खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी भजन लिरिक्स | khamma khamma o rama peer avtari bhajan lyrics

494

खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी भजन लिरिक्स

खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी भजन लिरिक्स khamma khamma o rama peer avtari baba ramdev ji desi bhajan

~ खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी ~

खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।
कळजुग में महिमा थारी भारी जी ,
महिमा भारी जी ,रामापीर अवतारी।


गजानन जी साय करीजो ,
सादर शीश नवावा जी।
बाबा रा चौबीस परचा ,
जग ने गाय सुनावा जी।
बाबा बड़ो है उपकारी जी।
ओ म्हारो, बाबो बड़ो है उपकारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


पेहलो परचो रामदेव जी ,
अजमल जी दिनों जी।
कुंकु पगल्या आंगण मांड्या ,
पाणी दूध कीनो जी।
हो सांवरा, पालनीय पगटया मुरारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


दूजो परचो मेणा दे ने ,
रामदेव दिखलायो जी।
दूध उफ़णतो चरु मायने ,
झालो देय ढबायो जी।
हो बाबा, मेटी माता री शंका सारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


तीजो परचो रामदेव ,
दरजी ने दिखलावे जी।
कपडे रो घोड़लियो बाबो ,
पकड़ लगाम उड़ावे जी।
बाबे री, बालपने री लीला न्यारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


चौथे परचे रामदेव जी ,
भैरव रागस मारयो जी।
धरती पर सु बोझ पाप रो ,
बाबो आप उतारयो जी।
हो म्हारे, बाबा ने पूजे नर नारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


पांचवो तो परचो खाती ,
सारथीया ने दिनों जी।
मरियोडा रा हाथ पकड़कर ,
जीवनदान दिनों जी।
बाबा पर, सारथियो जावे बलिहारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


छठे परचे बाण्यो बोयतो ,
थाने अरज गुजारी जी।
जहाज डूबती मझधारा में ,
भुजा पसार तारी जी।
भगता री, मेटी थे विपदा भारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


सातवो तो परचो लख्खी ,
बिणजारा ने दिनों जी।
झूठ बोलियों रामदेव जी ,
मिसरी लूण कीनो जी।
बिणजारो रो आयो शरण में तिहारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


आठवो परचो तो पांचू ,
पीरा ने दिखलावे जी।
मक्का सु भोजन रा कटोरा ,
पल में आप मंगावे जी।
ओ बाबा, पीरा में पदवी भारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


नवे परचे रामदेव जी ,
रण में शंख बजायो जी।
पूंगलगढ़ में पड़ियारा रो ,
झूठो गरब मिटायो जी।
हो बाबा, सुगणा ने दुखड़ा से उबारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


दशवे परचे नेतल दे ने ,
परचो पीर दिखावे जी।
पगा पांगली नेतल दे ने ,
फेरा माय चलावे जी।
हो राणी, नेतल दे लक्मी अवतारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


नेतल दे री सहेलिया ने ,
परचो है दिखलावे जी।
कंवर कलेवो करवा बाबो ,
जद महल में आवे जी।
बाबा री, ग्यारवा परचा री लीला न्यारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


मरियोड़ी मित्री ने सखियाँ ,
थाली माहि रखावे जी।
थाली पर सु परदो बाबो ,
पल में आप उठावे जी।
मंजारी, जीवत वे मिनकी भागी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


बारहवो परचो तो बाबो ,
भाणुडा ने दिनों जी।
सुगणा बाई रो लाल लाडको ,
जिण ने जीवत कीनो जी।
हो बीरा, आरती उतारे बहना थारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


तेहरवो परचो तो बाबो ,
बिरमदेव ने दिनों जी।
गाय रो बाछडियो मर गयो ,
जिण ने जीवन कीनो जी।
बाबा रो, सोवन चुटियो है चमत्कारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


चोदहवो पर्चा नेतल ने ,
रामदेव दिखलावे जी।
गर्भ में साधो है बालक ,
जिणरी बोली सुनावे जी।
हो बाबा, साँचा है सिद्ध अवतारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


पन्द्रहवों परचो हड़बूजी ,
सांखला ने दिनों जी।
जीवित समाधि लिया पछे भी ,
रतन कटोरो दिनों जी।
बाबा ने, जाणे है दुनिया सारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।


