थारी माता केवे गोपी चंदा भजन लिरिक्स | thari mata ke gopichanda bhajan lyrics

430

थारी माता केवे गोपी चंदा भजन लिरिक्स

थारी माता केवे गोपी चंदा thari mata ke gopichanda bhajan raja gopichand bhajan lyrics

 ।। दोहा ।।
पाव पलक रो नहीं पतों ,तू करे काल की बात।
कुण जाणे क्या होवसि ,उगतड़े प्रभात।


~ थारी माता केवे गोपीचन्दा ~

थारी माता केवे गोपी चंदा,
तू छोड़ माया रा फंदा।
थारी माता केवे गोपी चंदा,
तू तज माया रा फंदा।


तेरा पिता बंगाल रा राजा,
जारे बाजता छत्तीसों बाजा।
राजा वे नर गया रे विलाई ,
जारी खोज खबर ना पायी।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,
तू छोड़ माया रा फंदा।


लंका पति रावण होई ,
जारे संतो मानता सोई।
वाने काल गियो गटकाई,
ज्यारे कुल में बचियो ना कोई।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,
तू छोड़ माया रा फंदा।


मीठे संग माखी ललचाना ,
मीठे संग प्राण गवाना।
बेटा जैसे किट पतंगा ,
नर वैसे माया के संगा।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,
तू छोड़ माया रा फंदा।


राजा हरिचंद तारामति नारी,
वे भरयो नीच घर पानी।
रोहितास कंवर बिन रानी ,
वा स्वर्गा री हेलाणी।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,
तू छोड़ माया रा फंदा।


गुरु केवे कबीर धिन माता,
माने राख्या चौरासी में जाता।
मारे मेर करी गुरु दाता,
में फिर जन्म नही पाता।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,
तू छोड़ माया रा फंदा।


जरूर पढ़ें :- सीता माता की गोदी में

जरूर पढ़ें :- छोड़ मन तू मेरा मेरा

raja gopichand bhajan lyrics in hindi

~ thari mata ke gopichanda ~

thari mata keve gopichanda,
tu chhod maya ra fanda.
thari mata keve gopichanda,
tu taj maya ra fanda.


tera pita bangal ra raja,
jare bajta chhttiso baja.
raja ve nar gaya re vilai,
jari khoj khabar na payi.
thari mata keve gopichanda,
tu chhod maya ra fanda.


lanka pati ravan hoi,
jare santo manta soi.
vane kal giyo gatkai,
jyare kul me bachiyo na koi.
thari mata keve gopichanda,
tu chhod maya ra fanda.


mithe sang makhi lalchana,
mithe sang pran gawana.
beta jaise kit patnaga,
nar vaise maya ke sanga.
thari mata keve gopichanda,
tu chhod maya ra fanda.


raja harichand taramati nari,
ve bharyo nich ghar pani.
rohitas kanvar bin rani,
wa swarga ri helani.
thari mata keve gopichanda,
tu chhod maya ra fanda.


guru keve kabir dhin mata,
mane rakhya chorasi me jata.
mare mer kari guru data,
me fir janm nhi pata.
thari mata keve gopichanda,
tu chhod maya ra fanda.


जरूर पढ़ें :- क्या भरोसा है इस जिंदगी का

जरूर पढ़ें :- जिसको नहीं है बोध

तू छोड़ माया रा फंदा भजन लिरिक्स in hindi

~ गोपीचंद भजन ~

थारी माता केवे गोपी चंदा,तू छोड़ माया रा फंदा।
थारी माता केवे गोपी चंदा,तू तज माया रा फंदा।

तेरा पिता बंगाला रा राजा,जारे बाजता छत्तीसों बाजा।
राजा वे नर गया रे विलाई ,जारी खोज खबर ना पायी।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,तू छोड़ माया रा फंदा।

लंका पति रावण होई ,जारे संतो मानता सोई।
वाने काल गियो गटकाई,ज्यारे कुल में बचियो ना कोई।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,तू छोड़ माया रा फंदा।

मीठे संग माखी ललचाना ,मीठे संग प्राण गवाना।
बेटा जैसे किट पतंगा ,नर वैसे माया के संगा।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,तू छोड़ माया रा फंदा।

राजा हरिचंद तारामति नारी,वे भरयो नीच घर पानी।
रोहितास कंवर बिन रानी ,वा स्वर्गा री हेलाणी।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,तू छोड़ माया रा फंदा।

गुरु केवे कबीर धिन माता,माने राख्या चौरासी में जाता।
मारे मेर करी गुरु दाता,में फिर जन्म नही पाता।
थारी माता केवे गोपीचन्दा,तू छोड़ माया रा फंदा।

sunita swami ke bhajan lyrics 

 

भजन :- थारी माता केवे गोपीचन्दा
गायिका :- सुनीता स्वामी
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- दुनिया में मां बाप भगवान कहिजे

जरूर पढ़ें :- डस गयो कालो रे कंवर रोहिताश

पिछला लेखशिव अमृतवाणी हिंदी भजन लिरिक्स | shiv amritwani song lyrics
अगला लेखजानो पड़सी रे पंछी या बागा ने छोड़ भजन लिरिक्स | jano padsi re panchi bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

twenty + 17 =