कलयुग में सिद्ध हो देव तुम्ही भजन लिरिक्स | kalyug me siddh ho dev tumhi bhajan lyrics

1353

कलयुग में सिद्ध हो देव तुम्ही भजन लिरिक्स

कलयुग में सिद्ध हो देव तुम्ही भजन लिरिक्स kalyug me siddh ho dev tumhi hanuman tumhara kya kehna lyrics

 ~ हनुमान तुम्हारा क्या कहना ~

कलयुग में सिद्ध हो देव तुम्ही ,
हनुमान तुम्हारा क्या कहना।


तेरी भक्ति का क्या कहना ,
तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..


सीता की खोज करी तुमने ,
तुम सात समुन्दर पार गये।
लंका को किया शमशान प्रभु ,
बलवान तुम्हारा क्या कहना।
तेरी भक्ति का क्या कहना ,
तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..


जब लक्मण जी शक्ति लगी ,
तुम द्रोणागिर पर्वत लाये।
लक्मण बचाये आकर के ,
तप प्राण तुम्हारा क्या कहना।
तेरी भक्ति का क्या कहना ,
तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..


तुम भक्त शिरोमणि हो जग में ,
तुम वीर शिरोमणि हो जग में।
तेरे रोम रोम में बसते है ,
सियाराम तुम्हारा क्या कहना।
तेरी भक्ति का क्या कहना ,
तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..


कलयुग में सिद्ध हो देव तुम्ही ,
हनुमान तुम्हारा क्या कहना।


Read Also:- अरे रे मेरी जान है राधा

Read Also:- झालर शंख नगाड़ा बाजे रे 

kalyug me siddh ho dev tumhi Bhajan English Lyrics

!! hanuman tumhara kya kehna !!

kalayug mein siddh ho dev tumhee ,
hanumaan tumhaara kya kahana.


teree bhakti ka kya kahana ,
teree shakti ka kya kahana.
kalayug mein siddh. …..


seeta kee khoj karee tumane ,
tum saat samundar paar gaye.
lanka ko kiya shamashaan prabhu ,
balavaan tumhaara kya kahana.
teree bhakti ka kya kahana ,
teree shakti ka kya kahana.
kalayug mein siddh. …..


jab lakman jee shakti lagee ,
tum dronaagir parvat laaye.
lakman bachaaye aakar ke ,
tap praan tumhaara kya kahana.
teree bhakti ka kya kahana ,
teree shakti ka kya kahana.
kalayug mein siddh. …..


tum bhakt shiromani ho jag mein ,
tum veer shiromani ho jag mein.
tere rom rom mein basate hai ,
siyaaraam tumhaara kya kahana.
teree bhakti ka kya kahana ,
teree shakti ka kya kahana.
kalayug mein siddh. …..


kalayug mein siddh ho dev tumhee ,
hanumaan tumhaara kya kahana.


Read Also:- श्याम तेरी मेरी मेरी तेरी

Read Also:- पिछम धरा सु मारो आलम राजा आवे वो

hanuman tumhara kya kehna Bhajan Hindi Lyrics

।। हनुमान तुम्हारा क्या कहना।।

कलयुग में सिद्ध हो देव तुम्ही ,हनुमान तुम्हारा क्या कहना।

तेरी भक्ति का क्या कहना ,तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..

सीता की खोज करी तुमने ,तुम सात समुन्दर पार गये।
लंका को किया शमशान प्रभु ,बलवान तुम्हारा क्या कहना।
तेरी भक्ति का क्या कहना ,तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..

जब लक्मण जी शक्ति लगी ,तुम द्रोणागिर पर्वत लाये।
लक्मण बचाये आकर के ,तप प्राण तुम्हारा क्या कहना।
तेरी भक्ति का क्या कहना ,तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..

तुम भक्त शिरोमणि हो जग में ,तुम वीर शिरोमणि हो जग में।
तेरे रोम रोम में बसते है ,सियाराम तुम्हारा क्या कहना।
तेरी भक्ति का क्या कहना ,तेरी शक्ति का क्या कहना।
कलयुग में सिद्ध। …..

कलयुग में सिद्ध हो देव तुम्ही ,हनुमान तुम्हारा क्या कहना।

kalyug me siddh ho dev tumhi Bhajan Video

भजन :- हनुमान तुम्हारा क्या कहना
गायक :- लखबीर सिंह लख्खा
लेबल :- राजस्थानी भजन

Read Also:- जनम जनम से कुवारी मारी सुरता

Read Also:- चोंच बनाबा वालो चुगो दिदो

पिछला लेखअरे रे मेरी जान है राधा भजन लिरिक्स | are re meri jaan hai radha Lyrics radha krishna bhajan Lyrics
अगला लेखदुनिया चले न श्री राम के बिना भजन लिरिक्स | duniya chale na shri ram ke bina Lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

sixteen + 19 =