रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा भजन लिरिक्स | santo kehna sun le mera bhajan lyrics

529

रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा भजन लिरिक्स

रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा भजन लिरिक्स santo kehna sun le mera desi chetawani bhajan lyrics

।। दोहा ।।
कबीरा खड़ा बाजार में, सब की मांगे खेर।
ना कहु से दोस्ती, और ना कहु से बेर।


~ संतो ! केहणा सुण ले मेरा ~

अवगुण तजो गुण को पकड़ो ,
मिट जावे घोर अँधेरा।
सूरत शब्द से तार मिलावो ,
कटे जमन रा फेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….


जो तुम केहणा करे हमारा ,
कट जावे बंधन तेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….


निंदा झूठ कपट को छोडो ,
नहीं आवे जमड़ा नेडा।
सत री संगत चेतन रेहणा ,
एमी रस बरसे गेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….


उण्डा नीर अथंग जल भरिया ,
भरिया अमृत वेरा।
सुगरा होवे सो भर भर पीवे ,
नुगरा रा खाली फेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….


आगली पाछली कर ले खबरिया ,
क्या तेरा क्या मेरा।
केवे हेमनाथ सुणो भाई संतो ,
अमरलोक वेई डेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….


जरूर पढ़ें :- साधु भाई ! जग सपना वाली बाजी

जरूर पढ़ें :-  रे संतो ! काल पकड़ ले जाई

desi chetawani bhajan lyrics in hindi

~ santo kehna sun le mera ~

avgun tajo gun ko pakdo,
mit jave ghor andhera.
surat shabad se taar milavo,
kate jaman ra fera.
re santo kehna sul le mera .


jo tum kehna kare hamara,
kat jave bandhan tera.
re santo kehna sul le mera .


ninda jhuth kapat ko chhodo,
nhi aave jamada neda.
sat ri sangat chetan rehna,
ami ras barse gera.
re santo kehna sul le mera .


unda neer athang jal bhariya,
bhariya amrit vera.
sugra hove ro bhar bhar pive,
nugra ra khali fera.
re santo kehna sul le mera .


aagali pachali kar le khabariya,
kya tera kya mera.
keve hemnath suno bhai santo,
amarlok vei dera.
re santo kehna sul le mera .


जरूर पढ़ें :- छोड़ दे मनवा मन मस्ती

जरूर पढ़ें :- आ जुग मा देह अभिमान घणु

मारवाड़ी चेतावनी भजन लिरिक्स

~ रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा ~

अवगुण तजो गुण को पकड़ो ,मिट जावे घोर अँधेरा।
सूरत शब्द से तार मिलावो ,कटे जमन रा फेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….

जो तुम केहणा करे हमारा ,कट जावे बंधन तेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….

निंदा झूठ कपट को छोडो ,नहीं आवे जमड़ा नेडा।
सत री संगत चेतन रेहणा ,एमी रस बरसे गेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….

उण्डा नीर अथंग जल भरिया ,भरिया अमृत वेरा।
सुगरा होवे सो भर भर पीवे ,नुगरा रा खाली फेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….

आगली पाछली कर ले खबरिया ,क्या तेरा क्या मेरा।
केवे हेमनाथ सुणो भाई संतो ,अमरलोक वेई डेरा।
रे संतो ! केहणा सुण ले मेरा। टेर। ….

भजन :- संतो ! केहणा सुण ले मेरा
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- रमतोड़ो साधु मोयो लाल लहरिये

जरूर पढ़ें :- मन रे सत री संगत करिये

पिछला लेखसाधु भाई ! जग सपना वाली बाजी भजन लिरिक्स | sadhu bhai jag sapna wali baji bhajan lyrics
अगला लेखलीलन प्यारी तेजाजी महाराज भजन लिरिक्स | lilan pyari tejaji maharaj bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

five × 4 =