सोलहवो परचो धनिया सु ,
रावलमल दे पायो जी।
जम्मो जगाकर आई रूपा ,
थाली में बाग़ लगायो जी।
हो बाबा, राणी रूपा दे भगत थारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


सत्तरवें परचे में जरदो ,
जाति बलाई वालो जी।
बारहा बरस तक ऊभो रियो ,
लीले रो रखवाळी जी।
हो बाबा, सूखे कंकाल जान डाली जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


महाराणा कुम्भाजी परचो ,
अठारहवो है पायो जी।
मुगला सु मेवाड़ी राणो ,
जंग जीतकर आयो जी।
ओ कुम्भा, बाबा री महिमा बखाणी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


उन्निसवो परचो तो बाबो ,
दल्ला सेठ ने दिनों जी।
शीश जोड़कर धड़ सु बाबो ,
जीवनदान दिनों जी।
हो बाबे, चोटी री राखी सेलानी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


बिसवो परचो तो आंधो ,
साधु सिरोही पावे जी।
रामदेव ने याद करे जद ,
आंखड़ल्या खुल जावे जी।
बाबे री, सेवा में बीती उमर सारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर।


इक्किसवो परचो है भारी ,
हरजी भाटी पावे जी।
अण ब्याही बकरी रा थन सु ,
दूध काढ़कर लावे जी।
हो बाबे, दूध पियो है अवतारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


बाइसवो परचो तो राजा ,
विजयसिंह जी पावे जी।
कपड़ा रा घोडा ने बाबो ,
दाणो आप खिलावे जी।
बाबा ने, नमिया है हाकम हजारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


नवलसिंह जी नरेश परचो ,
तेइसवो है पावे जी।
कैद किया जयपुर का राजा ,
बाबो मुक्त करावे जी।
ओ राजा, पावे वे पाछी जागीरी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


माता आसरी बाई परचो ,
चौबिसवो है पायो जी।
धूपदान और चिमटों देखो ,
बाबा सु है पायो जी।
बाबा री, भगती में उमर गुजारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


( 24 प्रमाण )

है चौबीस प्रमाण आपरा ,
ज्योरा नाम बतावा जी।
भूल चूक होवे तो बाबा ,
थासु माफ़ी चावा जी।
हो बाबा, गलती बगसावो थे तो म्हारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


पेलो गुरु प्रमाण और दूजो ,
निज प्रमाण कहलावे जी।
सोजी प्रमाण तीसरो चोथो ,
महापद है बतलावें जी।
हो बाबा, पांचवो आगम प्रमाण जाणी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


छठो आगम प्रमाण दुसरो ,
मुगती प्रमाण सातवो जी।
आठवो निज प्रमाण ,
नमो पिंड आपरो जी।
हो बाबा, देशवो है निकलक नेजाधारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


ग्यारहवो है निजार बाबा ,
अभय प्रमाण बारहवो जी।
योग प्रमाण तेरहवो दाता ,
भक्ति प्रमाण चौदहवो जी।
हो बाबा, पन्द्रहवों ज्ञान गुणकारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


माया प्रमाण सोलहवीं वाणी ,
मूल आरम्भ सत्तरहवो जी।
भाव प्रमाण अठारहवो है ,
है अवतार उन्निसवो जी।
हो बाबा, बिसवा में महिमा बखाणी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


रज प्रमाण इक्किसवो बाबा ,
बाईस अन्न प्रमाण जी।
तेइसवो है साखी बाबा ,
चौबीस बीज प्रमाण जी।
हो बाबा, जाणे है ज्यां ने दुनिया सारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


अजमल घर अवतार बापजी ,
आप गुणा री खान जी।
में तो हु अज्ञानी बालक ,
किनविध करू बखाण जी।
हो बाबा, मंदमति है बाबा म्हारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


लीले रा असवार आपरी ,
महिमा अपरम्पार जी।
मास भादवे गांव रूणीचे ,
होवे जय जयकार जी।
हो बाबा, दर्शन ने आवे नर नारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


रामदेव बाबा री कीरत ,
दास अशोक सुनावे जी।
चरणा री सेवा में लीजो ,
चरणा में सुख पावे जी।
हो रामा, अरज सुणीजो बाबा म्हारी जी ,
रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।


जरूर पढ़ें :- थारे भरोसे रे रामदेव

जरूर पढ़ें :- सोना वालो पालणो

रामदेव जी मारवाड़ी भजन लिरिक्स

~ khamma khamma o rama peer avtari ~

खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।
कळजुग में महिमा थारी भारी जी ,
महिमा भारी जी ,रामापीर अवतारी।

