पत्थर में देवत नहीं भजन | pathar me parmeshwar nahi Bhajan lyrics

718

पत्थर में देवत नहीं भजन लिरिक्स
 

पत्थर में देवत नहीं भजन pathar me perameshwer ve to bhajan, heera lal rav bhajan, campitition bhajan

।। दोहा ।।
हू तन तो सब बन भया करम भए कुहांडि ।
आप आप कूँ काटि है, कहै कबीर बिचारि॥


~ पत्थर में देवत नहीं ~

पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,
संता पत्थर में देवत नाई।


टाक्याउ घड इने नानी मार मारियो।
मूर्ति ने पाठ बिठाई। २
हाले जीने घाटी कर दिनी। २
भिड़ी ओ भीता माई ,
संता पत्थर में देवत नाई  हा हा। ..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,
संता पत्थर में देवत नाई।


पांच जना मिल थरपै भाटो।
जद देवत प्रकट हो जाई।
हर भाटा में परमेशर वे तो।
वान विदेश बेचे नहीं ,
संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,
संता पत्थर में देवत नाई।


मिला रु काकी पाती तोड़ने।
मूर्ति के शीश चढाई। २
बोझ तोक ने उबो बापड़ो ,
निचे नाके नहीं ,
संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,
संता पत्थर में देवत नाई।


छबलियो गड़ाई चांदी को  छटायो।
जाके नेत्र नाक बनवाई रे हा हा ।२
आठो पेर  भोपा गला में राखे ,
यो मुंडे बोले नहीं ,
संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,
संता पत्थर में देवत नाई।


खीर खांड का अम्रित भोजन।
मूर्ति  के भोक लगाई २
धुप धुप तो अगनि ले गई।
देव धुवा के माई ,
संता पत्थर में देवत नाई  हा हा। ..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,
संता पत्थर में देवत नाई।


तेल सिंदूर का करे नीपना।
मूरत मुंडे बोले नहीं। २
दोई  जोड़ कर गुर्जर कनीराम बोले।
सब देवत खटके मई ,
संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,
संता पत्थर में देवत नाई।


Heera Lal Rav Bhajan Lyrics Hindi Text

!! pathar me devat nahi !!

patthar mein parameshvar ve to,
jal mein dube naee ,
santa patthar mein devat naee.


taakyau ghad ine naanee maar maariyo.
moorti ne paath bithaee. 2
haale jeene ghaatee kar dinee. 2
bhidee o bheeta maee ,
santa patthar mein devat naee ha ha. ..
patthar mein parameshvar ve to,
jal mein dube naee ,
santa patthar mein devat naee.


paanch jana mil tharapai bhaato.
jad devat prakat ho jaee.
har bhaata mein parameshar ve to.
vaan videsh beche nahin ,
santa patthar mein devat naee ha ha. …..
patthar mein parameshvar ve to,
jal mein dube naee ,
santa patthar mein devat naee.


mila ru kaakee paatee todane.
moorti ke sheesh chadhaee. 2
bojh tok ne ubo baapado ,
niche naake nahin ,
santa patthar mein devat naee ha ha. …..
patthar mein parameshvar ve to,
jal mein dube naee ,
santa patthar mein devat naee.


chhabaliyo gadaee chaandee ko chhataayo.
jaake netr naak banavaee re ha ha .2
aatho per bhopa gala mein raakhe ,
yo munde bole nahin ,
santa patthar mein devat naee ha ha. …..
patthar mein parameshvar ve to,
jal mein dube naee ,
santa patthar mein devat naee.


kheer khaand ka amrit bhojan.
moorti ke bhok lagaee 2
dhup dhup to agani le gaee.
dev dhuva ke maee ,
santa patthar mein devat naee ha ha. ..
patthar mein parameshvar ve to,
jal mein dube naee ,
santa patthar mein devat naee.


tel sindoor ka kare neepana.
moorat munde bole nahin. 2
doee jod kar gurjar kaneeraam bole.
sab devat khatake maee ,
santa patthar mein devat naee ha ha. …..
patthar mein parameshvar ve to,
jal mein dube naee ,
santa patthar mein devat naee.


Pathar Me Perameshwer ve To Jal Me Dube Nahi Bhajan Hindi Lyrics

!! पथर मे देवत नही !!

पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,संता पत्थर में देवत नाई।

टाक्याउ घड इने नानी मार मारियो।
मूर्ति ने पाठ बिठाई। २
हाले जीने घाटी कर दिनी। २
भिड़ी ओ भीता माई , संता पत्थर में देवत नाई  हा हा। ..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,संता पत्थर में देवत नाई।

पांच जना मिल थरपै भाटो।
जद देवत प्रकट हो जाई।
हर भाटा में परमेशर वे तो।
वान विदेश बेचे नहीं , संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,संता पत्थर में देवत नाई।

मिला रु काकी पाती तोड़ने।
मूर्ति के शीश चढाई। २
बोझ तोक ने उबो बापड़ो ,
निचे नाके नहीं , संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,संता पत्थर में देवत नाई।

छबलियो गड़ाई  चांदी को  छटायो।
जाके नेत्र नाक बनवाई रे हा हा ।२
आठो पेर  भोपा गला में राखे ,
यो मुंडे बोले नहीं ,संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,संता पत्थर में देवत नाई।

खीर खांड का अम्रित भोजन।
मूर्ति  के भोक लगाई २
धुप धुप तो अगनि ले गई।
देव धुवा के माई , संता पत्थर में देवत नाई  हा हा। ..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,संता पत्थर में देवत नाई।

तेल सिंदूर का करे नीपना।
मूरत मुंडे बोले नहीं। २
दोई  जोड़ कर गुर्जर कनीराम बोले।
सब देवत खटके मई , संता पत्थर में देवत नाई हा हा। …..
पत्थर में परमेश्वर वे तो,
जल में डुबे नाई ,संता पत्थर में देवत नाई।

heera lal rao ka bhajan

भजन :- पत्थर में परमेश्वर वे तो
गायक :- हीरालाल राव
लेबल :- राजस्थानी भजन
Share this

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

3 × 2 =