कलाली भर लादे प्यालो सेज में घूमे मतवालों भजन लिरिक्स | Kalali bhar lade pyalo bhaajn lyrics

882

कलाली भर लादे प्यालो सेज में घूमे मतवालों भजन लिरिक्स

कलाली भर लादे प्यालो सेज में घूमे मतवालों भजन लिरिक्स Kalali bhar lade pyalo bheru ji bhajan lyrics in hindi

।। दोहा ।।
दारू पियो थे रंग करो, और राता राखो नैन।
लोक थारा जनम रे, तो सुख पावेला सेन।


~ कलाली भर लादे प्यालो ~

कलालण भर लादे प्यालो ,
सेज पर घूमे मतवालों।


दारू मिठो दाखलो सा ,
चौपड़ मीठी साग।
सेठा मीठी कामणी ,
रण में की तलवार।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,
सेज पर घूमे मतवालों। टेर।


छोला पीवे छतर पति सा ,
भांग पीवे भोपा।
अमल अरोखे चूरमा ,
दारुडो पीवे रे कलाल।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,
सेज पर घूमे मतवालों। टेर।


थू कलालण नागौर री सा ,
मारी गली मत आव।
थारी रे मायड़ बाजड़ी ,
भंवर सा रो जूनो रे सवाग।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,
सेज पर घूमे मतवालों। टेर।


भम भम मेला में चढ़ी सा ,
फूल पिया दो हाथ।
बागलो बतलाया नहीं रे ,
विष का सारो री रे रात।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,
सेज पर घूमे मतवालों। टेर।


दारू अनोखो रंग करो सा ,
राता राखो नैन।
लोक थारा जनम रे,
तो सुख पावेला सेन।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,
सेज पर घूमे मतवालों। टेर।


जरूर पढ़ें :- कालो भेरू कला में खेले

जरूर पढ़ें :- थारे पगे गुगरियाली माल

bheru ji bhajan lyrics in hindi

~ Kalali bhar lade pyalo ~

kalalan bhar lade pyalo,
sej par ghume matwalo.


daru mitho dakhlo sa,
chopad mithi saag.
setha mithi kamani,
ram me ki talwar.
kalalan mari bhar lade pyalo,
sej par ghume matwalo.


chhola pive chatar pati sa,
bhang pive bhopa.
amal arokhe churma,
darudo pive re kalal.
kalalan mari bhar lade pyalo,
sej par ghume matwalo.


thu kalalan nagori ri sa,
mari gali mat aav.
thari re mayad bajdi,
bhanvar sa ro juno re savag.
kalalan mari bhar lade pyalo,
sej par ghume matwalo.


bham bham mela me chadi sa,
ful piya do hath.
baglo batlay nhi re,
vish ka saro ri re rat.
kalalan mari bhar lade pyalo,
sej par ghume matwalo.


daru anokho rang karo sa,
raata rakho nain.
lok thara janam re,
to sukh pavela sen.
kalalan mari bhar lade pyalo,
sej par ghume matwalo.


जरूर पढ़ें :- देवी रो अगवानी भेरुजी 

जरूर पढ़ें :- सोनाणा वाला जाग ले

राजस्थानी भेरुजी के भजन लिरिक्स

~ कलाली भर लादे प्यालो ~

कलालण भर लादे प्यालो ,सेज पर घूमे मतवालों।

दारू मिठो दाखलो सा ,चौपड़ मीठी साग।
सेठा मीठी कामणी ,रण में की तलवार।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,सेज पर घूमे मतवालों। टेर।

छोला पीवे छतर पति सा ,भांग पीवे भोपा।
अमल अरोखे चूरमा ,दारुडो पीवे रे कलाल।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,सेज पर घूमे मतवालों। टेर।

थू कलालण नागौर री सा ,मारी गली मत आव।
थारी रे मायड़ बाजड़ी ,भंवर सा रो जूनो रे सवाग।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,सेज पर घूमे मतवालों। टेर।

भम भम मेला में चढ़ी सा ,फूल पिया दो हाथ।
बागलो बतलाया नहीं रे ,विष का सारो री रे रात।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,सेज पर घूमे मतवालों। टेर।

दारू अनोखो रंग करो सा ,राता राखो नैन।
लोक थारा जनम रे, तो सुख पावेला सेन।
कलालण मारी भर लादे प्यालो ,सेज पर घूमे मतवालों। टेर।

bheru matwala ke bhajan

भजन :- कलाली भर लादे प्यालो
गायक :- unknown
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- खोळे खेले खेतलो माँ काळी

जरूर पढ़ें :- मण्डोवर री बाड़ियाँ सु

पिछला लेखरमता जोगी ने मारा आदेश देना रे भजन लिरिक्स | ramta jogi ne mara aadesh dena re bhajan lyrics
अगला लेखमारी जोगणिया जगदंबा थे आजो म्हारे पावणी भजन लिरिक्स | jagdamba the aajo mare pavani bhajan lyrics

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

five + three =