गजानन जी साय करीजो ,सादर शीश नवावा जी।
बाबा रा चौबीस परचा ,जग ने गाय सुनावा जी।
बाबा बड़ो है उपकारी जी।
ओ म्हारो, बाबो बड़ो है उपकारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

पेहलो परचो रामदेव जी ,अजमल जी दिनों जी।
कुंकु पगल्या आंगण मांड्या ,पाणी दूध कीनो जी।
हो सांवरा, पालनीय पगटया मुरारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

दूजो परचो मेणा दे ने ,रामदेव दिखलायो जी।
दूध उफ़णतो चरु मायने ,झालो देय ढबायो जी।
हो बाबा, मेटी माता री शंका सारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

तीजो परचो रामदेव ,दरजी ने दिखलावे जी।
कपडे रो घोड़लियो बाबो ,पकड़ लगाम उड़ावे जी।
बाबे री, बालपने री लीला न्यारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

चौथे परचे रामदेव जी ,भैरव रागस मारयो जी।
धरती पर सु बोझ पाप रो ,बाबो आप उतारयो जी।
हो म्हारे, बाबा ने पूजे नर नारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

पांचवो तो परचो खाती ,सारथीया ने दिनों जी।
मरियोडा रा हाथ पकड़कर ,जीवनदान दिनों जी।
बाबा पर, सारथियो जावे बलिहारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

छठे परचे बाण्यो बोयतो ,थाने अरज गुजारी जी।
जहाज डूबती मझधारा में ,भुजा पसार तारी जी।
भगता री, मेटी थे विपदा भारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

सातवो तो परचो लख्खी ,बिणजारा ने दिनों जी।
झूठ बोलियों रामदेव जी ,मिसरी लूण कीनो जी।
बिणजारो रो आयो शरण में तिहारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

आठवो परचो तो पांचू ,पीरा ने दिखलावे जी।
मक्का सु भोजन रा कटोरा ,पल में आप मंगावे जी।
ओ बाबा, पीरा में पदवी भारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

नवे परचे रामदेव जी ,रण में शंख बजायो जी।
पूंगलगढ़ में पड़ियारा रो ,झूठो गरब मिटायो जी।
हो बाबा, सुगणा ने दुखड़ा से उबारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

दशवे परचे नेतल दे ने ,परचो पीर दिखावे जी।
पगा पांगली नेतल दे ने ,फेरा माय चलावे जी।
हो राणी, नेतल दे लक्मी अवतारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

नेतल दे री सहेलिया ने ,परचो है दिखलावे जी।
कंवर कलेवो करवा बाबो ,जद महल में आवे जी।
बाबा री, ग्यारवा परचा री लीला न्यारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

मरियोड़ी मित्री ने सखियाँ ,थाली माहि रखावे जी।
थाली पर सु परदो बाबो ,पल में आप उठावे जी।
मंजारी, जीवत वे मिनकी भागी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

बारहवो परचो तो बाबो ,भाणुडा ने दिनों जी।
सुगणा बाई रो लाल लाडको ,जिण ने जीवत कीनो जी।
हो बीरा, आरती उतारे बहना थारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

तेहरवो परचो तो बाबो ,बिरमदेव ने दिनों जी।
गाय रो बाछडियो मर गयो ,जिण ने जीवन कीनो जी।
बाबा रो, सोवन चुटियो है चमत्कारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

चोदहवो पर्चा नेतल ने ,रामदेव दिखलावे जी।
गर्भ में साधो है बालक ,जिणरी बोली सुनावे जी।
हो बाबा, साँचा है सिद्ध अवतारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

पन्द्रहवों परचो हड़बूजी ,सांखला ने दिनों जी।
जीवित समाधि लिया पछे भी ,रतन कटोरो दिनों जी।
बाबा ने, जाणे है दुनिया सारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी।

सोलहवो परचो धनिया सु ,रावलमल दे पायो जी।
जम्मो जगाकर आई रूपा ,थाली में बाग़ लगायो जी।
हो बाबा, राणी रूपा दे भगत थारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

सत्तरवें परचे में जरदो ,जाति बलाई वालो जी।
बारहा बरस तक ऊभो रियो ,लीले रो रखवाळी जी।
हो बाबा, सूखे कंकाल जान डाली जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

