कुमकुम ना पगला पड्या गरबा लिरिक्स | kumkum na pagla padya garba lyrics

5619

कुमकुम ना पगला पड्या गरबा लिरिक्स

कुमकुम ना पगला पड्या  kumkum na pagla padya gujarati garba hindi lyrics

 ।। कुमकुम ना पगला पड्या ।।

कुमकुम ना पगला पड्या ,
माडी ना हेत ढळया।
जोवा लोक टोळे वळया रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।


माड़ी तू जो पधार ,
सजी सोळे सणगार।
आवि मारे रे द्वार ,
करजे पावन पगथार।
दीपे दरबार ,
रेले रंगनी रसधार।
गरबो गोळ गोळ घुमतो ,
थाये साकार।
थाये साकार, थाये साकार।
चाचर ना चौक हांल्या,
दिवदिया ज्योत जग्या।
मनड़ा हारोहार हाल्या रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….


माँ तू तज नो अम्बार ,
माँ तू गुणनो भंडार।
माँ तू दर्शन देशे तो ,
थाशे आनंद अपार।
भवो भवनों आधार ,
दया दाखवी दातार।
कृपा कर्जे अम रंक पर ,
थोड़ी लगार।
थोड़ी लगार , थोड़ी लगार।
सूरज ना तेज तप्या ,
चंद्रकिरण हिये वस्या।
तारलिया टम टम्या रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….


तारो डुँगरे आवास ,
बाणे बाणे तारो वास।
तारा मंदिरिये जोगणियु ,
रमे रुड़ा रास।
परचो देजे हे मात,
कर्जे सोने सहाय।
माड़ी हु छू तारो दास ,
तारा गुणनो हु दास।
गुण नो हु दास , गुण नो हु दास।
माड़ी तारा नाम ढल्या ,
परचा तारा खल्के चड्या।
दर्शन थी पावन थया रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….


तारा गुण ला अपार ,
तू छो सोनो तारणहार।
करिस सब नू कल्याण ,
मात सब नू बेड़ो पार।
सब नू बेड़ो पार ,सब नू बेड़ो पार।
माड़ी तने अर्जी करू ,
कुलडा तारा चरणे धरु।
नमी नमी पाय पडू रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….


कुमकुम ना पगला पड्या ,
माडी ना हेत ढळया।
जोवा लोक टोळे वळया रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।


जरूर पढ़ें :- पंखिड़ा रे उड़ी जाजे पावागढ़

जरूर पढ़ें :- तारा विना श्याम मने

gujarati garba hindi lyrics

!! kumkum na pagla padya !!

kumakum na pagala padya ,
maadee na het dhalaya.
jova lok tole valaya re.
madi tara aav vana aindhaan thaya.


maadee too jo padhaar ,
sajee sole sanagaar.
aavi maare re dvaar ,
karaje paavan pagathaar.
deepe darabaar ,
rele ranganee rasadhaar.
garabo gol gol ghumato ,
thaaye saakaar.
thaaye saakaar, thaaye saakaar.
chaachar na chauk haanlya,
divadiya jyot jagya.
manada haarohaar haalya re.
madi tara aav vana aindhaan thaya.
kumakum na ….


maan too taj no ambaar ,
maan too gunano bhandaar.
maan too darshan deshe to ,
thaashe aanand apaar.
bhavo bhavanon aadhaar ,
daya daakhavee daataar.
krpa karje am rank par ,
thodee lagaar.
thodee lagaar , thodee lagaar.
sooraj na tej tapya ,
chandrakiran hiye vasya.
taaraliya tam tamya re.
madi tara aav vana aindhaan thaya.
kumakum na ….


taaro dungare aavaas ,
baane baane taaro vaas.
taara mandiriye joganiyu ,
rame ruda raas.
paracho deje he maat,
karje sone sahaay.
maadee hu chhoo taaro daas ,
taara gunano hu daas.
gun no hu daas , gun no hu daas.
maadee taara naam dhalya ,
paracha taara khalke chadya.
darshan thee paavan thaya re.
madi tara aav vana aindhaan thaya.
kumakum na ….


taara gun la apaar ,
too chho sono taaranahaar.
karis sab noo kalyaan ,
maat sab noo bedo paar.
sab noo bedo paar ,sab noo bedo paar.
maadee tane arjee karoo ,
kulada taara charane dharu.
namee namee paay padoo re.
madi tara aav vana aindhaan thaya.
kumakum na ….


kumakum na pagala padya ,
maadee na het dhalaya.
jova lok tole valaya re.
madi tara aav vana aindhaan thaya.


जरूर पढ़ें :- रमतो भमतो जाय मां नो गरबो

जरूर पढ़ें :- रूस गयो नंदलाल मारो

गरबा लिरिक्स इन हिंदी

!! कुमकुम ना पगला पड्या !!

कुमकुम ना पगला पड्या ,माडी ना हेत ढळया।
जोवा लोक टोळे वळया रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।

माड़ी तू जो पधार ,सजी सोळे सणगार।
आवि मारे रे द्वार ,करजे पावन पगथार।
दीपे दरबार ,रेले रंगनी रसधार।
गरबो गोळ गोळ घुमतो , थाये साकार।
थाये साकार, थाये साकार।
चाचर ना चौक हांल्या, दिवदिया ज्योत जग्या।
मनड़ा हारोहार हाल्या रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….

माँ तू तज नो अम्बार , माँ तू गुणनो भंडार।
माँ तू दर्शन देशे तो ,थाशे आनंद अपार।
भवो भवनों आधार , दया दाखवी दातार।
कृपा कर्जे अम रंक पर ,थोड़ी लगार।
थोड़ी लगार , थोड़ी लगार।
सूरज ना तेज तप्या , चंद्रकिरण हिये वस्या।
तारलिया टम टम्या रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….

तारो डुँगरे आवास , बाणे बाणे तारो वास।
तारा मंदिरिये जोगणियु ,रमे रुड़ा रास।
परचो देजे हे मात, कर्जे सोने सहाय।
माड़ी हु छू तारो दास , तारा गुणनो हु दास।
गुण नो हु दास , गुण नो हु दास।
माड़ी तारा नाम ढल्या ,परचा तारा खल्के चड्या।
दर्शन थी पावन थया रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….

तारा गुण ला अपार , तू छो सोनो तारणहार।
करिस सब नू कल्याण ,मात सब नू बेड़ो पार।
सब नू बेड़ो पार ,सब नू बेड़ो पार।
माड़ी तने अर्जी करू ,कुलडा तारा चरणे धरु।
नमी नमी पाय पडू रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।
कुमकुम ना ….

कुमकुम ना पगला पड्या ,माडी ना हेत ढळया।
जोवा लोक टोळे वळया रे।
माड़ी तारा आव वाना ऐंधाण थया।

 daksha vegda garba video 

 

भजन :- कुमकुम ना पगला पड्या
गायिका :- दक्षा वेगड़ा
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- काया सुनी सुनी लागे

जरूर पढ़ें :- देश ये दीवानो ऐसो देखियो

पिछला लेखपंखिड़ा रे उड़ी जाजे पावागढ़ गरबा लिरिक्स | pankhida re udi ne jaje pavagadh re lyrics lyrics
अगला लेखसमय का पहिया चलता है भजन लिरिक्स | samay ka pahiya chalta hai bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

19 + two =