चदरिया झीनी रे झीनी भजन लिरिक्स | chadariya jini re jini lyrics | hindi bhajan with lyrics

1186

चदरिया झीनी रे झीनी भजन लिरिक्स

चदरिया झीनी रे झीनी chadariya jini re jini lyrics, hindi bhajan with lyrics,anup jalota bhajan, bhajan lyircs,

 ।। दोहा ।। 
राम किसी को मारे नहीं , और नहीं है पापी राम।
अपने आप मर जावसी , कर कर खोटा काम।


~ चदरिया झीनी रे झीनी ~

चदरिया झीनी रे झीनी ,
चदरिया झीनी रे झीनी ।
राम नाम रस भीनी ,
चदरिया झीनी रे झीनी ॥


अष्ट कमल का चरखा बनाया ,
पाँच तत्व की पूनी ।
नौ दस मास बुनन को लागे ,
मूरख मैली कीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥


जब मोरी चादर बन घर आई ,
रंगरेज को दीनी ।
ऐसा रंगरंगा रंगरेज ने ,
लालो लाल कर दीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥


चादर ओढ़ शंका मत करियो ,
ये दो दिन तुमको दीनी ।
मूरख लोग भेद नहीं जाने ,
दिन दिन मैली कीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥


धुव्र प्रहलाद सुदामा ने ओढ़ी ,
शुकदेव ने निर्मल कीनी ।
दास कबीर ने ऐसी ओढ़ी ,
ज्यों की त्योंधर दीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥


जरूर पढ़ें :- अगर है शौक मिलने का

जरूर पढ़ें :-चिट्ठी न कोई संदेश

hindi bhajan with lyrics In English

!! chadariya jini re jini !!

chhadariya jheenee re jheenee ,
chadariya jheenee re jheenee .
raam naam ras bheenee ,
chadariya jheenee re jheenee .


asht kamal ka charakha banaaya ,
paanch tatv kee poonee .
nau das maas bunan ko laage ,
moorakh mailee keenee chadariya ,
jheenee re jheenee .


jab moree chaadar ban ghar aaee ,
rangarej ko deenee .
aisa rangaranga rangarej ne ,
laalo laal kar deenee chadariya ,
jheenee re jheenee .


chaadar odh shanka mat kariyo ,
ye do din tumako deenee .
moorakh log bhed nahin jaane ,
din din mailee keenee chadariya ,
jheenee re jheenee .


dhuvr prahalaad sudaama ne odhee ,
shukadev ne nirmal keenee .
daas kabeer ne aisee odhee ,
jyon kee tyondhar deenee chadariya ,
jheenee re jheenee .


जरूर पढ़ें :- मैली चादर ओढ के कैसे

जरूर पढ़ें :- तूने मुझे बुलायां शेरां वाली

hindi bhajan with lyrics In Hindi

!! चदरिया झीनी रे झीनी !!

चदरिया झीनी रे झीनी , चदरिया झीनी रे झीनी ।
राम नाम रस भीनी ,चदरिया झीनी रे झीनी ॥

अष्ट कमल का चरखा बनाया , पाँच तत्व की पूनी ।
नौ दस मास बुनन को लागे , मूरख मैली कीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥

जब मोरी चादर बन घर आई , रंगरेज को दीनी ।
ऐसा रंगरंगा रंगरेज ने , लालो लाल कर दीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥

चादर ओढ़ शंका मत करियो , ये दो दिन तुमको दीनी ।
मूरख लोग भेद नहीं जाने , दिन दिन मैली कीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥

धुव्र प्रहलाद सुदामा ने ओढ़ी , शुकदेव ने निर्मल कीनी ।
दास कबीर ने ऐसी ओढ़ी , ज्यों की त्योंधर दीनी चदरिया ,
झीनी रे झीनी ॥

anup jalota bhajan Video

भजन :- चदरिया झीनी रे झीनी
गायक :- अनूप जलोटा
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़ें :- सावन की बरसे बदरिया

जरूर पढ़ें :- चलो बुलावा आया है

पिछला लेखभाव राखजो भगती भजन लिरिक्स | bhav rakhjo bhakti bhajan lyrics
अगला लेखमुझे मेरी मस्ती कहाँ लेके आई भजन लिरिक्स | muje meri masti kahan leke aayi lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

nineteen − seventeen =