चेत रे नर चेत कबीर चेतावनी भजन लिरिक्स | chet re nar chet re chidiya chug gayi khet bhajan lyrics

2258

चेत रे नर चेत कबीर चेतावनी भजन लिरिक्स

चेत रे नर चेत कबीर चेतावनी भजन chet re nar chet re chidiya chug gayi khet prahlad singh tipaniya bhajan

 ।। दोहा ।।
आछे दिन पाछे गये ,गुरु से किया नहीं हेत।
अब पछतावे क्या करें, जब चिड़िया चुग गयी खेत


।। चेत रे नर चेत रे ।।

चेत रे नर चेत रे ,
थारो चिड़िया चुग गयी खेत रे।
नर नुगरा रे…..।
अब तो मन में चेत रे ,
तू अब तो दिल में चेत रे।


थारे गुरु के नाम से आंटी ,
अब कुण चढ़ावे थारी घाटी।
नर नुगरा रे…..।
अब तो मन में चेत रे ,
तू अब तो दिल में चेत रे।
चेत रे …..


थारे गुरूजी बतावेगा भेद रे ,
ज्यासे कटे करम की रेख रे।
नर नुगरा रे…..।
अरे अब तो मन में चेत रे ,
हाँ अब तो दिल में चेत रे।
चेत रे …..


थोड़ो समझ देख ले आखिर रे ,
अब ढाढर खहिज्यो आखिर रे।
नर नुगरा रे…..।
अरे अब तो मन में चेत रे ,
हाँ अब तो दिल में चेत रे।
चेत रे …..


गुरु चरण दास की वाणी रे।
जिन सार शब्द पहचानी रे।
नर नुगरा रे…..।
एजी अब तो मन में चेत रे
हाँ अब तो दिल में चेत रे


चेत रे नर चेत रे ,
थारो चिड़िया चुग गयी खेत रे।
नर नुगरा रे…..।
अब तो मन में चेत रे ,
तू अब तो दिल में चेत रे।


जरूर पढ़ें :- कहाँ से आया कहाँ जाओगे

जरूर पढ़ें :- चाल सखी सत्संग में चला

kabir bhajan lyrics in English

!! chidiya chug gayi khet !!

chet re nar chet re ,
thaaro chidiya chug gayee khet re.
nar nugara re.
ab to man mein chet re ,
too ab to dil mein chet re.


thaare guru ke naam se aantee ,
ab kun chadhaave thaaree ghaatee.
nar nugara re.
ab to man mein chet re ,
too ab to dil mein chet re.
chet re …..


thaare guroojee bataavega bhed re ,
jyaase kate karam kee rekh re.
nar nugara re.
are ab to man mein chet re ,
haan ab to dil mein chet re.
chet re …..


thodo samajh dekh le aakhir re ,
ab dhaadhar khahijyo aakhir re.
nar nugara re.
are ab to man mein chet re ,
haan ab to dil mein chet re.
chet re …..


guru charan daas kee vaanee re.
jin saar shabd pahachaanee re.
nar nugara re.
ejee ab to man mein chet re
haan ab to dil mein chet re


chet re nar chet re ,
thaaro chidiya chug gayee khet re.
nar nugara re.
ab to man mein chet re ,
too ab to dil mein chet re.


जरूर पढ़ें :- फकीरी जीवत धुके रे मसाण

जरूर पढ़ें :- हेली मारी रंग में रंग मिल जाए

कबीर भजन माला हिंदी lyrics

!! चेत रे नर चेत रे !!

चेत रे नर चेत रे ,थारो चिड़िया चुग गयी खेत रे।
नर नुगरा रे।
अब तो मन में चेत रे ,तू अब तो दिल में चेत रे।

थारे गुरु के नाम से आंटी ,अब कुण चढ़ावे थारी घाटी।
नर नुगरा रे।
अब तो मन में चेत रे ,तू अब तो दिल में चेत रे।
चेत रे …..

थारे गुरूजी बतावेगा भेद रे ,ज्यासे कटे करम की रेख रे।
नर नुगरा रे।
अरे अब तो मन में चेत रे ,हाँ अब तो दिल में चेत रे।
चेत रे …..

थोड़ो समझ देख ले आखिर रे , अब ढाढर खहिज्यो आखिर रे।
नर नुगरा रे।
अरे अब तो मन में चेत रे ,हाँ अब तो दिल में चेत रे।
चेत रे …..

गुरु चरण दास की वाणी रे। जिन सार शब्द पहचानी रे।
नर नुगरा रे।
एजी अब तो मन में चेत रेहाँ अब तो दिल में चेत रे

चेत रे नर चेत रे ,थारो चिड़िया चुग गयी खेत रे।
नर नुगरा रे।
अब तो मन में चेत रे ,तू अब तो दिल में चेत रे।

प्रहलाद सिंह टिपानिया भजन | prahlad singh tipaniya bhajan video

भजन :- चेत रे नर चेत रे
गायक :- प्रह्लाद सिंह टिपान्या
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- शिवजी रम रया पहाड़ा मे

जरूर पढ़ें :- कालो भेरू कला में खेले

पिछला लेखकहाँ से आया कहाँ जाओगे भजन लिरिक्स | kaha se aaya kahan jaoge lyrics
अगला लेखजरा हल्के गाड़ी हांको मेरे राम गाड़ी वाले भजन लिरिक्स | jara halke gadi hako lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

7 + twelve =