एक डाल दो पंछी बैठा कौन गुरु कौन चेला भजन | ek daal do panchhi re baitha kaun guru kaun chela bhajan

1969

एक डाल दो पंछी बैठा कौन गुरु कौन चेला भजन

एक डाल दो पंछी बैठा कौन गुरु कौन चेला भजन ek daal do panchhi re baitha kaun guru kaun chela  bhajan Hindi Lyrics

~ एक डाल दो पंछी बैठा ~

एक डाल दो पंछी बैठा ,
कौन गुरु कौन चेला। २।


गुरु की करणी गुरु करेगा।
चेला की करणी चेला रे साधु भाई।
उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..


माटी चुण चुण महेल बनाया ,
लोग कह घर मेरा।
ना घर तेरा ना घर मेरा ,
चिड़िया रैन बसेरा रे साधु भाई।
उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..


मात कहे ये पुत्र हमारा ,
बहन कहे ये वीरा।
भाई कहे भुजा हमारी ,
नारी कहे नर मेरा रे साधु भाई।
उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..


पेट पकड़ कर माता रोये ,
बाहे पकड़ कर भाई।
लपट जपट के त्रिया रोये ,
हंस अकेला जाये रे साधु भाई।
उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..


कोड़ी कोड़ी माया जोड़ी ,
जोड़ भरेला थेला।
कहेत कबीरा सुण भाई साधु ,
संग चले ना गेला रे साधु भाई।
उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..


एक डाल दो पंछी बैठा ,
कौन गुरु कौन चेला। २।


Read Also:- बेटा तो माचा पर पोढ़े

Read Also:- हंसा सुन्दर काया रो मत करजे अभिमान

एक डाल दो पंछी बैठा Bhajan English Lyrics

!! Ek Dal Do Panchi Betha !!

ek daal do panchhee baitha ,
kaun guru kaun chela. 2.


guru kee karanee guru karega.
chela kee karanee chela re saadhu bhaee.
ud ja hans akela.
ek daal. …..


maatee chun chun mahel banaaya ,
log kah ghar mera.
na ghar tera na ghar mera ,
chidiya rain basera re saadhu bhaee.
ud ja hans akela.
ek daal. …..


maat kahe ye putr hamaara ,
bahan kahe ye veera.
bhaee kahe bhuja hamaaree ,
naaree kahe nar mera re saadhu bhaee.
ud ja hans akela.
ek daal. …..


pet pakad kar maata roye ,
baahe pakad kar bhaee.
lapat japat ke triya roye ,
hans akela jaaye re saadhu bhaee.
ud ja hans akela.
ek daal. …..


kodee kodee maaya jodee ,
jod bharela thela.
kahet kabeera sun bhaee saadhu ,
sang chale na gela re saadhu bhaee.
ud ja hans akela.
ek daal. …..


ek daal do panchhee baitha ,
kaun guru kaun chela. 2.


Read Also:- में तो अमर चुनड़ी ओडु

Read Also:- देखो दुनिया भोली रे संतो

master rana bhajan lyrics in hindi

 एक डाल दो पंछी बैठा।।

Ek डाल दो पंछी बैठा ,कौन गुरु कौन चेला। २।
गुरु की करणी गुरु करेगा। चेला की करणी चेला
रे साधु भाई उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..

माटी चुण चुण महेल बनाया ,लोग कह घर मेरा।
ना घर तेरा ना घर मेरा ,चिड़िया रैन बसेरा
रे साधु भाई।उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..

मात कहे ये पुत्र हमारा ,बहन कहे ये वीरा।
भाई कहे भुजा हमारी ,नारी कहे नर मेरा
रे साधु भाई।उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..

पेट पकड़ कर माता रोये ,बाहे पकड़ कर भाई।
लपट जपट के त्रिया रोये ,हंस अकेला जाये
रे साधु भाई। उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। …..

कोड़ी कोड़ी माया जोड़ी ,जोड़ भरेला थेला।
कहेत कबीरा सुण भाई साधु ,संग चले ना गेला
रे साधु भाई। उड़ जा हंस अकेला।
एक डाल। ….

Ek डाल दो पंछी बैठा ,कौन गुरु कौन चेला। २।

एक डाल दो पंछी बैठा Bhajan Video

भजन :- एक डाल दो पंछी बैठा
गायक :- मास्टर राणा
लेबल :- राजस्थानी भजन

Read Also:- संवारा थारी माया रो

Read Also:- रंग मत डारे रे सांवरिया 

पिछला लेखबेटा तो माचा पर पोडे दादा जावे ढान्डा मे भजन | beta to macha par pode bhajan with lyrics
अगला लेखअरे मारा मनडा बदल गया दिल ड़ा भजन | are mara manda badal gaya dinda lehru das vaishnav bhajan

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

18 − 14 =