भए प्रगट कृपाला दीन दयाला लिरिक्स | bhaye pragat kripala deen dayala lyrics

686

भए प्रगट कृपाला दीन दयाला लिरिक्स

भए प्रगट कृपाला दीन दयाला लिरिक्स bhaye pragat kripala deen dayala ram stuti lyrics in hindi

 – श्लोक –
श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन ,हरण भवभय दारुणं ।
नव कंज लोचन कंज मुख ,कर कंज पद कंजारुणं।


– भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला –

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला,
कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी,
अद्भुत रूप बिचारी


लोचन अभिरामा, तनु घनस्यामा,
निज आयुध भुजचारी।
भूषन बनमाला, नयन बिसाला,
सोभासिंधु खरारी


कह दुइ कर जोरी, अस्तुति तोरी,
केहि बिधि करूं अनंता।
माया गुन ग्यानातीत अमाना,
वेद पुरान भनंता।


करुना सुख सागर, सब गुन आगर,
जेहि गावहिं श्रुति संता।
सो मम हित लागी, जन अनुरागी,
भयउ प्रगट श्रीकंता।


ब्रह्मांड निकाया, निर्मित माया,
रोम रोम प्रति बेद कहै।
मम उर सो बासी, यह उपहासी,
सुनत धीर मति थिर न रहै।


उपजा जब ग्याना, प्रभु मुसुकाना,
चरित बहुत बिधि कीन्ह चहै।
कहि कथा सुहाई, मातु बुझाई,
जेहि प्रकार सुत प्रेम लहै।


माता पुनि बोली, सो मति डोली,
तजहु तात यह रूपा।
कीजै सिसुलीला, अति प्रियसीला,
यह सुख परम अनूपा।


सुनि बचन सुजाना, रोदन ठाना,
होइ बालक सुरभूपा।
यह चरित जे गावहिं, हरिपद पावहिं,
ते न परहिं भवकूपा।


भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला,
कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी,
अद्भुत रूप बिचारी।


जरूर पढ़ें :- तू मेरे सामने है मैं तेरे रूबरू

जरूर पढ़ें :- जाने क्या जादू कर गयो रे

ram stuti lyrics in hindi

!! bhaye pragat kripala deen dayala !!

bhe pragat krpaala, deenadayaala,
kausalya hitakaaree.
harashit mahataaree, muni man haaree,
adbhut roop bichaaree


lochan abhiraama, tanu ghanasyaama,
nij aayudh bhujachaaree.
bhooshan banamaala, nayan bisaala,
sobhaasindhu kharaaree


kah dui kar joree, astuti toree,
kehi bidhi karoon ananta.
maaya gun gyaanaateet amaana,
ved puraan bhananta.


karuna sukh saagar, sab gun aagar,
jehi gaavahin shruti santa.
so mam hit laagee, jan anuraagee,
bhayu pragat shreekanta.


brahmaand nikaaya, nirmit maaya,
rom rom prati bed kahai.
mam ur so baasee, yah upahaasee,
sunat dheer mati thir na rahai.


upaja jab gyaana, prabhu musukaana,
charit bahut bidhi keenh chahai.
kahi katha suhaee, maatu bujhaee,
jehi prakaar sut prem lahai.


maata puni bolee, so mati dolee,
tajahu taat yah roopa.
keejai sisuleela, ati priyaseela,
yah sukh param anoopa.


suni bachan sujaana, rodan thaana,
hoi baalak surabhoopa.
yah charit je gaavahin, haripad paavahin,
te na parahin bhavakoopa.


bhe pragat krpaala, deenadayaala,
kausalya hitakaaree.
harashit mahataaree, muni man haaree,
adbhut roop bichaaree.


जरूर पढ़ें :- हम कथा सुनाते राम सकल

जरूर पढ़ें :- चाहे छोड़ जाए सब साथ

राम स्तुति लिरिक्स इन हिंदी

!! भए प्रगट कृपाला दीन दयाला !!

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला, कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी, अद्भुत रूप बिचारी

लोचन अभिरामा, तनु घनस्यामा, निज आयुध भुजचारी।
भूषन बनमाला, नयन बिसाला, सोभासिंधु खरारी

कह दुइ कर जोरी, अस्तुति तोरी, केहि बिधि करूं अनंता।
माया गुन ग्यानातीत अमाना, वेद पुरान भनंता।

करुना सुख सागर, सब गुन आगर, जेहि गावहिं श्रुति संता।
सो मम हित लागी, जन अनुरागी, भयउ प्रगट श्रीकंता।

ब्रह्मांड निकाया, निर्मित माया, रोम रोम प्रति बेद कहै।
मम उर सो बासी, यह उपहासी, सुनत धीर मति थिर न रहै।

उपजा जब ग्याना, प्रभु मुसुकाना, चरित बहुत बिधि कीन्ह चहै।
कहि कथा सुहाई, मातु बुझाई, जेहि प्रकार सुत प्रेम लहै।

माता पुनि बोली, सो मति डोली, तजहु तात यह रूपा।
कीजै सिसुलीला, अति प्रियसीला, यह सुख परम अनूपा।

सुनि बचन सुजाना, रोदन ठाना, होइ बालक सुरभूपा।
यह चरित जे गावहिं, हरिपद पावहिं, ते न परहिं भवकूपा।

भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला, कौसल्या हितकारी।
हरषित महतारी, मुनि मन हारी, अद्भुत रूप बिचारी।

राजन जी महाराज के भजन video 

 

भजन :- भए प्रगट कृपाला, दीनदयाला
गायक :- राजन जी महाराज
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- क्यों सजते हो कन्हैया तुम

जरूर पढ़ें :- कान्हा मेरे मुझको भी सेवा में

पिछला लेखतू मेरे सामने है मैं तेरे रूबरू भजन लिरिक्स | tu mere rubaru main tere rubaru bhajan lyrics
अगला लेखमानुष जन्म अनमोल रे मिट्टी में ना रोल रे भजन लिरिक्स | manush janam anmol re bhajan lyrics

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

2 × 1 =