जुबान जैसी मीठी जगत में जुबान जैसी खारी क्या भजन लिरिक्स | juban jaisi meethi jagat mein bhajan lyrics

1166

जुबान जैसी मीठी जगत में जुबान जैसी खारी क्या भजन लिरिक्स

जुबान जैसी मीठी जगत में जुबान जैसी खारी क्या juban jaisi meethi jagat mein sunita swami ke bhajan

 ।। दोहा ।।
सबदा मेरा मर गया , सबदा छोडियो राज।
ज्यो ज्यो सबदा विचारिया ,वारा सरिया काज।


।। जुबान जेसी मीठी जगत में ।।

जुबान जेसी मीठी जगत में ,
जुबान जैसी खारी क्या।
मानुस मत ना फिरो फटकता ,
जीते बाजी हारो क्या।


पानी ना जाती घड़ा ना धोती ,
वो नारी पनिहारी क्या।
अपने पति संग कपट राखती ,
वो पतिव्रता नारी क्या।
जुबान जेसी ….


ब्राह्मण होकर वेद ना पड़ता ,
वो ब्राह्मण ब्रह्मचारी क्या।
साधु होकर तिरिया रखता ,
वो साधु तपधारी क्या।
जुबान जेसी ….


हाकम होकर न्याय ना करता ,
उसकी हाकमदारी क्या।
मित्र होकर धोका करले ,
उस मित्र संग यारी क्या।
जुबान जेसी ….


बिन कुए एक बाग़ लगाया ,
फूलन की हुसियारी क्या।
बिन महावत एक हाथी देख्या ,
बिन राजा असवारी क्या।
जुबान जेसी ….


क्षत्रिये होकर पीठ दिखावे ,
वो राजा क्षत्रधारी क्या
अणतुराम उस्ताद हमारा ,
मूरख संग लाचारी क्या।
जुबान जेसी ….


जिस नगरी में दया धर्म नहीं ,
उस नगरी में रहना क्या।
कहे मछँदर सुन जती गोरख ,
नहीं माने उसे कहना क्या।


जुबान जेसी मीठी जगत में ,
जुबान जैसी खारी क्या।
मानुस मत ना फिरो फटकता ,
जीते बाजी हारो क्या।


जरूर पढ़ें :- सतगुरु मेरा ऐसा रंग चढ़ाया

जरूर पढ़ें :- रटो पार्वती के भरतार

old desi bhajan marwadi lyrics in hindi

!! juban jaisi meethi jagat mein !!

jubaan jesee meethee jagat mein ,
jubaan jaisee khaaree kya.
maanus mat na phiro phatakata ,
jeete baajee haaro kya.


paanee na jaatee ghada na dhotee ,
vo naaree panihaaree kya.
apane pati sang kapat raakhatee ,
vo pativrata naaree kya.
jubaan jesee ….


braahman hokar ved na padata ,
vo braahman brahmachaaree kya.
saadhu hokar tiriya rakhata ,
vo saadhu tapadhaaree kya.
jubaan jesee ….


haakam hokar nyaay na karata ,
usakee haakamadaaree kya.
mitr hokar dhoka karale ,
us mitr sang yaaree kya.
jubaan jesee ….


bin kue ek baag lagaaya ,
phoolan kee husiyaaree kya.
bin mahaavat ek haathee dekhya ,
bin raaja asavaaree kya.
jubaan jesee ….


kshatriye hokar peeth dikhaave ,
vo raaja kshatradhaaree kya
anaturaam ustaad hamaara ,
moorakh sang laachaaree kya.
jubaan jesee ….


jis nagaree mein daya dharm nahin ,
us nagaree mein rahana kya.
kahe machhandar sun jatee gorakh ,
nahin maane use kahana kya.


jubaan jesee meethee jagat mein ,
jubaan jaisee khaaree kya.
maanus mat na phiro phatakata ,
jeete baajee haaro kya.


जरूर पढ़ें :- मुझे दिल की बीमारी है

जरूर पढ़ें :- थारे घट में विराजे भगवान

सुनीता स्वामी के भजन in hindi lyrics

!! जुबान जैसी मीठी जगत में !!

जुबान जेसी मीठी जगत में ,जुबान जैसी खारी क्या।
मानुस मत ना फिरो फटकता ,जीते बाजी हारो क्या।

पानी ना जाती घड़ा ना धोती ,वो नारी पनिहारी क्या।
अपने पति संग कपट राखती ,वो पतिव्रता नारी क्या।
जुबान जेसी ….

ब्राह्मण होकर वेद ना पड़ता ,वो ब्राह्मण ब्रह्मचारी क्या।
साधु होकर तिरिया रखता ,वो साधु तपधारी क्या।
जुबान जेसी ….

हाकम होकर न्याय ना करता ,उसकी हाकमदारी क्या।
मित्र होकर धोका करले ,उस मित्र संग यारी क्या।
जुबान जेसी ….

बिन कुए एक बाग़ लगाया ,फूलन की हुसियारी क्या।
बिन महावत एक हाथी देख्या ,बिन राजा असवारी क्या।
जुबान जेसी ….

क्षत्रिये होकर पीठ दिखावे ,वो राजा क्षत्रधारी क्या।
अणतुराम उस्ताद हमारा ,मूरख संग लाचारी क्या।
जुबान जेसी ….

जिस नगरी में दया धर्म नहीं ,उस नगरी में रहना क्या।
कहे मछँदर सुन जती गोरख ,नहीं माने उसे कहना क्या।

जुबान जेसी मीठी जगत में ,जुबान जैसी खारी क्या।
मानुस मत ना फिरो फटकता ,जीते बाजी हारो क्या।

sunita swami ke bhajan video

भजन :- जुबान जैसी मीठी जगत में
गायिका :- सुनीता स्वामी
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- सभा है भरी भगवन

जरूर पढ़ें :- चल हंसा उस देश

पिछला लेखसतगुरु मेरा ऐसा रंग चढ़ाया भजन लिरिक्स | satguru mera aisa rang chadhaya bhajan lyrics
अगला लेखबस बात जरासी होसी लिखी रे तकदीर भजन लिरिक्स | hosi likhi re takdeer bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

fifteen + eighteen =