नाग देवता त्राहिमाम भजन लिरिक्स | nag devta trahimam bhajan lyrics

1030

नाग देवता त्राहिमाम भजन लिरिक्स

नाग देवता त्राहिमाम भजन लिरिक्स nag devta trahimam naag devta bhajan lyrics in hindi

~ नाग देवता त्राहि माम् ~

विष्णु को शय्या पे सुलाने वाले ,
शंकर के गले को सजाने वाले।
नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम् ,
नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम्।


कोमल कोमल अंग तिहारा ,
श्याम वरण तेरा लागे प्यारा।
झिलमिल झिलमिल चाल तुम्हारी,
जैसे जमना जल की धारा।
शेष हजार फनो वाले ,
भगतो की लाज बचाने वाले।
विष्णु को शय्या पे सुलाने वाले ,
शंकर के गले को सजाने वाले।
नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम्। टेर।


सोवे बालक रोवे माता ,
ये कैसा अन्याय विधाता।
ये बालक है तुम पालक हो ,
प्राणदान दो, जीवनदान दाता।
शेष हजार फनो वाले ,
भगतो की लाज बचाने वाले।
विष्णु को शय्या पे सुलाने वाले ,
शंकर के गले को सजाने वाले।
नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम्। टेर।


जरूर पढ़ें :- भव सागर सु पार उतारो

जरूर पढ़ें :- बन्नो भभूति वालो

naag devta bhajan lyrics in hindi

~ nag devta trahimam ~

vishnu ko shyya pe sulane wale,
shanker ke gale ko sajane wale.
nag devta trahi mam trahi mam,
nag devta trahi mam trahi mam .


komal komal ang tihara,
shyam varan tera lage pyara.
jhilmil jhilmil chal tumhari,
jaise jamana jal ki dhara.
shesh haraj fano wale,
bhagato ki laaj bachane wale.
vishnu ko shyya pe sulane wale,
shanker ke gale ko sajane wale.
nag devta trahi mam trahi mam.


sove balak rove mata,
ye kaisa anyay vidhata.
ye balak hai tum palak ho,
prandan do , jivandan data.
shesh haraj fano wale,
bhagato ki laaj bachane wale.
vishnu ko shyya pe sulane wale,
shanker ke gale ko sajane wale.
nag devta trahi mam trahi mam.


जरूर पढ़ें :- तू राजा की राज दुलारी

जरूर पढ़ें :- भूरिया बाबा मेलो घर घर में

नाग देवता भजन लिरिक्स

~ नाग देवता त्राहिमाम ~

विष्णु को शय्या पे सुलाने वाले ,शंकर के गले को सजाने वाले।
नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम् ,नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम्।

कोमल कोमल अंग तिहारा ,श्याम वरण तेरा लागे प्यारा।
झिलमिल झिलमिल चाल तुम्हारी, जैसे जमना जल की धारा।
शेष हजार फनो वाले ,भगतो की लाज बचाने वाले।
विष्णु को शय्या पे सुलाने वाले ,शंकर के गले को सजाने वाले।
नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम्। टेर।

सोवे बालक रोवे माता ,ये कैसा अन्याय विधाता।
ये बालक है तुम पालक हो ,प्राणदान दो, जीवनदान दाता।
शेष हजार फनो वाले ,भगतो की लाज बचाने वाले।
विष्णु को शय्या पे सुलाने वाले ,शंकर के गले को सजाने वाले।
नाग देवता त्राहि माम् त्राहि माम्। टेर।

prakash mali ke bhajan lyrics

भजन :- नाग देवता त्राहि माम्
गायक :- प्रकाश माली
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- शिव भोला गजब का गोला

जरूर पढ़ें :- गाया वाला कानजी रे

पिछला लेखभव सागर सु पार उतारो तीन लोक रा नाथ भजन लिरिक्स | bhavsagar se paar utaro bhajan lyrics
अगला लेखभोला शंकर ने ध्यावे भगत थारा दर्शन ने आवे भजन लिरिक्स | bhola shankar ne dhyave bhajan lyrics

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

10 + six =