चेला वही चीज लाना रे गुरु ने मंगाई भजन लिरिक्स | Chela Vahi Chij Lana Re Guru Ne Mangai Bhajan Hindi Lyrics

1334

चेला वही चीज लाना रे गुरु ने मंगाई भजन लिरिक्स

Chela Vahi Cheej Lana Re Guru Ne Mangai Bhajan ,gurudev bhajan, prakash mali bhajan

 ~ चेला वही चीज लाना रे ~
 
चेला वही चीज लाना रे ,
गुरु ने मंगाई।
चेला वही चीज लाना रे ,
गुरु ने मंगाई।


पहली भिक्षा आटा लाना 
गांव नगर के पास ने जाना। 
एजी चलती चक्की चख के आना। 
जोली तो भर के लाना मेरे चेला रे,
गुरु ने मंगाई। 
चेला वही …..


अरे दूजी भिक्षा जल की लाना। 
कुआ बावड़ी के पास ने जाना। 
ऐ खारा मीठा देख के लाना। 
ऐ तुम्बी तो भर कर , लाना मेरे चेला रे ,
गुरु ने मंगाई। 
चेला वही …..


तीजी भिक्षा मांस की लाना। 
जीव जंतु को नहीं सताना। 
ऐ जिन्दा मुर्दा देख के लाना। 
ऐ खप्पर भर कर, लाना मेरे चेला रे,
गुरु ने मंगाई। 
चेला वही …..


चौथी भिक्षा लकड़ी की लाना। 
वन राय को नहीं सताना। 
भारी बनाकर , लाना मेरे चेला रे,
गुरु ने मंगाई। 
चेला वही …..


केवे मखंदर सुन जदी  गोरख। 
ये पथ है निर्वाणा। 
इण पदा री करे खोजना। 
वो नर चतुर,  सुजाना मेरे चेला रे 
गुरु ने मंगाई। 
चेला वही …..


 Read Also:- लिख दो म्हारे रोम रोम में राम

Chela Vahi Chij Lana Re Guru Ne Mangai Bhajan Hindi Lyrics

!! Chela Vahi Cheej Lana Re !!

chaila vahee cheej laana re ,
guru ne mangaee.


pahalee bhiksha aata laana
gaanv nagar ke paas ne jaana.
ejee chalatee chakkee chakh ke aana.
jolee to bhar ke laana mere chela re,
guru ne mangaee.
chela vahee …..


are doojee bhiksha jal kee laana.
kua baavadee ke paas ne jaana.
ai khaara meetha dekh ke laana.
ai tumbee to bhar kar ,
laana mere chela re ,
guru ne mangaee.
chela vahee …..


teejee bhiksha maans kee laana.
jeev jantu ko nahin sataana.
ai jinda murda dekh ke laana.
ai khappar bhar kar,
laana mere chela re,
guru ne mangaee.
chela vahee …..


chauthee bhiksha lakadee kee laana.
van raay ko nahin sataana.
bhaaree banaakar ,
laana mere chela re,
guru ne mangaee.
chela vahee …..


keve makhandar sun jadee gorakh.
ye path hai nirvaana.
in pada ree kare khojana.
vo nar chatur,
sujaana mere chela re guru ne mangaee.
chela vahee …..


desi marwadi Bhajan Hindi Lyrics

!! चेला वही चीज लाना रे !!

ओ चेला वही चीज लाना रे ,गुरु ने मंगाई।

पहली भिक्षा आटा लाना गांव नगर के पास ने जाना।
एजी चलती चक्की चख के आना।
जोली तो भर के लाना मेरे चेला रे,
गुरु ने मंगाई। ओ चेला वही चीज लाना रे ,
गुरु ने मंगाई।

अरे दूजी भिक्षा जल की लाना। कुआ बावड़ी के पास ने जाना।
ऐ खारा मीठा देख के लाना।
ऐ तुम्बी तो भर कर , लाना मेरे चेला रे ,
गुरु ने मंगाई। ओ चेला वही चीज लाना रे ,
गुरु ने मंगाई।

तीजी भिक्षा मांस की लाना। जीव जंतु को नहीं सताना।
ऐ जिन्दा मुर्दा देख के लाना।
ऐ खप्पर भर कर, लाना मेरे चेला रे,
गुरु ने मंगाई। ओ चेला वही चीज लाना रे ,
गुरु ने मंगाई।

चौथी भिक्षा लकड़ी की लाना। वन राय को नहीं सताना।
भारी बनाकर , लाना मेरे चेला रे,
गुरु ने मंगाई। ओ चेला वही चीज लाना रे ,
गुरु ने मंगाई।

केवे मखंदर सुन जदी  गोरख। ये पथ है निर्वाणा।
इण पदा री करे खोजना।
वो नर चतुर,  सुजाना मेरे चेला रे
गुरु ने मंगाई। ओ चेला वही चीज लाना रे ,
गुरु ने मंगाई। 

shyam das vaishnav ke bhajan

भजन :- चेला वही चीज लाना रे
गायक :- श्याम दास वैष्णव
लेबल :- राजस्थानी भजन
पिछला लेखलिख दो मारे रोम रोम में भजन लिरिक्स | likh do mhare rom rom mein lyrics
अगला लेखक्या लेके आया बंदे क्या लेके जायेगा भजन लिरिक्स | kya leke aaya bande kya leke jayega lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

16 + ten =