श्यामा आन बसों वृन्दावन में भजन लिरिक्स | shyama aan baso vrindavan mein bhajan lyrics

235

श्यामा आन बसों वृन्दावन में भजन लिरिक्स

श्यामा आन बसों वृन्दावन में भजन लिरिक्स, shyama aan baso vrindavan mein krishna bhajan hindi lyrics

।। दोहा ।।
दास द्वारका जा रहा, संग ले चावल पोट।
कृष्ण हमारा मित्र है, जरा न करियो खोट।


~ श्यामा आन बसों वृन्दावन ~

श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में।


श्यामा रस्ते में बाग़ लगा जाना ,
में फूल बिनुंगी तेरी माला के लिये।
में बात निहारु कुंजन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।


श्यामा रस्ते में कुआ खुदवा जाना ,
में तो नीर भरूंगी तेरे लिये।
में तुझे नहलाऊं मलमल के ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।


श्यामा मुरली मधुर सुना जाना ,
मोहे आके दर्श दिखा जाना।
तेरी सूरत बसी है अखियन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।


श्यामा वृन्दावन में आ जाना ,
आकर के रास रचा जाना।
सुनी गोकुल की गलियन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,
मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।


जरूर पढ़ें :- कीर्तन की है रात बाबा

जरूर पढ़ें :- अब हम जाते है घर झुकाकर सर

krishna bhajan hindi lyrics in English

~ shyama aan baso vrindavan mein ~

shyama aan baso vrindavan me,
meri umar beet gai gokul me.


shyama raste me bag laga jana,
me ful binungi teri mala ke liye.
me bat niharu kunjan me ,
meri umar beet gai gokul me.
shyama aan baso vrindavan me,
meri umar beet gai gokul me.


shyama raste me kua khudva jana,
me to neer bharungi tere liye.
me tujhe nahalau mal mal ke ,
meri umar beet gai gokul me.
shyama aan baso vrindavan me,
meri umar beet gai gokul me.


shyama murli madhur suna jana,
mohe aake darsh dikha jana.
teri surat basi hai akhiyan me,
meri umar beet gai gokul me.
shyama aan baso vrindavan me,
meri umar beet gai gokul me.


shyama vrindavan me aa jana,
aakar ke ras racha jana.
suni gokul ki galiyan me,
meri umar beet gai gokul me.
shyama aan baso vrindavan me,
meri umar beet gai gokul me.


जरूर पढ़ें :- सीताराम सीताराम सीताराम कहिए

जरूर पढ़ें :- तुम प्रेम हो तुम प्रीत हो

श्री कृष्ण के भजन हिंदी में लिखे हुए

~ श्यामा आन बसों वृन्दावन में ~

श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में।

श्यामा रस्ते में बाग़ लगा जाना ,में फूल बिनुंगी तेरी माला के लिये।
में बात निहारु कुंजन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।

श्यामा रस्ते कुआ खुदवा जाना ,में तो नीर भरूंगी तेरे लिये।
में तुझे नहलाऊं मलमल के ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।

श्यामा मुरली मधुर सुना जाना ,मोहे आके दर्श दिखा जाना।
तेरी सूरत बसी है अखियन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।

श्यामा वृन्दावन में आ जाना ,आकर के रास रचा जाना।
सुनी गोकुल की गलियन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में।
श्यामा आन बसों वृन्दावन में ,मेरी उमर बीत गई गोकुल में। टेर।

tripti shakya ke bhajan lyrics

भजन :- श्याम आने बसों वृन्दावन में
गायिका :- तृप्ति शाक्य
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- कुण तो सुणेला कुणने सुनाऊं

जरूर पढ़ें :- गोरा रानी ने जपि ऐसी माला

पिछला लेखगोकुल हालो ने गायो चरावो भजन लिरिक्स | gokul halo ne gayo charavo bhajan lyrics
अगला लेखदीनानाथ मेरी बात छानी कोनी तेरे से भजन लिरिक्स | dinanath meri baat bhajan lyrics

7 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

eleven − 5 =