लटको जोगी छोड़ दे रे भजन भजन लिरिक्स | latko jogi chod de bhajan lyrics

2551

लटको जोगी छोड़ दे रे भजन भजन लिरिक्स

लटको जोगी छोड़ दे रे भजन latko jogi chod de bhajan, chotu singh rawna bhajan,मारवाड़ी देसी भजन, marwadi bhajan desi

 ~ लटको जोगी छोड़ दे रे ~

लटको जोगी छोड़ दे रे जोगिया रे ,
असल फकीरी धार ।
दोरो धूरी रा राजा तापणो रे जोगिया रे ,
चलणो खांडे वाली धार ।


जटा बढ़ाया हरि ना मिले रे जोगिया रे ,
हर कोई लेवे बढ़ाय ।
जटा बढ़ावे वन रो रींछड़ो रे जोगिया रे ,
कद अमरापुर जाय ॥


मुण्ड मुंडाया हरि ना मिले रे जोगिया रे ,
हर कोई लेवे मुंडाय ।
मुण्ड मुंडावे घर री गाडरी रे जोगिया रे ,
कद अमरापुर जाय ॥


नहाया धोयां हरि ना मिले रे जोगिया रे ,
हर कोई लेवे नहाय ।
जल में रेवे जल री माछली रे जोगिया रे ,
नहीं अमरापुर जाय ॥


राख लगायां हरि ना मिले रे जोगिया रे ,
हर कोई लेवे लगाय ।
राख लगावे तन रे गधेड़ियो रे जोगिया रे ,
कद अमरापुर जाय ॥


बड़ले हिण्डो घालियो रे जोगिया रे ,
तळे लगाई आग ।
नाथ गुलाब ‘ गुरु भेटिया रे जोगिया रे ,
गावे भवानी नाथ ॥


जरूर पढ़ें :- पियाजी री वाणी मत बोल

जरूर पढ़ें :- अभी मैं सरवर तीर भजन

marwadi bhajan desi bhajan lyrics in English

!! latko jogi chod de re !!

latko jogi chhod de re jogiya re,
asal fakiri dhar.
doro dhuri ra raja tapno re jogiya re,
chalno khande wali dhar.


jata badhaya hari na mile re jogiya re ,
har koi leve badhay .
jata badhve van ro richdo re jogiya re,
kad amarapur jaay.


munde mundaya hari na mile re jogiya re,
har koi leve munday.
mund mundave ghar ri gadri re jogiya re,
kad amarapur jaay.


nhaya dhoya hari na mile re jogiya re,
har koi leve nahay.
jal me reve jal ri machhli re jogiya re,
nhi amarapur jaay.


rakh lagaya hari na mile re jogiya re,
har koi leve lagay.
rakh lagave tan re gadhediyo re jogiya re,
kad amarapur jaay.


जरूर पढ़ें :- फकीरी अलबेला रो खेल

जरूर पढ़ें :- सूती होती सात सेज में

मारवाड़ी देसी भजन lyrics in Hindi

!! लटको जोगी छोड़ दे रे !!

लटको जोगी छोड़ दे रे , असल फकीरी धार ।
दोरो धूरी रा राजा तापणो रे , चलणो खांडे वाली धार ।

जटा बढ़ाया हरि ना मिले रे , हर कोई लेवे बढ़ाय ।
जटा बढ़ावे वन रो रींछड़ो रे , कद अमरापुर जाय ॥

मुण्ड मुंडाया हरि ना मिले रे , हर कोई लेवे मुंडाय ।
मुण्ड मुंडावे घर री गाडरी रे , कद अमरापुर जाय ॥

नहाया धोयां हरि ना मिले रे , हर कोई लेवे नहाय ।
जल में रेवे जल री माछली रे , नहीं अमरापुर जाय ॥

राख लगायां हरि ना मिले रे , हर कोई लेवे लगाय ।
राख लगावे तन रे गधेड़ियो रे , कद अमरापुर जाय ॥

बड़ले हिण्डो घालियो रे , तळे लगाई आग ।
नाथ गुलाब ‘ गुरु भेटिया रे , गावे भवानी नाथ ॥

chotu singh rawna bhajan video

भजन :- लटको जोगी छोड़ दे रे
गायक :- छोटू सिंह रावणा
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- संगत करो निर्मल सादरी

जरूर पढ़ें :- अब कैसे होवे जग में जीवन

पिछला लेखपियाजी री वाणी मत बोल भजन लिरिक्स | piyaji ri vani mat bol bhajan lyrics
अगला लेखमैया मोरी मैं नहिं माखन खायो भजन लिरिक्स | maiya mori main nahin makhan khayo bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

15 − six =