मनवा राखे नी विश्वास रामजी ने भूले काई रे भजन लिरिक्स | manva rakhe ni vishwas bhajan lyrics

973

मनवा राखे नी विश्वास रामजी ने भूले काई रे भजन लिरिक्स

मनवा राखे नी विश्वास रामजी ने भूले काई रे भजन लिरिक्स, manva rakhe ni vishwas desi bhajan lyrics in hindi

।। दोहा ।।
सुन्दर चिंता मत करे, काहे को बिबलाय।
पेट दिया जिन राम ने, आप देवेला आय।


~ मनवा राखे नी विश्वास ~

मनवा राखे नी विश्वास ,
रामजी ने भूले काहि रे।
भूले काहि रे राम ने भूले काहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,
रामजी ने भूले काहि रे।


नव दस मास गरभ में भाई ,
आफत खाई रे।
जन्म्या पेला दूध थना में ,
पीवा ताहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,
रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …


कीड़ी ने कण देवे साँवरो मण ,
हाथी ताहि रे।
अजगर पड़ियो उजाड़ में ,
जीने पुरे साईं रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,
रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …


जल में पुरे थल में पुरे ,
पहाड़ो रे माहि रे।
चुगवा ने मोती मिले भाई ,
हंसा ताहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,
रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …


रामानंद गुरु पूरा मिलिया ,
सेण बताई रे।
कहत कबीर सुणो भाई संतो ,
धोखा नाहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,
रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …


जरूर पढ़ें :- थारी चुनड़ली रा चटका

जरूर पढ़ें :- हालो दीवाना यहाँ क्यों बैठा 

desi bhajan lyrics in hindi

~ manva rakhe ni vishwas ~

manva rakhe ni vishvas,
ramji ne bhule kahi re.
bhule kahi re ram ne bhule kahi re.
manva rakhe ni vishvas,
ramji ne bhule kahi re.


nav das mas garabh me bhai,
aafat khai re.
janmya pela dhudh thana me,
piva tahi re.
manva rakhe ni vishvas,
ramji ne bhule kahi re.


kidi ne kan deve sanwro man,
hathi tahi re.
ajagar padiyo ujad me,
jine pure sai re.
manva rakhe ni vishvas,
ramji ne bhule kahi re.


jal me pure thal me pure,
pahado re mahi re.
chugva ne moti mile bhai,
hansa tahi re.
manva rakhe ni vishvas,
ramji ne bhule kahi re.


ramanand guru pura miliya,
sen batai re.
kahat kabir suno bhai santo,
dhokha nahi re.
manva rakhe ni vishvas,
ramji ne bhule kahi re.


जरूर पढ़ें :- जो थारो मनवो कियो नही माने

जरूर पढ़ें :- क्यों नैना भरमावे जी

चेतावनी भजन लिरिक्स मारवाड़ी

~ मनवा राखे नी विश्वास ~

मनवा राखे नी विश्वास ,रामजी ने भूले काहि रे।
भूले काहि रे राम ने भूले काहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,रामजी ने भूले काहि रे।

नव दस मास गरभ में भाई ,आफत खाई रे।
जन्म्या पेला दूध थना में ,पीवा ताहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …

कीड़ी ने कण देवे साँवरो मण ,हाथी ताहि रे।
अजगर पड़ियो उजाड़ में ,जीने पुरे साईं रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …

जल में पुरे थल में पुरे ,पहाड़ो रे माहि रे।
चुगवा ने मोती मिले भाई ,हंसा ताहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …

रामानंद गुरु पूरा मिलिया ,सेण बताई रे।
कहत कबीर सुणो भाई संतो ,धोखा नाहि रे।
मनवा राखे नी विश्वास ,रामजी ने भूले काहि रे। टेर। …

moinuddin manchala ke bhajan

भजन :- मनवा राखे नी विश्वास
गायक :- मोइनुद्दीन मनचला
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- तेरा कब कब आना होई

जरूर पढ़ें :- मारवाड़ रो पीर बानिया

पिछला लेखथारी चुनड़ली रा चटका है दिन चार पुराणी पड़सी चुनडली भजन लिरिक्स | thari chunadli ra chatka hai din char bhajan lyrics
अगला लेखजिणरो परमारथ म्हारो जूनो जोगी जाणे भजन लिरिक्स | jinro parmarath mharo juno jogi jane bhajan lyrics

3 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

4 × four =