ओ पवन वेग से उड़ने वाले भजन लिरिक्स | o pawan veg se udne wale ghode lyrics

1011

ओ पवन वेग से उड़ने वाले भजन लिरिक्स

पवन वेग से ,उड़ने वाले घोड़े o pawan veg se udne wale ghode lyrics, desh bhakti songs hindi lyrics,maharana pratap bhajan

 ~ ओ पवन वेग से उड़ने वाले ~

ओ पवन वेग से ,उड़ने वाले घोड़े ,
तुझ पे सवार है जो ,
मेरा सुहाग है वो ,
रखियो रे आज उणरी लाज ,
ओ पवन वेग से उड़ने वाले घोड़े ।


थारे कन्धा पे मैं तो ,
सोपियो सुहाग ने।
मिटवा नी दीजे चेतक ,
भरियोड़ी इण मांगने ।
दीजे तू साथ चेतक ,
रणभूमि रे मायने।
बुझवा मत दीजो राणा ,
मुगलां री इण आगने ।
सोळा सिणगार म्हारा ,
जीणे रा आधार म्हारा ,
जीतने थे रणसुं आवजो ॥


मुगलां रे खून सूं ,
थे मुगलां ने नहला दीजो।
हल्दी घाटी में ढेर ,
लाशां रो लगा दीजो ।
जीत रो झण्डो थे तो ,
केसरियो लहरा दीजो।
मान मेवाड़ रो थे ,
सिरदारां बढा दीजो ।
साथीडाँ साथ थांणी ,
तलवारां हाथ थांणी ,
अमर थे नाम कमा वजो ॥


जरूर पढ़ें :-गुणती खोले ने बिणजारा

जरूर पढ़ें :- भजनां में जावा कोनी दे 

maharana pratap bhajan lyrics in English

!! o pawan veg se udne wale ghode !!

o pavan veg se ,udane vaale ghode ,
tujh pe savaar hai jo ,
mera suhaag hai vo ,
rakhiyo re aaj unaree laaj ,
o pavan veg se udane vaale ghode .


thaare kandha pe main to ,
sopiyo suhaag ne.
mitava nee deeje chetak ,
bhariyodee in maangane .
deeje too saath chetak ,
ranabhoomi re maayane.
bujhava mat deejo raana ,
mugalaan ree in aagane .
sola sinagaar mhaara ,
jeene ra aadhaar mhaara ,
jeetane the ranasun aavajo .


mugalaan re khoon soon ,
the mugalaan ne nahala deejo.
haldee ghaatee mein dher ,
laashaan ro laga deejo .
jeet ro jhando the to ,
kesariyo lahara deejo.
maan mevaad ro the ,
siradaaraan badha deejo .
saatheedaan saath thaannee ,
talavaaraan haath thaannee ,
amar the naam kama vajo ..


जरूर पढ़ें :- संतों वाळी टोगड़ी

जरूर पढ़ें :- होई जावो संत सुधारो थांरी काया

desh bhakti songs hindi lyrics

!! पवन वेग से उड़ने वाले घोड़े !!

ओ पवन वेग से ,उड़ने वाले घोड़े ,
तुझ पे सवार है जो , मेरा सुहाग है वो ,
रखियो रे आज उणरी लाज ,
ओ पवन वेग से उड़ने वाले घोड़े ।

थारे कन्धा पे मैं तो ,सोपियो सुहाग ने।
मिटवा नी दीजे चेतक ,भरियोड़ी इण मांगने ।
दीजे तू साथ चेतक ,रणभूमि रे मायने।
बुझवा मत दीजो राणा ,मुगलां री इण आगने ।
सोळा सिणगार म्हारा , जीणे रा आधार म्हारा ,
जीतने थे रणसुं आवजो ॥

मुगलां रे खून सूं ,थे मुगलां ने नहला दीजो।
हल्दी घाटी में ढेर ,लाशां रो लगा दीजो ।
जीत रो झण्डो थे तो ,केसरियो लहरा दीजो।
मान मेवाड़ रो थे ,सिरदारां बढा दीजो ।
साथीडाँ साथ थांणी , तलवारां हाथ थांणी ,
अमर थे नाम कमा वजो ॥.

prakash mali bhajan video

भजन :- ओ पवन वेग से उड़ने वाले
गायक :- प्रकाश माली 
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- मन सीताराम सीताराम रट रे

जरूर पढ़ें :- जिन्दगी एक किराये का घर है

पिछला लेखगुणती खोले ने बारे काढ रे बिणजारा भजन लिरिक्स | gunti khole ne banjara bhajan lyrics
अगला लेखहुई सफल कमाई महाराज भरतरी थारी भजन लिरिक्स | hui safal kamai maharaj bharthari thari bhajan

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

nine − two =