साधु भाई ऐसी चाय चलाई भजन लिरिक्स | sadhu bhai aisi chai chalai bhajan lyrics

1917

साधु भाई ऐसी चाय चलाई भजन लिरिक्स

साधु भाई ऐसी चाय चलाई भजन लिरिक्स, sadhu bhai aisi chai chalai bhajan lyrics, chetawani bhajan lyrics

।। दोहा ।।
तुलसी भरोसे राम के, निर्भय होके सोय।
अनहोनी होनी नहीं, होनी हो सो होय।


~ साधु भाई ऐसी चाय चलाई ~

साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई।
ऐसी चाय मालिक ले राखो ,
जनम मरण मिट जाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई।


उठ कर सुबह होटल में जावे ,
चाय बणा दे भाई।
शक्कर कमती पत्ती सलेरी ,
रंग गहरो ले आई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …


सुलो सुलो आवाज लगावे ,
चाय बनियक नाहिं।
पलक एक अब रयो नी जावे ,
तड़प तड़प जिव जाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …


ऐसी चाय फैली घर घर में ,
कोई टलने नहीं पाई।
पिये चाय प्रेम से बोले ,
जल्दी सुस्ती उड़ जाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …


ऐ तो चाय सभी के लागु ,
आ छोड़ी नहीं जाई।
बाबू करे चाय री शोभा ,
पियो थे खूब सवाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …


जरूर पढ़ें :- करो हरी का भजन प्यारे

जरूर पढ़ें :- घट घट में उजियारा साधु भाई

chetawani bhajan lyrics in hindi

~ sadhu bhai aisi chai chalai ~

sadhu bhai aisi chay chalai.
aisi chay malik le rakho,
janam maran mit jai .
sadhu bhai aisi chay chalai.


uth kar subah hotal me jave,
chay bana de bhai.
shakkar kamti patti saleri,
rang gahro le aai.
sadhu bhai aisi chay chalai.


sulo sulo aavaj lagave,
chay baniyak nahi.
palak ek ab ryo ni jave,
tadap tadap jiv jai.
sadhu bhai aisi chay chalai.


aisi chay faili ghar ghar me,
koi talne nhi paai.
piye chay prem se bole,
jaldi susti uth jai.
sadhu bhai aisi chay chalai.


ai to chay sabhi ke lagu,
aa chhodi nhi jaai.
babu kare chay ri sobha,
piyo the sub sawai.
sadhu bhai aisi chay chalai.


जरूर पढ़ें :- माटी में मिले माटी पानी में पानी

जरूर पढ़ें :- थारो लेखो लेवेला राई राई रो

चेतावनी भजन लिरिक्स मारवाड़ी

~ साधु भाई ऐसी चाय चलाई ~

साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई।
ऐसी चाय मालिक ले राखो ,जनम मरण मिट जाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई।

उठ कर सुबह होटल में जावे ,चाय बणा दे भाई।
शक्कर कमती पत्ती सलेरी ,रंग गहरो ले आई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …

सुलो सुलो आवाज लगावे ,चाय बनियक नाहिं।
पलक एक अब रयो नी जावे ,तड़प तड़प जिव जाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …

ऐसी चाय फैली घर घर में ,कोई टलने नहीं पाई।
पिये चाय प्रेम से बोले ,जल्दी सुस्ती उड़ जाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …

ऐ तो चाय सभी के लागु ,आ छोड़ी नहीं जाई।
बाबू करे चाय री शोभा ,पियो थे खूब सवाई।
साधु भाई ! ऐसी चाय चलाई। टेर। …

desi marwadi bhajan lyrics

भजन :- साधु भाई ऐसी चाय चलाई
गायक :- पीयूष
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- मनवा भूल गयो ईश्वर ने

जरूर पढ़ें :- दो दिन का जग में मेला

पिछला लेखकरो हरी का भजन प्यारे उमरिया बीती जाती है भजन लिरिक्स | karo hari ka bhajan pyare bhajan lyrics
अगला लेखगुथ लाई मालन सेवरा भजन लिरिक्स | guth lai malan sevra bhajan lyrics

5 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

thirteen − 11 =