आ लौट के आवो जम्भदेव भजन लिरिक्स | aa laut ke aaja jambhdev bhajan lyrics

351

आ लौट के आवो जम्भदेव भजन लिरिक्स

आ लौट के आवो जम्भदेव. aa laut ke aaja jambhdev. guru dev bhajan. satguru ji bhajan

 ।। दोहा ।।
आवो आवो मैं रहूं , आवो जम्भ गुरु जगदीश ।
हिरदा मेरा पवित्र करो , चरण निवाऊँ शीश ।


~ लौट के आवो जम्भदेव ~

आ लौट के आओ जम्भ देव ,
तुझे तेरे सन्त बुलाते हैं ।
उनतीस नियम गए भूल ,
तुझे तेरे संत बुलाते हैं ।


सूना पड़ा है गाँव दीपासर ,
सूनी डगरिया सारी ।
सूना जंगल समराथल रा ,
भवन जोत जहाँ सारी ।
कब आवोगे लोवट जी के लाल ,
तुझे तेरे संत बुलाते हैं ।
आ लौट के आओ। …..


धरम धजा थांरी झुकने लागी ,
पाप ने पैर पसारा ।
पाप घटा बण बरसण लागी ,
भरिया पाप रा बेड़ा ।
ज्याँ में डूब रहा संसार ,
तुझे तेरे संत बुलाते है ।।
आ लौट के आओ। …..


चले गए वैकुण्ठपुरी में ,
सूनी पड़ी जम्भ गीता ।
रो रोकर हम तुम्हें पुकारे ,
जैसे लंक में सीता ।
कब धरोगे राम अवतार ,
तुझे तेरे संत बुलाते हैं ।।
आ लौट के आओ। …..


कामक्रोध मदलोभ मोह ने ,
आय चहुँ दिशघेरा ।
हाथ कमण्डल धरकर आवो ,
देवो नामका सहारा ।
गावे जम्भ मण्डल गुणगान ,
मेवाड़ी भजन सुणाते हैं ।।
आ लौट के आओ। …..


जरूर पढ़े :-  पौ सातम की रात

जरूर पढ़े :-  गुरु ज्ञानी आया पांवणा

tuje tere sant bulate hai bhajan English Lyrics

!! ab laut ke aavo jambhadev !!

aa laut ke aao jambh dev ,
tujhe tere sant bulaate hain .
unatees niyam gae bhool ,
tujhe tere sant bulaate hain .


soona pada hai gaanv deepaasar ,
soonee dagariya saaree .
soona jangal samaraathal ra ,
bhavan jot jahaan saaree .
kab aavoge lovat jee ke laal ,
tujhe tere sant bulaate hain .
aa laut ke aao. …..


dharam dhaja thaanree jhukane laagee ,
paap ne pair pasaara .
paap ghata ban barasan laagee ,
bhariya paap ra beda .
jyaan mein doob raha sansaar ,
tujhe tere sant bulaate hai ..
aa laut ke aao. …..


chale gae vaikunthapuree mein ,
soonee padee jambh geeta .
ro rokar ham tumhen pukaare ,
jaise lank mein seeta .
kab dharoge raam avataar ,
tujhe tere sant bulaate hain ..
aa laut ke aao. …..


kaamakrodh madalobh moh ne ,
aay chahun dishaghera .
haath kamandal dharakar aavo ,
devo naamaka sahaara .
gaave jambh mandal gunagaan ,
mevaadee bhajan sunaate hain ..
aa laut ke aao. …..


जरूर पढ़े :-  गणपत गरवा ओंपरा रे

जरूर पढ़े :-  सतगुरु सायब जी 

तुझे तेरे सन्त बुलाते हैं Bhajan hindi lyrics

!! अब लौट के आवो जम्भदेव !!

आ लौट के आओ जम्भ देव , तुझे तेरे सन्त बुलाते हैं ।
उनतीस नियम गए भूल , तुझे तेरे संत बुलाते हैं ।

सूना पड़ा है गाँव दीपासर , सूनी डगरिया सारी ।
सूना जंगल समराथल रा , भवन जोत जहाँ सारी ।
आवोगे लोवट जी के लाल ,तुझे तेरे संत बुलाते हैं ।
आ लौट के आओ। …..

धरम धजा थांरी झुकने लागी , पाप ने पैर पसारा ।
पाप घटा बण बरसण लागी , भरिया पाप रा बेड़ा ।
ज्याँ में डूब रहा संसार , तुझे तेरे संत बुलाते है ।।
आ लौट के आओ। …..

चले गए वैकुण्ठपुरी में , सूनी पड़ी जम्भ गीता ।
रो रोकर हम तुम्हें पुकारे , जैसे लंक में सीता ।
कब धरोगे राम अवतार , तुझे तेरे संत बुलाते हैं ।।
आ लौट के आओ। …..

कामक्रोध मदलोभ मोह ने , आय चहुँ दिशघेरा ।
हाथ कमण्डल धरकर आवो , देवो नामका सहारा ।
गावे जम्भ मण्डल गुणगान , मेवाड़ी भजन सुणाते हैं ।।
आ लौट के आओ। …..

guru dev bhajan satguru ji bhajan video

आ लौट आजा जम्भदेव
गायक :- राजू राम
लेबल :- राजस्थानी भजन

जरूर पढ़े :-  बिना निवण कुण तिरिया

जरूर पढ़े :-  दलाली हीरा लालन की

पिछला लेखपौ सातम की रात भजन लिरिक्स | po satam ki raat lyrics
अगला लेखपूनम की है रात भजन लिरिक्स | poonam ki hai raat bhajan lyrics

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

2 + 16 =