महाराणा कुम्भाजी परचो ,अठारहवो है पायो जी।
मुगला सु मेवाड़ी राणो ,जंग जीतकर आयो जी।
ओ कुम्भा, बाबा री महिमा बखाणी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

उन्निसवो परचो तो बाबो ,दल्ला सेठ ने दिनों जी।
शीश जोड़कर धड़ सु बाबो ,जीवनदान दिनों जी।
हो बाबे, चोटी री राखी सेलानी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

बिसवो परचो तो आंधो ,साधु सिरोही पावे जी।
रामदेव ने याद करे जद ,आंखड़ल्या खुल जावे जी।
बाबे री, सेवा में बीती उमर सारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर।

इक्किसवो परचो है भारी ,हरजी भाटी पावे जी।
अण ब्याही बकरी रा थन सु ,दूध काढ़कर लावे जी।
हो बाबे, दूध पियो है अवतारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

बाइसवो परचो तो राजा ,विजयसिंह जी पावे जी।
कपड़ा रा घोडा ने बाबो ,दाणो आप खिलावे जी।
बाबा ने, नमिया है हाकम हजारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

नवलसिंह जी नरेश परचो ,तेइसवो है पावे जी।
कैद किया जयपुर का राजा ,बाबो मुक्त करावे जी।
ओ राजा, पावे वे पाछी जागीरी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

माता आसरी बाई परचो ,चौबिसवो है पायो जी।
धूपदान और चिमटों देखो ,बाबा सु है पायो जी।
बाबा री, भगती में उमर गुजारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

( 24 प्रमाण )

है चौबीस प्रमाण आपरा ,ज्योरा नाम बतावा जी।
भूल चूक होवे तो बाबा ,थासु माफ़ी चावा जी।
हो बाबा, गलती बगसावो थे तो म्हारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

पेलो गुरु प्रमाण और दूजो ,निज प्रमाण कहलावे जी।
सोजी प्रमाण तीसरो चोथो ,महापद है बतलावें जी।
हो बाबा, पांचवो आगम प्रमाण जाणी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

छठो आगम प्रमाण दुसरो ,मुगती प्रमाण सातवो जी।
आठवो निज प्रमाण ,नमो पिंड आपरो जी।
हो बाबा, देशवो है निकलक नेजाधारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

ग्यारहवो है निजार बाबा ,अभय प्रमाण बारहवो जी।
योग प्रमाण तेरहवो दाता ,भक्ति प्रमाण चौदहवो जी।
हो बाबा, पन्द्रहवों ज्ञान गुणकारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

माया प्रमाण सोलहवीं वाणी ,मूल आरम्भ सत्तरहवो जी।
भाव प्रमाण अठारहवो है ,है अवतार उन्निसवो जी।
हो बाबा, बिसवा में महिमा बखाणी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

रज प्रमाण इक्किसवो बाबा ,बाईस अन्न प्रमाण जी।
तेइसवो है साखी बाबा ,चौबीस बीज प्रमाण जी।
हो बाबा, जाणे है ज्यां ने दुनिया सारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

अजमल घर अवतार बापजी ,आप गुणा री खान जी।
में तो हु अज्ञानी बालक ,किनविध करू बखाण जी।
हो बाबा, मंदमति है बाबा म्हारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

लीले रा असवार आपरी ,महिमा अपरम्पार जी।
मास भादवे गांव रूणीचे ,होवे जय जयकार जी।
हो बाबा, दर्शन ने आवे नर नारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

रामदेव बाबा री कीरत ,दास अशोक सुनावे जी।
चरणा री सेवा में लीजो ,चरणा में सुख पावे जी।
हो रामा, अरज सुणीजो बाबा म्हारी जी ,रामापीर अवतारी।
खम्मा खम्मा हो रामापीर अवतारी।

moinuddin manchala ke bhajan

भजन :- खम्मा खम्मा ओ रामापीर अवतारी
गायक :- मोइनुद्दीन मनचला
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- बीरा बेगा आईजो जी

जरूर पढ़ें :- पैदल चलता चलता जय बोलो

पिछला लेखथारे भरोसे रे रामदेव भजन लिरिक्स | Thare Bharose Re ramdev bhajan lyrics
अगला लेखगेरी गेरी बिरखा भाया पाछा किया जाओ भजन लिरिक्स | geri geri birkha bhaya bhajan lyrics

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

three × 4 =