जय जय जय जगदम्बे माता भजन लिरिक्स | jai jai jai jagdambe mata bhajan lyrics

517

जय जय जय जगदम्बे माता भजन लिरिक्स

जय जय जय जगदम्बे माता भजन लिरिक्स jai jai jai jagdambe mata bhajan lyrics mata ji ke bhajan hindi lyrics

।। दोहा ।।
देवो में देवो बड़ी, और बड़ी जगदम्बा माय।
हाथ जोड़ विनती करू, तो कीजो म्हारी स्याय।


~ जय जय जय जगदम्बे माता ~

जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी।
जय जय जय चामुण्डा माता ,
गुण देवी रा गावा जी।


मात भवानी रक्षा करजो ,
म्हे टाबर हो थारा जी।
जगदम्बे जग जननी माता ,
राखो छतर छाया जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


मोटा मोटा रागस मारिया ,
मोटी थारी बलिहारी।
मृगमद टीको माथा ऊपर ,
नथनी मोट्या वाली जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


घेर घुमाळो पहर गागरो ,
ओढ़न दिखनी चीर जी।
दो हाथो में खांडो खप्पर ,
एक हाथ त्रिशूल जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


सिंह सवारी आप विराजो ,
हिवड़े नवसर हार जी।
ऊँचे भाखर आप प्रकटिया ,
सुन्धा नाम केवायो जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


आबू परवत शिखर ऊपर ,
अधर देवी प्यारी जी।
पावागढ़ में अम्बाजी रे ,
दर्शन री बलिहारी जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


कलकत्ता री काली माता ,
जगमग दिवला जागे जी।
जोधाणा री चामुण्डा माँ ,
करणी माता ध्यावा जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


चढ़े खारक खोपरा ने ,
लीलड़ीया नारेल जी।
धूमधाम थारी पूजा रे होवे ,
दिवला जोत जगाई जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


जगतम्बा जग जननी माता ,
भक्त उबारण वाली जी।
दूर दूर सु आवे जातरू ,
गुण गावे नर नारी जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


ढोलक ताल मृदंग रे बाजे ,
झालर संख नगाड़ा जी।
हाथ जोड़ ने करू आरती ,
शरणे शीश नवावा जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


मोहन लाल री विनती माँ ,
नैया पार लगावो जी।
जगदम्बे जग जननी माता ,
भक्त उबारण वाली जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,
गीत आपरा गावा जी। टेर।


जरूर पढ़ें :- सब जग तेरा दास भवानी 

जरूर पढ़ें :- रिमझिम रिमझिम करती मारी

mata ji ke bhajan hindi lyrics

~ jai jai jai jagdambe mata ~

jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.
jai jai jai chamunda mata,
gun devi ra gava ji.


maat bhavani raksha karjo,
mhe tabar ho thara ji.
jagdambe jag janani mata,
rakho chatar chaya ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


mota mota ragas mariya,
moti thari balihari.
mrigmad tiko matah upar,
nathani motya wali ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


gher ghumalo pahar gagro,
odhan dikhni cheer ji .
do hath me khando khappar,
ek hath trishul ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


singh sawari aap virajo,
hivde navsar har ji.
unche bhakhar aap praktiya,
sundha naam kevayo ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


aabu parvat sikhar upar,
adhar devi pyari ji.
pavaghadh me ambaji re,
darshan ri balihari ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


kalkatta ri kali mata,
jagmag diwala jage ji.
jodhana ri chamunda ma,
karani mata dhyava ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


chade kharak khopra ne ,
lildiya narel ji.
dhumdham thari puja re hove,
diwla jot jagai ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


jagtamba jag janani mata,
bhakt ubaran wali ji.
dur dur su aave jatru,
gun gave nar nari ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


dholak tal mridang re baje,
jhalar sankh nagada ji.
hath jod ne karu aarti,
sharne shish navava ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


mohan lal ri vinti ma,
naiya paar lagavo ji.
jagdambe jag janani mata,
bhakt ubaran wali ji.
jai jai jai jagdambe mata,
geet aapra gava ji.


जरूर पढ़ें :- म्हाने दुर्गा रूप दिखा म्हारी माँ 

जरूर पढ़ें :- हालो रे हालो आई माता 

माता जी के भजन लिरिक्स

~ जय जय जय जगदम्बे माता ~

जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी।
जय जय जय चामुण्डा माता ,गुण देवी रा गावा जी।

मात भवानी रक्षा करजो ,म्हे टाबर हो थारा जी।
जगदम्बे जग जननी माता ,राखो छतर छाया जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

मोटा मोटा रागस मारिया ,मोटी थारी बलिहारी।
मृगमद टीको माथा ऊपर ,नथनी मोट्या वाली जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

घेर घुमाळो पहर गागरो ,ओढ़न दिखनी चीर जी।
दो हाथो में खांडो खप्पर ,एक हाथ त्रिशूल जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

सिंह सवारी आप विराजो ,हिवड़े नवसर हार जी।
ऊँचे भाखर आप प्रकटिया ,सुन्धा नाम केवायो जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

आबू परवत शिखर ऊपर ,अधर देवी प्यारी जी।
पावागढ़ में अम्बाजी रे ,दर्शन री बलिहारी जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

कलकत्ता री काली माता ,जगमग दिवला जागे जी।
जोधाणा री चामुण्डा माँ ,करणी माता ध्यावा जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

चढ़े खारक खोपरा ने ,लीलड़ीया नारेल जी।
धूमधाम थारी पूजा रे होवे ,दिवला जोत जगाई जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

जगतम्बा जग जननी माता ,भक्त उबारण वाली जी।
दूर दूर सु आवे जातरू ,गुण गावे नर नारी जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

ढोलक ताल मृदंग रे बाजे ,झालर संख नगाड़ा जी।
हाथ जोड़ ने करू आरती ,शरणे शीश नवावा जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

मोहन लाल री विनती माँ ,नैया पार लगावो जी।
जगदम्बे जग जननी माता ,भक्त उबारण वाली जी।
जय जय जय जगदम्बे माता,गीत आपरा गावा जी। टेर।

sadhana sargam ke bhajan

भजन :- जय जय जय जगदम्बे माता
गायिका :- साधना सरगम
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- कभी फुर्सत हो तो जगदंबे

जरूर पढ़ें :- भोर भई दिन चढ़ गया

पिछला लेखकलजुग झाला देतो आवे रे चौडे धाडे भजन लिरिक्स | Kalyug Jala Deto Aave re bhajan lyrics
अगला लेखजियो घणावर राज घणावर सुन्धा रा रे पहाडों में भजन लिरिक्स | Jiyo Ghana Var Raj Ghana Var bhajan lyrics

3 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

5 × two =