थारा उड़ गया केश काला डोकरिया भजन लिरिक्स | thara ud gaya kesh kala bhajan lyrics

925

थारा उड़ गया केश काला डोकरिया कद फेरेलो माला भजन

थारा उड़ गया केश काला डोकरिया कद फेरेलो माला भजन thara ud gaya kesh kala bhajan Lyrics. rajasthani bhajan hindi lyrics

।। दोहा ।।
नींद निसाणी मोत की , जागो जपो मुरार।
एक दिन सोणा होवसी , लम्बे पांव पसार।


~ थारा उड़ गया केश काला ~

थारा उड़ गया केश काला रे डोकरा ,
अब कद फेरेला थू माला।


सूजे नहीं अब पड़े भाड़ में ,
करे मजाकों वाला।
अरे घर की लुगाई थारो केणो नी माने ,
उठे जीव में उकाला।
थारा उड़ गया। …..


बूढ़ो हुवो ने अब लकड़ी ली दी ,
थारा धूजण लागा डाला।
अरे मुखड़ा री सोभा दात पड़िया ,
खाली रह गया आला।
थारा उड़ गया। …..


माया रो मोह छोड़ ने राखे ,
देवे पेटियों रे ताला।
अरे गाड़ी घोडा काम नी आवे ,
जाणो पड़ सी पाला।
थारा उड़ गया। …..


बेटा ने परणाय बुलायो ,
अब घर बिंदनियो रा हाला।
कद मरेलो यो डोकरा डाकी ,
फितर ही फेरे माला।
थारा उड़ गया। …..


थारा उड़ गया केश काला रे डोकरा ,
अब कद फेरेला थू माला।


Read Also:- घुमा दे मारा बालाजी

Read Also:- उसका दुश्मन क्या कर सकता 

English Lyrics Thara ud gaya kesh kala Bhajan

!! Thara Ud Gaya kesh Kala !!

thaara ud gaya kesh kaala re dokra ,
ab kad pherela thoo maala.


sooje nahin ab pade bhaad mein ,
kare majaakon vaala.
are ghar kee lugaee thaaro keno nee maane ,
uthe jeev mein ukaala.
thaara ud gaya. …..


boodho huvo ne ab lakadee lee dee ,
thaara dhoojan laaga daala.
are mukhada ree sobha daat padiya ,
khaalee rah gaya aala.
thaara ud gaya. …..


maaya ro moh chhod ne raakhe ,
deve petiyon re taala.
are gaadee ghoda kaam nee aave ,
jaano pad see paala.
thaara ud gaya. …..


beta ne paranaay bulaayo ,
ab ghar bindaniyo ra haala.
kad marelo yo dokara daakee ,
phitar hee phere maala.
thaara ud gaya. …..


thaara ud gaya kesh kaala re dokra ,
ab kad pherela thoo maala.


Read Also:- गुरा सा मारो अब परो जनम सुधारो

Read Also:- राणा सुणता ही जा ज्यो जी

थारा उड़ गया केश काला रे Bhajan Hindi Lyrics

।। थारा उड़ गया केश काला ।।

थारा उड़ गया केश काला रे डोकरा ,
अब कद फेरेला थू माला।

सूजे नहीं अब पड़े भाड़ में ,करे मजाकों वाला।
अरे घर की लुगाई थारो केणो नी माने ,उठे जीव में उकाला।
थारा उड़ गया। …..

बूढ़ो हुवो ने अब लकड़ी ली दी ,थारा धूजण लागा डाला।
अरे मुखड़ा री सोभा दात पड़िया ,खाली रह गया आला।
थारा उड़ गया। …..

माया रो मोह छोड़ ने राखे ,देवे पेटियों रे ताला।
अरे गाड़ी घोडा काम नी आवे ,जाणो पड़ सी पाला।
थारा उड़ गया। …..

बेटा ने परणाय बुलायो ,अब घर बिंदनियो रा हाला।
कद मरेलो यो डोकरा डाकी ,फितर ही फेरे माला।
थारा उड़ गया। …..

थारा उड़ गया केश काला रे डोकरा ,
अब कद फेरेला थू माला।

थारा उड़ गया केश काला रे Bhajan Video

भजन :- थारा उड़ गया केश काला
गायक :- श्याम पालीवाल
लेबल :- राजस्थानी भजन

Read Also:- मारो दूध क्यों लगायो रे

Read Also:- सेठा में सांवरो सेठ

पिछला लेखघुमादे मारा बालाजी गमर गोटो भजन लिरिक्स | ghumade mhara balaji lyrics balaji bhajan lyrics
अगला लेखरोजडा लोट्यो भर लिदो भजन लिरिक्स | rojda lotto bhar lido jagdish vaishnav bhajan

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

eleven − three =