दासी जान ने दर्शन दीजो भजन लिरिक्स | Dasi Jaan Kar Darshan Dijo bhajan lyrics

431

दासी जान ने दर्शन दीजो भजन लिरिक्स

दासी जान ने दर्शन दीजो भजन लिरिक्स, Dasi Jaan Kar Darshan Dijo meera bai bhajan lyrics in hindi

।। दोहा ।।
कृष्णा तो मत जाणियो, तो बिछड्यो मोहे चैन।
जैसे जल बिन माछली, वा तड़प रही दिन रेन।


~ दासी जाण कर दर्शन दीजो ~

भमर भालो धणी हाथ में ,
पहरण केसरियो बागो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी।


आपरे कारणिये बाग़ लगावु ,
घुमण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी। टेर।


रंग महल में झूला लगावू ,
झूलण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी। टेर।


उण्डा ओरा में ढाळु ढोलिया ,
पोढण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी। टेर।


ऊँचा रे ऊँचा होद चीणावु ,
नावण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी। टेर।


खीर खाण्ड रा भोजन बणावू,
जीमण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी। टेर।


मथुरा वन में गाया चरावो ,
मुरली री राग सुणावो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी। टेर।


बाई मीरा री अरज विनती ,
जुग जुग चरणा राखो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,
परम नाम से लागी जी। टेर।


जरूर पढ़ें :- आ बदनामी लागे मीठी

जरूर पढ़ें :- दूर नगरी बड़ी दूर नगरी

meera bai bhajan lyrics in hindi

~ Dasi Jaan Kar Darshan Dijo ~

bhamar bhalo dhani hath me,
paharan kesriyo bago ji.
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


aapre karniye bag lagavu,
ghuman re mis aavo ji.
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


rang mahal me jhula lagavu,
jhulan re mis aavo ji.
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


unda or me dhalu dholiya,
podhan re mis aavo ji.
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


uncha re uncha hod chinavu,
navan re mis aavo ji.
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


khir khand ra bhojan banavu,
jiman re mis aavo ji.
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


mathura van me gaya charavo,
murali ri rag sunavo ji.
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


bai meera ri araj vinti,
jug jug charan rakho ji .
dasi jan ne darshan dijo,
param naam se lagi ji.


जरूर पढ़ें :- बनवारी रे जीने का सहारा

जरूर पढ़ें :- एक मीरा एक राधा

मीरा बाई के भजन लिरिक्स

~ दासी जान ने दर्शन दीजो ~

भमर भालो धणी हाथ में ,पहरण केसरियो बानो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी।

आपरे कारणिये बाग़ लगावु ,घुमण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी। टेर।

रंग महल में झूला लगावू ,झूलण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी। टेर।

उण्डा ओरा में ढाळु ढोलिया ,पोढण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी। टेर।

ऊँचा रे ऊँचा होद चीणावु ,नावण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी। टेर।

खीर खाण्ड रा भोजन बणावू,जीमण रे मिस आवो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी। टेर।

मथुरा वन में गाया चरावो ,मुरली री राग सुणावो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी। टेर।

बाई मीरा री अरज विनती ,जुग जुग चरणा राखो जी।
दासी जाण ने दर्शन दीजो ,परम नाम से लागी जी। टेर।

prakash mali ke bhajan marwadi

भजन :- दासी जाण कर दर्शन दीजो
गायक :- प्रकाश माली
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- किण कारण वैराग लियो

जरूर पढ़ें :- विणो बाजे सांवरिया थारे नाम रो

पिछला लेखराम नाम भजिया ज्याने मोती महल मिलिया भजन लिरिक्स | ram naam bhajiya fagan bhajan lyrics
अगला लेखमंदिर जाती मीरा ने गिरधारी मिल गयो रे भजन लिरिक्स | sanwariyo jadu kar gayo re bhajan lyrics

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

17 − five =