एक डोली चली एक अर्थी चली भजन लिरिक्स | ek doli chali ek arthi chali lyrics

7059

एक डोली चली एक अर्थी चली भजन लिरिक्स

एक डोली चली एक अर्थी चली भजन लिरिक्स ek doli chali ek arthi chali lyrics, leharu das vaishnav bhajan,chetavani bhajan

 ।। दोहा ।।

याद रख , सिकंदर के हौसले आली थे। 
जब गया दुनिया से तो दोनों हाथ खाली थे।।


 ~ एक डोली चली एक अर्थी चली ~

एक डोली चली,
एक अर्थी चली। 
फर्क दोनों में क्या,
ये बता दे सखी।


चार तुझमे लगे ,
चार मुझमे लगे। 
फूल तुझ पर चढ़े ,
फूल मुझ पर चढ़े। 
फर्क दोनों में क्या ,
अरे सुन ले सखी। 
तू पिया को चली ,
में पिया से चली। 
एक डोली ….


मांग तेरी भरी ,
मांग मेरी भरी। 
चूड़ी तेरी हरी ,
चूड़ी मेरी हरी। 
फर्क दोनों में क्या ,
अरे सुन ले सखी।
तू विदा हो चली ,
में अलविदा हो चली। 
एक डोली ….


तुझे देखे पिया ,
तेरे हसते हुए। 
मुझे देखे पिया ,
मेरे रोते हुए। 
फर्क दोनों में क्या
अरे सुन ले सखी। 
तेरी साल गिरा पे ,
मेरी बरसी हुई। 
एक डोली ….


तू तो बैठ के चली ,
में लेट के चली। 
तू घर बसाने चली ,
में शमसान चली। 
फर्क दोनों में क्या ,
अरे सुन ले सखी। 
तू लकड़ी से चली ,
और में लकड़ी में जली। 
एक डोली ….


Read Also:- ओ संतो स्वर्गा सु आग्यो रे सन्देश

Read Also:-  गुरु बिन घोर अंधेरा रे संतो

एक डोली चली एक अर्थी चली भजन lyrics

!! ek doli chali ek arthi chali !!

ek dolee chalee,
ek arthee chalee.
phark donon mein kya,
ye bata de sakhee.


chaar tujhame lage ,
chaar mujhame lage.
phool tujh par chadhe ,
phool mujh par chadhe.
phark donon mein kya ,
are sun le sakhee.
too piya ko chalee ,
mein piya se chalee.
ek dolee ….


maang teree bharee ,
maang meree bharee.
choodee teree haree ,
choodee meree haree.
phark donon mein kya ,
are sun le sakhee.
too vida ho chalee ,
mein alavida ho chalee.
ek dolee ….


tujhe dekhe piya ,
tere hasate hue.
mujhe dekhe piya ,
mere rote hue.
phark donon mein kya
are sun le sakhee.
teree saal gira pe ,
meree barasee huee.
ek dolee ….


too to baith ke chalee ,
mein let ke chalee.
too ghar basaane chalee ,
mein shamasaan chalee.
phark donon mein kya ,
are sun le sakhee.
too lakadee se chalee ,
aur mein lakadee mein jalee.
ek dolee ….


ek doli chali ek arthi chali bhajan lyrics

!! एक डोली चली, एक अर्थी चली !!

एक डोली चली, एक अर्थी चली। 
फर्क दोनों में क्या, ये बता दे सखी। 

चार तुझमे लगे ,चार मुझमे लगे। 
फूल तुझ पर चढ़े , फूल मुझ पर चढ़े। 
फर्क दोनों में क्या अरे सुन ले सखी। 
तू पिया को चली , में पिया से चली। 
एक डोली चली, एक अर्थी चली। 
फर्क दोनों में क्या, ये बता दे सखी। 

मांग तेरी भरी ,मांग मेरी भरी। 
चूड़ी तेरी हरी ,चूड़ी मेरी हरी। 
फर्क दोनों में क्या ,अरे सुन ले सखी।
तू विदा हो चली , में अलविदा हो चली। 
एक डोली चली, एक अर्थी चली। 
फर्क दोनों में क्या, ये बता दे सखी। 

तुझे देखे पिया , तेरे  हसते हुए। 
मुझे देखे पिया , मेरे रोते हुए। 
फर्क दोनों में क्या अरे सुन ले सखी। 
तेरी साल गिरा पे ,मेरी बरसी हुई। 
एक डोली चली, एक अर्थी चली। 
फर्क दोनों में क्या, ये बता दे सखी। 

तू तो बैठ के चली , में लेट के चली। 
तू घर बसाने चली , में शमसान चली। 
फर्क दोनों में क्या अरे सुन ले सखी। 
तू लकड़ी से चली , और में लकड़ी में जली। 
एक डोली चली, एक अर्थी चली। 
फर्क दोनों में क्या, ये बता दे सखी। 

भजन :- एक डोली चली एक अर्थी चली
गायक :- लेहरू दास
लेबल :- राजस्थानी भजन

 Read Also:- समय को भरोसो कोनी कद पलटी मार जाए

पिछला लेखगुरु बिन घोर अंधेरा रे संतो लिरिक्स | guru bin ghor andhera hindi lyrics
अगला लेखचौसठ जोगनी भजन लिरिक्स | chosath jogani bhajan lyrics in hindi

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

five × three =