कौन किसी का माता पिता है भजन लिरिक्स | kaun kisi ka mat pita sanwarmal saini ka bhajan

1009

कौन किसी का माता पिता है भजन लिरिक्स

कौन किसी का माता पिता है भजन लिरिक्स kaun kisi ka mat pita kaun kisi ka beta beti sanwarmal saini ka bhajan

।। दोहा ।।
संत मिल्या इतना टेल ,काल जाल जम चोट।
शीश नमाया गिर पड़े ,लख पापन की पोट।


 ~ कौन किसी का मात पिता है ~

कोण किसी का मात पिता है ,
कौन किसी की नारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,
झूठी दुनिया दारी।


जब तक तन में प्राण बसे था ,
तब तक ही था नाता ।
ना अब बेटा तेरा राणी ,
ना तू उसकी माता।
आवागम लगा दुनिया में ,
कोई आता कोई जाता।
अमर रहे ना जग में प्राणी ,
काल सभी ने खाता।
मरी लाश की आश छोड़ दे ,
रटले कृष्ण मुरारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,
झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….


सूरज चाँद उगने से रह ग्या ,
धरती चाहे हिल जावे।
आसमान स्थान छोड़ दे ,
पृथ्वी से मिल आ जावे।
अग्नि चाहे ठंडी हो जा ,
पानी से जग जल जावे।
हरी चंद सत छोड़ सके ना ,
चाहे प्राण निकल जावे।
होनी आगे जोर चले ना ,
ईश्वर की लीला न्यारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,
झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….


परमेशवर की अजब गति है ,
पल में रास रचा दे।
बस्ती खेड़ा उजड़ कर दे ,
वन में शेर बसा दे।
फिकर काक मग नाव तिरानी ,
तेरा धर्म निभाते है।
दंड घाट का देखे रानी ,
सुध की लाश जलाते है।
रो रो के चाहे प्राण गवा दे ,
सुनता कोण तुम्हारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,
झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….


मेरे पास पैसे दाम नहीं अब ,
कैसे दंड चुकाउ में।
केवे हरी चंद क्यों गबरावे ,
एक उपाये बताऊ में।
आधा चीर फाड् कर दे दे ,
तेरा काम जपाउ में।
हरी नारायण शर्मा कहता ,
नाम हरी का गाउ में।
आधा चीर दंड का देके ,
करी चीता की तैयारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,
झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….


Read Also:- सुख थोड़ा दुःख घणा जगत में

Read Also:- गुरु देव जगावे सुतोडा जागो

kaun kisi ka mat pita sanwarmal saini ka bhajan English Lyrics

!! kaun kisi ka beta beti !!

kon kisi ka mata pita ,
kaun kisee kee naaree.
kaun kisee ka beta betee ,
jhoothee duniya daaree.


jab tak tan mein praan base tha ,
tab tak hee tha naata .
na ab beta tera raanee ,
na too usakee maata.
aavaagam laga duniya mein ,
koee aata koee jaata.
amar rahe na jag mein praanee ,
kaal sabhee ne khaata.
maree laash kee aash chhod de ,
ratale krshn muraaree.
kaun kisee ka beta betee ,
jhoothee duniya daaree.
kaun kisee. ….


sooraj chaand ugane se rah gya ,
dharatee chaahe hil jaave.
aasamaan sthaan chhod de ,
prthvee se mil aa jaave.
agni chaahe thandee ho ja ,
paanee se jag jal jaave.
haree chand sat chhod sake na ,
chaahe praan nikal jaave.
honee aage jor chale na ,
eeshvar kee leela nyaaree.
kaun kisee ka beta betee ,
jhoothee duniya daaree.
kaun kisee. ….


parameshavar kee ajab gati hai ,
pal mein raas racha de.
bastee kheda ujad kar de ,
van mein sher basa de.
phikar kaak mag naav tiraanee ,
tera dharm nibhaate hai.
dand ghaat ka dekhe raanee ,
sudh kee laash jalaate hai.
ro ro ke chaahe praan gava de ,
sunata kon tumhaaree.
kaun kisee ka beta betee ,
jhoothee duniya daaree.
kaun kisee. ….


mere paas paise daam nahin ab ,
kaise dand chukau mein.
keve haree chand kyon gabaraave ,
ek upaaye bataoo mein.
aadha cheer phaad kar de de ,
tera kaam japau mein.
haree naaraayan sharma kahata ,
naam haree ka gau mein.
aadha cheer dand ka deke ,
karee cheeta kee taiyaaree.
kaun kisee ka beta betee ,
jhoothee duniya daaree.
kaun kisee. ….


Read Also:- वारी जाऊ रे बलिहारी जाऊ रे

Read Also:- बजरंग बाला द्रोणागिरी जाजो जी

kaun kisi ka mat pita sanwarmal saini ka bhajan Hindi Lyrics

।। कौन किसी का मात पिता है।।

कोण किसी का मात पिता है ,कौन किसी की नारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,झूठी दुनिया दारी।

जब तक तन में प्राण बसे था ,तब तक ही था नाता ।
ना अब बेटा तेरा राणी ,ना तू उसकी माता।
आवागम लगा दुनिया में ,कोई आता कोई जाता।
अमर रहे ना जग में प्राणी ,काल सभी ने खाता।
मरी लाश की आश छोड़ दे ,रटले कृष्ण मुरारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….

सूरज चाँद उगने से रह ग्या ,धरती चाहे हिल जावे।
आसमान स्थान छोड़ दे ,पृथ्वी से मिल आ जावे।
अग्नि चाहे ठंडी हो जा ,पानी से जग जल जावे।
हरी चंद सत छोड़ सके ना ,चाहे प्राण निकल जावे।
होनी आगे जोर चले ना ,ईश्वर की लीला न्यारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….

परमेशवर की अजब गति है ,पल में रास रचा दे।
बस्ती खेड़ा उजड़ कर दे ,वन में शेर बसा दे।
फिकर काक मग नाव तिरानी ,तेरा धर्म निभाते है।
दंड घाट का देखे रानी ,सुध की लाश जलाते है।
रो रो के चाहे प्राण गवा दे ,सुनता कोण तुम्हारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….

मेरे पास पैसे दाम नहीं अब ,कैसे दंड चुकाउ में।
केवे हरी चंद क्यों गबरावे ,एक उपाये बताऊ में।
आधा चीर फाड् कर दे दे ,तेरा काम जपाउ में।
हरी नारायण शर्मा कहता ,नाम हरी का गाउ में।
आधा चीर दंड का देके ,करी चीता की तैयारी।
कौन किसी का बेटा बेटी ,झूठी दुनिया दारी।
कौन किसी। ….

kaun kisi ka beta beti Bhajan Video

भजन :- कौन किसी का मात पिता है
गायक :- सांवरमल सैनी
लेबल :- राजस्थानी भजन

Read Also:- मारा सांवरिया सिरमोर 

Read Also:-  अंजनी माँ तेरा लाला बड़ा मतवाला

पिछला लेखगुरुदेव जगावे सु तोड़ा जागो भजन लिरिक्स | gurudev jagave sutoda jago guru dev bhajan lyrics
अगला लेखमालिक लेखा पूरा लेसी भजन लिरिक्स | malik lekha pura lesi fark chale na rai ka sanwarmal saini bhajan

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

two × 1 =