इन रे काया रो हिण्डोलो रचीयो भजन लिरिक्स | In Re Kaya Ro Hindolo Rachiyo Bhajan Lyrics

308

इन रे काया रो हिण्डोलो रचीयो भजन लिरिक्स

इन रे काया रो हिण्डोलो रचीयो भजन लिरिक्स, In Re Kaya Ro Hindolo Rachiyo desi chetawani bhajan lyrics

।। दोहा ।।
पढ़ पढ़कर पत्थर भई, पत्थर पूजन जाय।
घर की चाकी ना पूजे, जां में पीसो खाय।


~ इण काया रो हिंडोलों रचियो ~

इण काया रो हिंडोलो रचियो ,
डगमग झोला खाए रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।

चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,
भव सागर रे मायें रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।


काया वाड़ी रो किल्लो रे होसी ,
आँख फरुखी जाए रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,
भव सागर रे मायें रे। टेर। ….


बाळपणो बचपन में खोयो ,
जोबन रळियो जावे रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,
भव सागर रे मायें रे। टेर। ….


बूढ़ो होयो जद माला रे पकड़ी ,
जिव री काहि गति होवे रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,
भव सागर रे मायें रे। टेर। ….


इण मारगिये कई नर सोया ,
तोरल साधु सुनावे रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,
भव सागर रे मायें रे। टेर। ….


गुरु परताप बोले रूपा दे ,
माल दे ने विनती सुनाई रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,
भव सागर रे मायें रे। टेर। ….


जरूर पढ़ें :- आराम के साथी क्या क्या थे

जरूर पढ़ें :- मन लोभी जिवडा हो गयो मोड़ो

desi chetawani bhajan lyrics in hindi

~ In Re Kaya Ro Hindolo Rachiyo ~

in kaya ro hindolo rachiyo,
dagmag jhola khay re .
manva chet chalo bhai re.


chete ne chalo bira par lag javo,
bhav sagar re maaye re.
manva chet chalo bhai re.


kaya wadi ro killo re hosi,
aankh farukhi jaay re.
manva chet chalo bhai re.
chete ne chalo bira par lag javo,
bhav sagar re maaye re.


labpano bachpan me khoyo,
joban raliyo jave re.
manva chet chalo bhai re.
chete ne chalo bira par lag javo,
bhav sagar re maaye re.


dudho hoyo jad mala re pakadi,
jiv ri kahi gati hove re.
manva chet chalo bhai re.
chete ne chalo bira par lag javo,
bhav sagar re maaye re.


en margiye kai nar soya,
toral sadhu sunave re.
manva chet chalo bhai re.
chete ne chalo bira par lag javo,
bhav sagar re maaye re.


guru partap bole rupa de,
mal de ne vinti sunai re .
manva chet chalo bhai re.
chete ne chalo bira par lag javo,
bhav sagar re maaye re.


जरूर पढ़ें :- में तो हीरो गमादियो कचरा में

जरूर पढ़ें :- जाति रो कारण है नहीं संतो

मारवाड़ी देसी चेतावनी भजन लिरिक्स

~ इन रे काया रो हिण्डोलो रचीयो ~

इण काया रो हिंडोलो रचियो ,डगमग झोला खाए रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।

चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,भव सागर रे मायें रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।

काया वाड़ी रो किल्लो रे होसी ,आँख फरुखी जाए रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,भव सागर रे मायें रे। टेर। ….

बाळपणो बचपन में खोयो ,जोबन रळियो जावे रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,भव सागर रे मायें रे। टेर। ….

बूढ़ो होयो जद माला रे पकड़ी ,जिव री काहि गति होवे रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,भव सागर रे मायें रे। टेर। ….

इण मारगिये कई नर सोया ,तोरल साधु सुनावे रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,भव सागर रे मायें रे। टेर। ….

गुरु परताप बोले रूपा दे ,माल दे ने विनती सुनाई रे।
मनवा ! चेत चालो भाई रे।
चेते ने चालो बीरा पार लग जावो ,भव सागर रे मायें रे। टेर। ….

prakash mali ka bhajan lyrics

भजन :- इण काया रो हिंडोलों रचियो
गायक :- प्रकाश माली
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- मैं तो उन रे संता रो हूँ दास

जरूर पढ़ें :- दौड़ा जाए रे समय का घोड़ा

पिछला लेखपूरण प्रेम लगा दिल में तब नेम का बंधन छूट गया भजन लिरिक्स | puran prem laga dil me tab bhajan lyrics
अगला लेखदो दिन का जग में मेला सब चला चली का खेला भजन लिरिक्स | do din ka jag me mela bhajan lyrics

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

nine − eight =