सरवरिया री तीर खड़ी नानी नीर बहाव है भजन लिरिक्स | sarvariya ri teer khadi bhajan lyrics

1023

सरवरिया री तीर खड़ी नानी नीर बहाव है भजन लिरिक्स

सरवरिया री तीर खड़ी नानी नीर बहाव है भजन, sarvariya ri teer khadi nani bai bhajan lyrics in hindi

 ~ सरवरीया री तीर खड़ी ~

सरवरीया री तीर खड़ी,
आ नानी नीर बहावे है।
जामण जाए वीर बिना कुण,
भात भरण न आवे है।।


एक दिन मारो भोलो बाबुल,
अरबपति कहलायो थो।
धन दौलत और माल खजाना,
गाडो भर भर लायो थो।
ऊंचा ऊंचा महल मालिया,
नगर सेठ कहलायो थो।
अण गिनती रा नौकर चाकर,
याद मने सब आवे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,
आ नानी नीर बहावे है।


लाड प्यार में पली लाडली,
बड़ा घरा परणाई थी।
दान डायजो हाथी घोड़ा,
दास दासीया लाई थी।
सोना चांदी हीरा मोती,
गाडा भर भर लाई थी।
बीती बाता आद करू जद,
हिवड़ो भर भर आवे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,
आ नानी नीर बहावे है।


तेरे भरोसे सेठ सावंरा,
भोलो बाबुल आयो है।
गोपी चंदन और तुम्बड़ा,
साधा ने संग लायो है।
घर घर मांगत फिरे सूरिया,
मारो मान घटायो है।
देवरीयो माने ताना मारे ,
नणंदल जीभ जलावे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,
आ नानी नीर बहावे है।


और संगा ने महेल मालिया,
टुटी टपरी नरसी ने।
ओर सगा ने साल दुसाला,
फाटी गुदड़ी नरसी ने।
ओर सगा ने लाडू पेड़ा,
सुखी रोटी नरसी ने।
डूब मरू पर घर नही जाऊ,
बाबुल मने जलावे है ।
सरवरीया री तीर खड़ी,
आ नानी नीर बहावे है।


विपल होय जद नानी बाई,
श्याम प्रभु ने ध्यायो है।
राधा रूकमणि संग में लेकर ,
सेठ सांवरो आयो है।
भात भरणने धान डायजो,
बालद भर भर लायो है।
सावरी ने निरख नानी ,
बाता हु बतलावे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,
आ नानी नीर बहावे है।


सरवरीया री तीर खड़ी,
आ नानी नीर बहावे है।
जामण जाए वीर बिना कुण,
भात भरण न आवे है।।


जरूर पढ़ें :- रमता रामदेव रणुजे भले आया

जरूर पढ़ें :- सांवरियो जादू कर गयो

nani bai bhajan lyrics in hindi

~ sarvariya ri teer khadi ~

sarvariya ri teer khadi,
aa nani neer bahave hai.
jaman jaye veer bina kun,
bhat bharan ne aave hai.


ek din maro bholo babul,
arabpati kahlayo tho.
dhan dolat or mal khajana,
gado bhar bhar layo tho.
uncha uncha mahal maliya,
nagar seth kahlayo tho.
an ginti ra nokar chakar,
yad mane sab aave hai.
sarvariya ri teer khadi,
aa nani neer bahave hai.


lad pyar me pali ladli,
bada ghra parnai thi.
dan dayjo hathi ghoda,
das dasiya lai thi.
sona chandi heera moti,
gada bhar bhar lai thi.
biti bata aad karu jad,
hivdo bhar bhar aave hai.
sarvariya ri teer khadi,
aa nani neer bahave hai.


tere bharose seth sanwara,
bholo babul aayo hai.
gopi chanan or tumbada ,
sadha ne sang layo hai.
ghar ghar mangat fire suriya,
maro man ghatayo hai.
devriyo mane tana mare,
nandal jibh jalave hai.
sarvariya ri teer khadi,
aa nani neer bahave hai.


or saga ne mahel maliya,
tutu tapri narsi ne.
or saga ne sal dusala,
fati gudadi narsi ne.
or saga ne ladu peda,
sukhi roti narsi ne.
dub maru par ghar nhi jau,
babul mane jalave hai.
sarvariya ri teer khadi,
aa nani neer bahave hai.


vipal hoy jad nani bai,
shyam prabhu ne dyayo hai.
radha rukmani sang me lekar,
seth sanwaro aayo hai.
bhat bharanne dhan dayjo,
balad bhar bhar layo hai.
savri ne nirakh nani,
bata hu batalave hai.
sarvariya ri teer khadi,
aa nani neer bahave hai.


sarvariya ri teer khadi,
aa nani neer bahave hai.
jaman jaye veer bina kun,
bhat bharan ne aave hai.


जरूर पढ़ें :- ओढ़ चुनर में गई सत्संग में 

जरूर पढ़ें :- कह देना उधो इतनी सी बात

नानी बाई भजन lyrics in hindi

~ सरवरिया री तीर खड़ी ~

सरवरीया री तीर खड़ी,आ नानी नीर बहावे है।
जामण जाए वीर बिना कुण,भात भरण न आवे है।।

एक दिन मारो भोलो बाबुल,अरबपति कहलायो थो।
धन दौलत और माल खजाना,गाडो भर भर लायो थो।
ऊंचा ऊंचा महल मालिया,नगर सेठ कहलायो थो।
अण गिनती रा नौकर चाकर,याद मने सब आवे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,आ नानी नीर बहावे है।

लाड प्यार में पली लाडली,बड़ा घरा परणाई थी।
दान डायजो हाथी घोड़ा,दास दासीया लाई थी।
सोना चांदी हीरा मोती,गाडा भर भर लाई थी।
बीती बाता आद करू जद,हिवड़ो भर भर आवे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,आ नानी नीर बहावे है।

तेरे भरोसे सेठ सावंरा,भोलो बाबुल आयो है।
गोपी चंदन और तुम्बड़ा,साधा ने संग लायो है।
घर घर मांगत फिरे सूरिया,मारो मान घटायो है।
देवरीयो माने ताना मारे ,नणंदल जीभ जलावे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,आ नानी नीर बहावे है।

और संगा ने महेल मालिया,टुटी टपरी नरसी ने।
ओर सगा ने साल दुसाला,फाटी गुदड़ी नरसी ने।
ओर सगा ने लाडू पेड़ा,सुखी रोटी नरसी ने।
डूब मरू पर घर नही जाऊ,बाबुल मने जलावे है ।
सरवरीया री तीर खड़ी,आ नानी नीर बहावे है।

विपल होय जद नानी बाई,श्याम प्रभु ने ध्यायो है।
राधा रूकमणि संग में लेकर ,सेठ सांवरो आयो है।
भात भरणने धान डायजो,बालद भर भर लायो है।
सावरी ने निरख नानी ,बाता हु बतलावे है।
सरवरीया री तीर खड़ी,आ नानी नीर बहावे है।

सरवरीया री तीर खड़ी,आ नानी नीर बहावे है।
जामण जाए वीर बिना कुण,भात भरण न आवे है।।

sunita swami bhajan

भजन :- सरवरिया री तीर खड़ी
गायिका :- सुनीता स्वामी
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- म्हारा ओम बन्ना ओ

जरूर पढ़ें :- रामा राज कुंवर

पिछला लेखरमता रामदेव रणुजे भले आया भजन लिरिक्स | ramta ramdev ranuje bhale aaya bhajan lyrics
अगला लेखसांवरिया मारी अरज सुनो गिरधारी भजन लिरिक्स | araj suno banwari bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

15 + 19 =