समय को भरोसो कोनी कद पलटी मार जावे भजन लिरिक्स | samay ko bharoso koni kad palti mar jawa lyrics

7435

समय को भरोसो कोनी कद पलटी मार जावे भजन लिरिक्स

samay ko bharoso koni kad palti mar jawa, prakash mali bhajan, nirguni bhajan

।। दोहा ।।

समय समय में होत है ,और समय समय की बात। 
एक समय का दिन बड़ा , एक समय की रात।।


~ समय को भरोसो कोनी ~

कदी कदी गाडरा सु ,
सिंह हार जावे। 
समय को भरोसो कोनी ,
कद पल्टी मार जावे। २


 गुरु वसिष्ठ महा मुनि ज्ञानी ,
लिख लिख बात बतावे। २ 
श्री राम जंगल में जावे ,
किस्मत पलटी खावे। 
राजा दशरथ प्राण त्याग दे। 
हाथ लगा नहीं पावे। २ 
समय को भरोसो कोनी ,
कद पल्टी मार जावे। २


राजा हरीचंद रानी तारामती ,
रोहितास  कवर कहावे। 
ऐसो खेल रच्यो मेरे दाता ,
तीनो ही बिकबा जावे। 
एक हरिजन एक ब्राह्मण घर ,
एक कुबदा घर जावे। 
समय को भरोसो कोनी ,
कद पल्टी मार जावे। २


राजा की बेटी पदमा कहिये ,
मोर लार परनावे। 
मोर जाय जंगल में मर गयो  ,
किस्मत पलटी खावे। 
मेर भई शिवजी की ऐसी ,
मोर को मर्द बनावे। 
समय को भरोसो कोनी ,
कद पल्टी मार जावे। २


राजा भरतरी रानी पिंगला ,
मेहला में सुख पावे। 
शिकार खेलने राजा भरतरी ,
जंगल माई जावे। 
गोरखनाथ गुरु ऐसा मिलिया। 
राजा जोगी बण जावे। 
समय को भरोसो कोनी ,
कद पल्टी मार जावे। २


गुरु कह ममता की वाणी ,
अमृत रस बरसावे। २ 
मारो मनडो कयो नई माने ,
फिर फिर गोता खावे। 
हरिदास गुरु मिलिया पूरा ,
राम दास जस गावे। 
समय को भरोसो कोनी ,
कद पल्टी मार जावे। २

samay ko bharoso koni kad palti mar jawa lyrics, samay ko bharoso koni kad palti mar jawa rajasthani bhajan

!! kad palti mar jave !!

kadee kadee gaadara su ,
sinh haar jaave.
samay ko bharoso konee ,
kad paltee maar jaave. 2


guru vasishth maha muni gyaanee ,
likh likh baat bataave. 2
shree raam jangal mein jaave ,
kismat palatee khaave.
raaja dasharath praan tyaag de.
haath laga nahin paave. 2
samay ko bharoso konee ,
kad paltee maar jaave. 2


raaja hareechand raanee taaraamatee ,
rohitaas kavar kahaave.
aiso khel rachyo mere daata ,
teeno hee bikaba jaave.
ek harijan ek braahman ghar ,
ek kubada ghar jaave.
samay ko bharoso konee ,
kad paltee maar jaave. 2


raaja kee betee padama kahiye ,
mor laar paranaave.
mor jaay jangal mein mar gayo ,
kismat palatee khaave.
mer bhee shivajee kee aisee ,
mor ko mard banaave.
samay ko bharoso konee ,
kad paltee maar jaave. 2


raaja bharataree raanee pingala ,
mehala mein sukh paave.
shikaar khelane raaja bharataree ,
jangal maee jaave.
gorakhanaath guru aisa miliya.
raaja jogee ban jaave.
samay ko bharoso konee ,
kad paltee maar jaave. 2


guru kah mamata kee vaanee ,
amrt ras barasaave. 2
maaro manado kayo naee maane ,
phir phir gota khaave.
haridaas guru miliya poora ,
raam daas jas gaave.
samay ko bharoso konee ,
kad paltee maar jaave. 2


samay ko bharoso koni kad palti mar jawa lyrics, samay ko bharoso koni kad palti mar jave rajasthani bhajan

!! कदी कदी गाडरा सु सिंह हार जावे!! 

कदी कदी गाडरा सु ,सिंह हार जावे।
समय को भरोसो कोनी ,कद पल्टी मार जावे। २

गुरु वसिष्ठ महा मुनि ज्ञानी ,लिख लिख बात बतावे। २
श्री राम जंगल में जावे ,किस्मत पलटी खावे।
राजा दशरथ प्राण त्याग दे। हाथ लगा नहीं पावे। २
समय को भरोसो कोनी ,कद पल्टी मार जावे। २

राजा हरीचंद रानी तारामती ,रोहितास  कवर कहावे।
ऐसो खेल रच्यो मेरे दाता ,तीनो ही बिकबा जावे।
एक हरिजन एक ब्राह्मण घर ,एक कुबदा घर जावे।
समय को भरोसो कोनी ,कद पल्टी मार जावे। २

राजा की बेटी पदमा कहिये ,मोर लार परनावे।
मोर जाय जंगल में मर गयो  ,किस्मत पलटी खावे।
मेर भई शिवजी की ऐसी ,मोर को मर्द बनावे।
समय को भरोसो कोनी ,कद पल्टी मार जावे। २

राजा भरतरी रानी पिंगला ,मेहला में सुख पावे।
शिकार खेलने राजा भरतरी ,जंगल माई जावे।
गोरखनाथ गुरु ऐसा मिलिया। राजा जोगी बण जावे।
समय को भरोसो कोनी ,कद पल्टी मार जावे। २

गुरु कह ममता की वाणी ,अमृत रस बरसावे। २
मारो मनडो कयो नई माने ,फिर फिर गोता खावे।
हरिदास गुरु मिलिया पूरा ,राम दास जस गावे।
समय को भरोसो कोनी ,कद पल्टी मार जावे। २

shyam paliwal ke bhajan

भजन :- समय को भरोसो कोनी
गायक :- श्याम पालीवाल
लेबल :- राजस्थानी भजन
पिछला लेखक्या लेके आया बंदे क्या लेके जायेगा भजन लिरिक्स | kya leke aaya bande kya leke jayega lyrics
अगला लेखनर नारायण री देह बनाई भजन लिरिक्स | Nar Re Narayan Ri Deh Banai Bhajan Hindi Text Lyrics,

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

three × two =