हरी ने रूणीचो बसायो भजन लिरिक्स | hari ne runicho basayo bhajan lyrics

390

हरी ने रूणीचो बसायो भजन लिरिक्स

हरी ने रूणीचो बसायो hari ne runicho basayo बाबा रामदेव जी भजन लिरिक्स

 ।। दोहा ।।
श्री रामदेव रक्षा करो, हरो संकट संताप।
सुखकर्ता समरथ धणी, जपु निरंतर जाप।


।। हरी न रूणीचो बसायो ।।

हरी ने रूणीचो बसायो ,
प्रभु ने रुणीचो बसायो ,
द्वारिका से आय।


पगा उभाणा गया तिरथां ,
अन्न रति नहीं खायो।
जाय द्वारका में डेरा कीन्हा ,
प्रभु जी के आगे वेतो ,
तो रुदन मचायो रे।
द्वारिका से आय।
हरी ने …..


हाथ जोड़ अजमलजी बोल्या,
के में पाप कमायो ।
एक पुत्र जलम नहीं मेर ,
बैठ चरणा माहि बाँके ,
नीर बहायो रे।
द्वारिका से आय।
हरी ने …..


इतनी कह बड्या समदर में ,
सिंघासन थर्रायो।
जद मालिक ने दया उपजी ,
भाग्यो ही दोड्यो सांवरो ,
पलका में आयो रे।
द्वारिका से आय।
हरी ने …..


रतनागर में नीर घणों है ,
ठाकुर जी समझावे।
माथे ऊपर जल फिर जाज्यो ,
हटजा भगत रामा ,
हटजा हटायो रे।
द्वारिका से आय।
हरी ने …..


अजमल जी केणो नहीं माने ,
आगो आगो ध्यायो।
जद मालिक ने दया उपजी ,
चतुर्भुज रूप साँवरो ,
पल में दिखायो रे।
द्वारिका से आय।
हरी ने …..


भगत जाण के कारज सारया ,
वचना को बांध्यो आयो।
अजमल जी का जनम सुधारिया ,
ईश्वरदास अरठ रामा ,
भजन बनायो रे।
द्वारिका से आय।
हरी ने …..


जरूर पढ़ें :- मैया तेरा भगत करे अरदास 

जरूर पढ़ें :- चौरासी की नींद में सतगुरु जगा दिया

ramdev baba bhajan lyrics in hindi

!! hari ne runicho basayo !!

haree ne rooneecho basaayo ,
prabhu ne runeecho basaayo ,
dvaarika se aay.


paga ubhaana gaya tirathaan ,
ann rati nahin khaayo.
jaay dvaaraka mein dera keenha ,
prabhu jee ke aage veto ,
to rudan machaayo re.
dvaarika se aay.
haree ne …..


haath jod ajamalajee bolya,
ke mein paap kamaayo .
ek putr jalam nahin mer ,
baith charana maahi baanke ,
neer bahaayo re.
dvaarika se aay.
haree ne …..


itanee kah badya samadar mein ,
singhaasan tharraayo.
jad maalik ne daya upajee ,
bhaagyo hee dodyo saanvaro ,
palaka mein aayo re.
dvaarika se aay.
haree ne …..


ratanaagar mein neer ghanon hai ,
thaakur jee samajhaave.
maathe oopar jal phir jaajyo ,
hataja bhagat raama ,
hataja hataayo re.
dvaarika se aay.
haree ne …..


ajamal jee keno nahin maane ,
aago aago dhyaayo.
jad maalik ne daya upajee ,
chaturbhuj roop saanvaro ,
pal mein dikhaayo re.
dvaarika se aay.
haree ne …..


bhagat jaan ke kaaraj saaraya ,
vachana ko baandhyo aayo.
ajamal jee ka janam sudhaariya ,
eeshvaradaas arath raama ,
bhajan banaayo re.
dvaarika se aay.
haree ne …..


जरूर पढ़ें :- दो वरदान मुझे भक्ति का

जरूर पढ़ें :-ओम शिव ओम शिव रटता जा

बाबा रामदेव जी भजन लिरिक्स in hindi

!! हरी ने रूणीचो बसायो !!

हरी ने रूणीचो बसायो ,
प्रभु ने रुणीचो बसायो ,द्वारिका से आय।

पगा उभाणा गया तिरथां ,अन्न रति नहीं खायो।
जाय द्वारका में डेरा कीन्हा ,
प्रभु जी के आगे वेतो ,तो रुदन मचायो रे।
द्वारिका से आय। हरी ने …..

हाथ जोड़ अजमलजी बोल्या, के में पाप कमायो ।
एक पुत्र जलम नहीं मेर ,
बैठ चरणा माहि बाँके ,नीर बहायो रे।
द्वारिका से आय। हरी ने …..

इतनी कह बड्या समदर में ,सिंघासन थर्रायो।
जद मालिक ने दया उपजी ,
भाग्यो ही दोड्यो सांवरो ,पलका में आयो रे।
द्वारिका से आय। हरी ने …..

रतनागर में नीर घणों है ,ठाकुर जी समझावे।
माथे ऊपर जल फिर जाज्यो ,
हटजा भगत रामा ,हटजा हटायो रे।
द्वारिका से आय। हरी ने …..

अजमल जी केणो नहीं माने ,आगो आगो ध्यायो।
जद मालिक ने दया उपजी ,
चतुर्भुज रूप साँवरो ,पल में दिखायो रे।
द्वारिका से आय। हरी ने …..

भगत जाण के कारज सारया ,वचना को बांध्यो आयो।
अजमल जी का जनम सुधारिया ,
ईश्वरदास अरठ रामा ,भजन बनायो रे।
द्वारिका से आय। हरी ने …..

रामदेवजी का भजन video

भजन :- हरी न रूणीचो बसायो
गायक :- रतिनाथ जी महाराज
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- मन मस्त हुआ फिर क्या बोले 

जरूर पढ़ें :- हंस हंस मिठो जग में बोलणो

पिछला लेखमैया तेरा भगत करे अरदास भजन लिरिक्स | Tera Bhagat Kare Ardasa bhajan lyrics
अगला लेखचल हंसा उस देश समद जहां मोती रे भजन लिरिक्स | chal hansa us desh bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

one × two =