बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने किया भरम सब दूर लिरिक्स | balihari jau mhara satguru ne bhajan lyrics

1568

बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने किया भरम सब दूर लिरिक्स

बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने किया भरम सब दूर, balihari jau mhara satguru ne satguru bhajan lyrics in hindi

 ।। दोहा ।।
गुरु गोविन्द दोनों खडे ,का के लागु पांव।
बलिहारी गुरुदेव आपने ,गोविन्द दियो बताय।


~ किया भरम सब दूर ~

बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।
किया भरम सब दूर मेरा,
किया भरम सब दूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।


प्याला पाया प्रेम का ,
घोल संजीवन मूल।
चढ़ी खुमारी प्रेम की रे,
मन हो गया चकनाचूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।


कुमता घटी और सुमता बढ़ी,
उर आनन्द भयो भरपूर।
राग द्वेष जगत की मेटी,
अब मन भयो मंजूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।


विमल होय प्रकाश लिखायो,
बना शशि बना सूर।
मनवो मस्त रेवे अनहद में,
सुन के आनंद तूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।


शबद सुण्या गुरुदेवजी रा,
मुख सु पड गई धूड़।
धर्मिदास को आय मिल्या,
सतगुरु श्याम हुजूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।


बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।
किया भरम सब दूर मेरा,
किया भरम सब दूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,
किया भरम सब दूर।


जरूर पढ़ें :- सतगुरु पारस खान है

जरूर पढ़ें :- सिमरु प्रथम नित तुमको गणेशा

satguru bhajan lyrics in hindi

~ balihari jau mhara satguru ne ~

balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.
kiya bharam sab dur mera,
kiya bharam sab dur .
balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.


pyala paya prem ka,
ghol sanjivan mul.
chadi khumari prem ki re,
man ho gaya chakna chur.
balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.


kumta ghati or sumta badhi,
ur aanand bhayo bharpur.
rag dwesh jagat ki meti,
ab man bhayo manjur.
balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.


viman hoy prakash likhayo,
bana shashi bana sur.
manvo mast reve anhad me,
sun ke aanand tur.
balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.


sabad sunya gurudevji ra,
mukh su pad gai dhud.
dharmidas ko aay milya,
satguru shyam hujur.
balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.


balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.
kiya bharam sab dur mera,
kiya bharam sab dur .
balihari jau mara satguru ne ,
kiya bharam sab dur.


जरूर पढ़ें :- राम सुमर ले सुकृत करले

जरूर पढ़ें :- भांग तंबाकू पियो महादेव जी

गुरुदेव भजन लिरिक्स इन हिंदी

~ बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने ~

बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।
किया भरम सब दूर मेरा,किया भरम सब दूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।

प्याला पाया प्रेम का ,घोल संजीवन मूल।
चढ़ी खुमारी प्रेम की रे,मन हो गया चकनाचूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।

कुमता घटी और सुमता बढ़ी,उर आनन्द भयो भरपूर।
राग द्वेष जगत की मेटी,अब मन भयो मंजूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।

विमल होय प्रकाश लिखायो,बना शशि बना सूर।
मनवो मस्त रेवे अनहद में,सुन के आनंद तूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।

शबद सुण्या गुरुदेवजी रा,मुख सु पड गई धूड़।
धर्मिदास को आय मिल्या,सतगुरु श्याम हुजूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।

बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।
किया भरम सब दूर मेरा,किया भरम सब दूर।
बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने,किया भरम सब दूर।

chotu singh rawna ke bhajan

भजन :- किया भरम सब दूर
गायक :- छोटू सिंह रावणा
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- चांदनी तेरस उजियाली

जरूर पढ़ें :- दर्शन दो घनश्याम

पिछला लेखसतगुरु पारस खान है भजन लिरिक्स | satguru paras khan hai bhajan lyrics
अगला लेखधर धारू रे पाँव धराणा रे भजन लिरिक्स | Dhar Dharu Re Paav Dharana bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

two + eight =