सो सो सूरमा के बीच में अकेलो बालाजी भजन लिरिक्स | so so surma ke beech mein bhajan lyrics

883

सो सो सूरमा के बीच में अकेलो बालाजी भजन लिरिक्स

सो सो सूरमा के बीच में अकेलो बालाजी भजन लिरिक्स so so surma ke beech mein bajrang balaji bhajan lyrics

।। दोहा ।।
हनुमत तेरी धाक से, धूजे लंका कोट।
पायक हो श्री राम का, पेरे लाल लंगोट।


~ सो सो शूरमा के बिच में ~

सो सो शूरमा के बिच में ,
अकेलो बालाजी।
अकेलो बालाजी ,
बाली लंका रावण की।


रामचंद्र सु आज्ञा पाकर ,
लंका गढ़ में जावे।
सीताजी रो पतों लगाकर ,
वो उत्पात मचावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,
अकेलो बालाजी। टेर।


मेघनाद जद नागपाश में ,
बांध सभा में लावे।
रावण के दरबार में बाला ,
मंद मंद मुसकावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,
अकेलो बालाजी। टेर।


बड़ा बड़ा ए शूरवीर तब ,
रावण ने समझावे।
शीश काट लो रामदूत रो ,
तलवारा चमकावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,
अकेलो बालाजी। टेर।


जयकारो कर राम नाम रो ,
बजरंग बाला बोले।
सुण ले रावण बात हमारी ,
काळ शीश पर डोले।
सो सो शूरमा के बिच में ,
अकेलो बालाजी। टेर।


अभिमानी रावण के तब भी ,
बात समझ नहीं आई।
लंका नगरी बजरंग जारी ,
हरखी सीता माई।
सो सो शूरमा के बिच में ,
अकेलो बालाजी। टेर।


रामदूत बजरंग बलि ने ,
दास अशोक सुनावे।
निज चरणा में चाकर राखो ,
चरणा में सुख पावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,
अकेलो बालाजी। टेर।


जरूर पढ़ें :- चालो जी चालो चालो बालाजी रे

जरूर पढ़ें :- राम सिया संग आवजो

bajrang balaji bhajan lyrics in hindi

~ so so surma ke beech mein ~

so so surma ke bich me,
akelo balaji.
akelo balaji,
bali lanka ravan ki.


ramchandra su aagya pakar,
lanka gadh me jave.
seetaji ro pato lagakar,
wo utpat machave.
so so surma ke bich me,
akelo balaji .


meghnath jad nagpash me ,
bandh sabha me lave.
ravan ke darbar me bala,
mand mand muskave.
so so surma ke bich me,
akelo balaji .


bada bada ai surveer tab,
ravan ne samjhave.
shish kat lo ramdut ro,
talvara chamkave.
so so surma ke bich me,
akelo balaji .


jaykaro kar ram naam ro,
bajarang bala bole.
sun le ravan baat hamari,
kaal shish par dole.
so so surma ke bich me,
akelo balaji .


abhimani ravan ke tab bhi,
baat samajh nhi aai.
lanka nagari bajrang jari,
harkhi seeta maai.
so so surma ke bich me,
akelo balaji .


ramdut bajarang bali ne,
daas ashok sunave .
nich charna me chakar rakho,
charna me sukh pave.
so so surma ke bich me,
akelo balaji .


जरूर पढ़ें :- मेरी नैया में लक्ष्मण राम

जरूर पढ़ें :- ब्रज रा मोरिया

हनुमान जी के भजन लिरिक्स

~ सो सो सूरमा के बीच में अकेलो बालाजी ~

सो सो शूरमा के बिच में ,अकेलो बालाजी।
अकेलो बालाजी ,बाली लंका रावण की।

रामचंद्र सु आज्ञा पाकर ,लंका गढ़ में जावे।
सीताजी रो पतों लगाकर ,वो उत्पात मचावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,अकेलो बालाजी। टेर।

मेघनाद जद नागपाश में ,बांध सभा में लावे।
रावण के दरबार में बाला ,मंद मंद मुसकावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,अकेलो बालाजी। टेर।

बड़ा बड़ा ए शूरवीर तब ,रावण ने समझावे।
शीश काट लो रामदूत रो ,तलवारा चमकावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,अकेलो बालाजी। टेर।

जयकारो कर राम नाम रो ,बजरंग बाला बोले।
सुण ले रावण बात हमारी ,काळ शीश पर डोले।
सो सो शूरमा के बिच में ,अकेलो बालाजी। टेर।

अभिमानी रावण के तब भी ,बात समझ नहीं आई।
लंका नगरी बजरंग जारी ,हरखी सीता माई।
सो सो शूरमा के बिच में ,अकेलो बालाजी। टेर।

रामदूत बजरंग बलि ने ,दास अशोक सुनावे।
निज चरणा में चाकर राखो ,चरणा में सुख पावे।
सो सो शूरमा के बिच में ,अकेलो बालाजी। टेर।

anil nagori ke new bhajan

भजन :- सो सो शूरमा के बिच में
गायक :- अनिल नागौरी
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- थोड़ी देर सबर कोई कर जातो

जरूर पढ़ें :- राम नाम अति मीठा है 

पिछला लेखचालो जी चालो चालो बालाजी रे धाम भजन लिरिक्स | chalo ji chalo balaji re dham bhajan lyrics
अगला लेखरावण के देश गयो सिया को संदेशो लायो भजन लिरिक्स | ravan ke desh gayo bhajan lyrics

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

2 × 1 =