हालो दीवाना यहाँ क्यों बैठा आगे तो मौज मजा की है भजन लिरिक्स | Halo Deewana Yaha Kyu Betha bhajan lyrics

1589

हालो दीवाना यहाँ क्यों बैठा आगे तो मौज मजा की है भजन लिरिक्स

हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा आगे तो मौज मजा की है भजन लिरिक्स Halo Deewana Yaha Kyu Betha rajasthani nirguni bhajan

।। दोहा ।।
डोरी टूटी असमान से, कोई नहीं सकता झेल।
साधु सती ने शूरमा, नर अनिया ऊपर खेल।


~ हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ~

हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,
आगे तो मौज मजा की है।
साँचा गुरूजी रा साँचा रे चेला ,
झूठा ने माया खा गई है। ओ जी।


सतगुरु दाता सेण बताई ,
म्हारी सुरता सुन्दरी जागी है।
अणघड फेरा फिरवा ओ लागी ,
वाने पिछम दिशा ले भागी है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,
आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….


लेयर पिया ने सूती सेज में ,
करवट लेकर जागी है।
ओहम सोहम दोई ढोल बजावे ,
सूरज उगण ने लागी है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,
आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….


अष्ट द्वादश जाकर देख्या ,
अबे झिलमिल ज्योति जागी है।
त्रिवेणी री घाटी लांघता ,
सोहन शिखर गढ़ आ गई है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,
आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….


शंकर सामी सेण बताई ,
असंख जुगा से आगी है।
रामो रे दुर्बल गुरूजी रे शरणे ,
म्हारी सूती रे नगरी जागी है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,
आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….


जरूर पढ़ें :- जो थारो मनवो कियो नही माने

जरूर पढ़ें :- क्यों नैना भरमावे जी

rajasthani nirguni bhajan lyrics

~ Halo Deewana Yaha Kyu Betha ~

halo re diwana yaha kyu baitha,
aage to moj maja ki hai.
sancha guruji ra sancha re chela,
jhutha ne maya kha gai hai.


satguru data sen batai,
mhari surta sundari jagi hai.
anghad fera firva o lagi,
vane picham disha le bhagi hai.
halo re diwana yaha kyu baitha,
aage to moj maja ki hai.


leyar piya ne suti sej me,
karvat lekar jagi hai.
om soham doi dhol bajave,
suraj ugan ne lagi hai.
halo re diwana yaha kyu baitha,
aage to moj maja ki hai.


asth dwadash jakar dekhya,
abe jhilmil jyoti jagi hai.
triveni ri ghati langhta,
sohan shikhar gad aa gai hai.
halo re diwana yaha kyu baitha,
aage to moj maja ki hai.


shankar sami sen batai,
asankh juga se aagi hai.
ramo re durbal guruji re sharne,
mhari suti re nagari jagi hai.
halo re diwana yaha kyu baitha,
aage to moj maja ki hai.


जरूर पढ़ें :- तेरा कब कब आना होई 

जरूर पढ़ें :- मारवाड़ रो पीर बानिया

निर्गुणी भजन लिरिक्स इन हिंदी

~ हालो दीवाना यहाँ क्यों बैठा ~

हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,आगे तो मौज मजा की है।
साँचा गुरूजी रा साँचा रे चेला ,झूठा ने माया खा गई है। ओ जी।

सतगुरु दाता सेण बताई ,म्हारी सुरता सुन्दरी जागी है।
अणघड फेरा फिरवा ओ लागी ,वाने पिछम दिशा ले भागी है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….

लेयर पिया ने सूती सेज में ,करवट लेकर जागी है।
ओहम सोहम दोई ढोल बजावे ,सूरज उगण ने लागी है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….

अष्ट द्वादश जाकर देख्या ,अबे झिलमिल ज्योति जागी है।
त्रिवेणी री घाटी लांघता ,सोहन शिखर गढ़ आ गई है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….

शंकर सामी सेण बताई ,असंख जुगा से आगी है।
रामो रे दुर्बल गुरूजी रे शरणे ,म्हारी सूती रे नगरी जागी है। ओजी।
हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा ,आगे तो मौज मजा की है। टेर। ….

suresh lohar nirguni bhajan

भजन :- हालो रे दीवाना यहाँ क्यों बैठा
गायक :- सुरेश लोहार
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- भक्ति जोर जबर मेरा भाई

जरूर पढ़ें :- काची नींद के माय अचानक

पिछला लेखजो थारो मनवो कियो नही माने दोष गुरा ने मत दीजे भजन लिरिक्स | Bhakti raji vene kije bhajan lyrics
अगला लेखथारी चुनड़ली रा चटका है दिन चार पुराणी पड़सी चुनडली भजन लिरिक्स | thari chunadli ra chatka hai din char bhajan lyrics

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

3 × four =