जग में कायम कुण नर रहता भजन लिरिक्स | jug me kayam kun nar rahta bhajan lyrics

909

जग में कायम कुण नर रहता भजन लिरिक्स

जग में कायम कुण नर रहता भजन लिरिक्स, jug me kayam kun nar rahta bhajan lyrics chetawani bhajan hindi lyrics

।। दोहा ।।
लागी लागी सब कहे, लागी नहीं लीगार।
लागी हरि रे नाम री, हुई कलेजे पार।


~ जुग में कायम कुण नर रहता ~

आय मानखे सोय रयो रे ,
गहरी गहरी निंद्रा लेता।
जुग भव अलप सब माया ,
चेतन क्यों नहीं होता।
जुग में कायम कुण नर रहता।


चेत चेत म्हारा मन रे दीवाना ,
पीछे फेरा क्यों नी देता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …


सुता सुता थारी आयु घटत है ,
उमर ओछी होता।
पल पल में कालिंगो कोपे ,
ऊपर घेरा देता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …


बड़ा बड़ा बलवन्ती जोधा ,
मुछा रे वट देता।
भांग दी भुजा तोड़ दिया माथा ,
कायम काट दिया खाता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …


थारी म्हारी में खलक सब खपियो ,
खोज खबर नहीं पाता।
भजन करो गुरदेव रा रे ,
भरम करम मिट जाता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …


अखे नाम किरतार रो रहसी ,
उण मालिक री सत्ता।
खोज कर ले देख ले प्राणी ,
देह झारी गल जाता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …


कहे राजाराम सुणो मेरे बंधव ,
जाग्या सो नर जीता।
जाग्या नर परम पद पाया ,
मूरख रह गया रीता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …


जरूर पढ़ें :- राधे कृष्णा बोल तेरा क्या लगेगा मोल

जरूर पढ़ें :- गुथ लाई मालन सेवरा

chetawani bhajan hindi lyrics

~ jug me kayam kun nar rahta ~

aay mankhe soy ryo re,
gahri gahri nidra leta.
jug bhav alap sab maya,
chetan kyu nhi hota.
jag me kayam kun nar rahta.


chet chet mhara man re diwana,
piche fera kyu ni deta.
jug me kayam kun nar rahta.


suta suta thari aayu ghatat hai,
umar ochi hota.
pal pal me kalingo kope,
upar ghera deta.
jag me kayam kun nar rahta.


bada bada balvanti jodha,
mucha re vat deta.
bhang di bhuja tod diya matha,
kayam kat diya khata.
jug me kayam kun nar rahta.


thari mhari me khalak sab khapiyo,
khoj khabar nhi pata.
bhajan karo gurdev ra re,
bharam karam mit jata.
jug me kayam kun nar rahta.


akhe naam kirtar ro rahsi,
un malik ri satta.
khoj kar le dekh le prani,
deh jhari gal jata.
jug me kayam kun nar rahta.


kahe rajaram suno mere bandhav,
jagya so nar jeeta.
jagya nar param pad paya,
murakh rah gaya reeta.
jug me kayam kun nar rahta.


जरूर पढ़ें :-साधु भाई ऐसी चाय चलाई

जरूर पढ़ें :- करो हरी का भजन प्यारे

राजस्थानी चेतावनी भजन लिरिक्स

~ जग में कायम कुण नर रहता ~

आय मानखे सोय रयो रे ,गहरी गहरी निंद्रा लेता।
जुग भव अलप सब माया ,चेतन क्यों नहीं होता।
जुग में कायम कुण नर रहता।

चेत चेत म्हारा मन रे दीवाना ,पीछे फेरा क्यों नी देता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …

सुता सुता थारी आयु घटत है ,उमर ओछी होता।
पल पल में कालिंगो कोपे ,ऊपर घेरा देता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …

बड़ा बड़ा बलवन्ती जोधा ,मुछा रे वट देता।
भांग दी भुजा तोड़ दिया माथा ,कायम काट दिया खाता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …

थारी म्हारी में खलक सब खपियो ,खोज खबर नहीं पाता।
भजन करो गुरदेव रा रे ,भरम करम मिट जाता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …

अखे नाम किरतार रो रहसी ,उण मालिक री सत्ता।
खोज कर ले देख ले प्राणी ,देह झारी गल जाता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …

कहे राजाराम सुणो मेरे बंधव ,जाग्या सो नर जीता।
जाग्या नर परम पद पाया ,मूरख रह गया रीता।
जुग में कायम कुण नर रहता। टेर। …

bhagwat suthar ke bhajan lyrics

भजन :- जुग में कायम कुण नर रहता
गायक :- भगवत सुथार
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- घट घट में उजियारा

जरूर पढ़ें :- माटी में मिले माटी पानी में पानी

पिछला लेखराधे कृष्णा बोल तेरा क्या लगेगा मोल भजन लिरिक्स | radhe krishna bol tera kya lagega mol bhajan lyrics
अगला लेखहरि भजवा रे काज बनायो मोहन मंदरियो भजन लिरिक्स | Ram Bhajan Ke Kaj Banayo mohan mandiriye bhajan lyrics

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

twenty + 1 =