गुरासा माने ओलु आपरी आवे भजन लिरिक्स | Guru Ji Mhara Olu Aapri Aave bhajan lyrics

425

गुरासा माने ओलु आपरी आवे भजन लिरिक्स

गुरासा माने ओलु आपरी आवे भजन, Guru Ji Mhara Olu Aapri Aave satguru ke bhajan in hindi lyrics

 ।। दोहा ।।
सबदा मारया मर गया , सबदा छोड्यो राज।
जिण जिण सबद विचारिया ,वा रा सरिया काज।


~ गुरूसा माने ओलु आपरी आवे ~

लागी लगन मारे पीयू मिलण री ,
कोमण काग उड़ावे।
कुटुंब कबीलो मने दाये नहीं आवे,
आप मिलिया दुःख जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।


दिन नहीं चैन रात नहीं निद्रा ,
दोनों कुबदिया जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।


गुरूजी बिना माने घडी नी आवे ,
नेनो में नीर नी समावे।
जल बिन मछिया किसविध जीवे ,
तड़प तड़प मर जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।


गुरूजी बिना मारी काया कलमीजे ,
अन्न पानी नहीं भावे।
गल गया हाड मॉस और चमड़ी ,
प्राण पिंजरिया सु जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।


आठो पोहर गुरु री लिव लागी ,
और कुछ नहीं सुहावे।
लगी आग कालजा में धुनि ,
केहनी केना में नहीं आवे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।


अब मेरे नाथ दया करो पूरी ,
क्यों मारी सान गवावे।
कहे जोरदास पुउ बिना पल नहीं ,
किस विध प्राण बचावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।


जरूर पढ़ें :- बंगला अजब बना महाराज

जरूर पढ़ें :- संत सदा सुख धारा

satguru ke bhajan in hindi lyrics

~ Guru Ji Mhara Olu Aapri Aave ~

lagi lagan mare piyu milan ri,
koman kag udave.
kutumb kabilo mane daye nhi aave,
aap miliya dukh jaave.
gurusa mane olu aapri aave.


din nhi chain rat nhi nindra,
dono kubdiya jave.
gurusa mane olu aapri aave.


guruji bina mane ghadi ni aave,
neno me neer ni samave.
jal bin machiya kisvidh jive,
tadap tadap mar jaave.
gurusa mane olu aapri aave.


guruji bina mari kaya kalmije,
ann pani nhi bhave.
gal gaya had mans or chamdi,
pran pinjriya su jave.
gurusa mane olu aapri aave.


aatho pohar guru ri liv lagi,
or kuch nhi suhave.
lagi aag kalja me dhuni,
kehni kena me nhi aave.
gurusa mane olu aapri aave.


ab mere nath daya karo puri,
kyu mari saan gavave.
kahe jordas pou bina pal nhi,
kis vidh pran bachave.
gurusa mane olu aapri aave.


जरूर पढ़ें :- आज हमारे रामजी

जरूर पढ़ें :- आज गुरु आविया रे

गुरुदेव भजन लिरिक्स इन हिंदी

~ गुरासा माने ओलु आपरी आवे ~

लागी लगन मारे पीयू मिलण री ,कोमण काग उड़ावे।
कुटुंब कबीलो मने दाये नहीं आवे,आप मिलिया दुःख जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।

दिन नहीं चैन रात नहीं निद्रा ,दोनों कुबदिया जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।

गुरूजी बिना माने घडी नी आवे ,नेनो में नीर नी समावे।
जल बिन मछिया किसविध जीवे ,तड़प तड़प मर जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।

गुरूजी बिना मारी काया कलमीजे ,अन्न पानी नहीं भावे।
गल गया हाड मॉस और चमड़ी ,प्राण पिंजरिया सु जावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।

आठो पोहर गुरु री लिव लागी ,और कुछ नहीं सुहावे।
लगी आग कालजा में धुनि ,केहनी केना में नहीं आवे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।

अब मेरे नाथ दया करो पूरी ,क्यों मारी सान गवावे।
कहे जोरदास पुउ बिना पल नहीं ,किस विध प्राण बचावे।
गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे।

suresh lohar ke bhajan

भजन :- गुरूसा माने ! ओलु आपरी आवे
गायक :- सुरेश लोहार
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- वारी ओ गुरुदेव आपने बलिहारी

जरूर पढ़ें :- गुरु समान नहीं दाता जग में

पिछला लेखबंगला अजब बना महाराज जिसमें नारायण बोले भजन लिरिक्स | bangla ajab bana maharaj bhajan lyrics
अगला लेखमारा सतगुरु कृपा किनी माने जड़ी भजन री दिनी भजन लिरिक्स | mara satguru kripa kini bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

3 × 4 =