जगदम्बा मैया सुण लो अरज हमारी भजन लिरिक्स | jagdamba maiya araj sun lo hamari bhajan lyrics

224

जगदम्बा मैया सुण लो अरज हमारी भजन लिरिक्स

जगदम्बा मैया सुण लो अरज हमारी भजन लिरिक्स jagdamba maiya araj sun lo hamari jagdamba mata ke bhajan lyrics

~ जगदम्बा सुणलो अरज हमारी ~

ब्राह्मणी मैया सुणलो अरज हमारी ,
में आयो शरण तुम्हारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी।


साँझ सवेरे मंदिर आपरे ,
आवे नर और नारी।
संकट हरो मेरो मैय्या ,
सुण लो अरज हमारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।


घिरत मिठाई भोग आपरे ,
चढ़े है निस दिन भारी।
सेवक आपरी करे आरती ,
सुध बुध दो मोए सारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।


शंख नगाड़ा झालर बाजे ,
मंदिर में हद भारी।
सच्चे प्रेम सु करे थारी भक्ति ,
संतन की रखवारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।


सिंह असवारी करो म्हारी मैय्या ,
भेरू आज्ञाकारी।
बाबू आयो शरण आपरी ,
थे राखो लाज हमारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।


जरूर पढ़ें :- भगता ऊपर बंक्यारानी

जरूर पढ़ें :- सच्चियाय माताजी ने बार बार वंदना

jagdamba mata ke bhajan lyrics in hindi

~ jagdamba maiya araj sun lo hamari ~

brahamani maiya sunlo araj hamari,l
me aayo sharan tumhari.
jagdamba maiya sunlo araj hamari.


sanjh savere mandir aapre,
aave nar or nari.
sankat haro mero maiya,
sunlo araj hamari.
jagdamba maiya sunlo araj hamari.


ghirat mithai bhog aapre,
chade hai nis din bhari.
sevak aapri kare aarti,
sudh budh do moa sari.
jagdamba maiya sunlo araj hamari.


shankh nagada jhalar baje,
mandir me had bhari.
sachche prem su kare thari bhakti,
santan ki rakhwari.
jagdamba maiya sunlo araj hamari.


singh aswari karo mhari maiya,
bheru aagyakari.
babu aayo sharan aapri,
the rakho laj hamari.
jagdamba maiya sunlo araj hamari.


जरूर पढ़ें :- बिलाड़ा में जावणा

जरूर पढ़ें :- तेरस आई चांदनी

माता रानी के भजन लिरिक्स

~ जगदम्बा मैया सुण लो अरज हमारी ~

ब्राह्मणी मैया सुणलो अरज हमारी ,में आयो शरण तुम्हारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी।

साँझ सवेरे मंदिर आपरे ,आवे नर और नारी।
संकट हरो मेरो मैय्या ,सुण लो अरज हमारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।

घिरत मिठाई भोग आपरे ,चढ़े है निस दिन भारी।
सेवक आपरी करे आरती ,सुध बुध दो मोए सारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।

शंख नगाड़ा झालर बाजे ,मंदिर में हद भारी।
सच्चे प्रेम सु करे थारी भक्ति ,संतन की रखवारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।

सिंह असवारी करो म्हारी मैय्या ,भेरू आज्ञाकारी।
बाबू आयो शरण आपरी ,थे राखो लाज हमारी।
जगदम्बा मैया सुणलो अरज हमारी। टेर।

जगदंबा माता जी के भजन

भजन :- अरज सुनलो हमारी
गायक :- unknown
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- खोल आडो खोल

जरूर पढ़ें :- हिरदा में रेवो भवानी 

पिछला लेखभगता ऊपर बंक्यारानी छतर छाया राखजो भजन लिरिक्स | bhagta upar bankyarani chatar chaya rakh jo bhajan lyrics
अगला लेखयहाँ वहाँ जहाँ तहाँ मत पूछो कहाँ कहाँ भजन लिरिक्स | yaha waha jaha taha mat pucho kaha kaha bhajan lyrics

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

4 + eighteen =