहि भजन लिरिक्स | Santo ! Aida Murakh Jag Mahi Bhajan Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

one × four =