पग रे बांध ने उन्दा रे लटके यु कई रामजी मिलता भजन लिरिक्स | pag bandh ne unda re latke bhajan lyrics

517

पग रे बांध ने उन्दा रे लटके यु कई रामजी मिलता भजन लिरिक्स

पग रे बांध ने उन्दा रे लटके यु कई रामजी मिलता भजन लिरिक्स, pag bandh ne unda re latke desi chetawani bhajan lyrics

।। दोहा ।।
गुरु सेवा जन बंदगी, अर सत्संग वैराग।
ये चारो जब ही मिले, पूरण हो ये भाग।


~ पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ~

पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,
पछे यु काही रामजी मिलता रे।
कायानगर रा रंग महल में ,
नौबत नगाड़ा बजता रे।
हाथ जोड़ मगन में रहता ,
सांवरियो सन्मुख रहता रे। ।
काया नगर रा रंग महल में ,
नौबत नगाड़ा बजता रे।


नकली साधु रो वेष पेर ने ,
घर घर अलख जगाता रे।
नहीं रे देवे तो माथा फोड़े ,
पछे यु कई रामजी मिलता रे।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,
पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …


ब्रह्मा रे होय ने वेद है बांचे ,
खान्धे खड़िया रखता रे।
दूजा घरा री राय बतावे ,
पछे घर का क्यों मर जाता है।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,
पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …


मुल्ला रे बन ने हाका रे मारे ,
पछे यु काही अल्ला मिलता रे।
कीड़ी रे पग में झांझर बाजे ,
वो ही रामजी सुनता रे।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,
पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …


केवे कमाली कबीर सा री चेली ,
आवागमन क्यों रखता है।
काया नगर रा रंग महल में ,
नौबत नगाड़ा बजता रे।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,
पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …


जरूर पढ़ें :- फस गयो मकड़ी का झाला में

जरूर पढ़ें :-  कोई बतावो जोगी आवतो

desi chetawani bhajan lyrics in hindi

~ pag bandh ne unda re latke ~

pag re bandhe ne unda re latke,
pache yu kai ramji milta re.
kaya nagar ra rang mahal me,
nobat nagada bajata re.
hath jod magan me rahta,
sanwariyo sanmukh rahta re.
kaya nagar ra rang mahal me,
nobat nagada bajta re.


nakli sadhu ro vesh per ne,
ghar ghar alakh jagata re.
nhi re deve to matha fode,
pache yu kai ramji milta re.
pag re bandh ne unda re latke,
pache yu kai ramji milta re.


brahma re hoy ne ved hai banche,
khandhe khadiyya rakhta re.
duja ghara ri ray batave,
pache ghar ka kyu mar jata hai.
pag re bandh ne unda re latke,
pache yu kai ramji milta re.


mulla re ban ne haka re mare,
pache yu kahi alla milta re.
kidi re pag me jhanjhar baje,
wo hi ramji sunta re.
pag re bandh ne unda re latke,
pache yu kai ramji milta re.


keve kamali kabri sa ri cheli,
avagaman kyu rakhta hai.
kaya nagar ra rang mahal me,
nobat nagada bajta re.
pag re bandh ne unda re latke,
pache yu kai ramji milta re.


जरूर पढ़ें :- शरणो सतगुरा रो सांचो

जरूर पढ़ें :-  लिख दिया विधाता लेख

राजस्थानी मारवाड़ी चेतावनी भजन लिरिक्स

~ पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ~

पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,पछे यु काही रामजी मिलता रे।
कायानगर रा रंग महल में ,नौबत नगाड़ा बजता रे।
हाथ जोड़ मगन में रहता ,सांवरियो सन्मुख रहता रे। ।
काया नगर रा रंग महल में ,नौबत नगाड़ा बजता रे।

नकली साधु रो वेष पेर ने ,घर घर अलख जगाता रे।
नहीं रे देवे तो माथा फोड़े ,पछे यु कई रामजी मिलता रे।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …

ब्रह्मा रे होय ने वेद है बांचे ,खान्धे खड़िया रखता रे।
दूजा घरा री राय बतावे ,पछे घर का क्यों मर जाता है।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …

मुल्ला रे बन ने हाका रे मारे ,पछे यु काही अल्ला मिलता रे।
कीड़ी रे पग में झांझर बाजे ,वो ही रामजी सुनता रे।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …

केवे कमाली कबीर सा री चेली ,आवागमन क्यों रखता है।
काया नगर रा रंग महल में ,नौबत नगाड़ा बजता रे।
पग रे बांध ने उन्दा रे लटके ,पछे यु काही रामजी मिलता रे। टेर। …

bhagwat suthar ke bhajan

भजन :- पग रे बांध ने उन्दा रे लटके
गायक :- भगवत सुथार
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- मेरे मालिक की दुकान में

जरूर पढ़ें :- सैया सतगुरु भले आया है

पिछला लेखनहीं चाहिए दिल दुखाना किसी का भजन लिरिक्स | nahi chahiye dil dukhana kisi ka bhajan lyrics
अगला लेखमालिक ने भजो रे गिंवारा मत भूलो रे बारम्बारा भजन लिरिक्स | Saheb Ne Bhajo Gawara bhajan lyrics

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

two × five =