ले हाथ ढाल तलवार लावणी भजन लिरिक्स | le hath dhal talwar kaluram bikhraniya bhajan lyrics

6847

ले हाथ ढाल तलवार लावणी भजन लिरिक्स

ले हाथ ढाल तलवार लावणी le hath dhal talwar bhajan, kaluram bikhraniya bhajan

।। दोहा ।।

बोली एक अनमोल है, जो कोई बोल जानि,
हिये तराजू तौलि के, तब मुख बाहर आनि।


~ ले हाथ ढाल तलवार ~
 
ले हाथ ढाल तलवार ,
मुठ मजबूती। 
धर दे चामुंडा ,
राजपूतो  में मजबूती। २


मुगलो की फौज, 
मेवाड़ देश चढ़  आई ।  २ 
गढ़ गेर लिया चित्तोड़ ,
घटा सु  छाई।


मुगलो की जिसने,
दे डाली आहुति। २ 
धर दे चामुंडा ,
राजपूतो  में मजबूती।


हल्दी घाटी में जो ,
तलवार चलाई। २ 
गीतामा हो तुम्हारी ,
जगदम्बा मन माई।


स्वाहुवा गोर कम ,
साणी चड़िबा रोका। २ 
बिजली ज्यू चमके ,
तेज खनक बा लागी।


इण मारवाड़ में बलियारी ,
आ धरती सूरा वीरा री।


एक समय में,
पृथ्वीराज खांडा खड़काया। 
आखियो से अँधा ,
फिर भी बाण चलाया।


अब सुणलो धरकर ध्यान ,
सुनाऊ कहानी। 
ओ धरती पर किना ,
नाम झांसी की रानी।


 अब याद हमें,
महाराज की आती है। 
आखियो से नदिया ,
नीर धीर  बहती है।


सारा पेहली,
मात मनाऊ आजा। 
सुते सेरो को ,
फिर से आन जगा जा।


भक्ति मंडल ,
प्रस्तुति करता तेरी। 
तुम सहाय करो ,
जगदम्बा मात माई।


le hath dhal talwar kaluram bikhraniya bhajan lyrics

!! le hath dhal talwar !!

le haath dhaal talavaar ,
muth majabootee.
dhar de chaamunda ,
raajapooto mein majabootee. 2


mugalo kee phauj,
mevaad desh chadh aaee . 2
gadh ger liya chittod ,
ghata su chhaee.


mugalo kee jisane,
de daalee aahuti. 2
dhar de chaamunda ,
raajapooto mein majabootee.


haldee ghaatee mein jo ,
talavaar chalaee. 2
geetaama ho tumhaaree ,
jagadamba man maee.


svaahuva gor kam ,
saanee chadiba roka. 2
bijalee jyoo chamake ,
tej khanak ba laagee.


in maaravaad mein baliyaaree ,
aa dharatee soora veera ree.


ek samay mein,
prthveeraaj khaanda khadakaaya.
aakhiyo se andha ,
phir bhee baan chalaaya.


ab sunalo dharakar dhyaan ,
sunaoo kahaanee.
o dharatee par kina ,
naam jhaansee kee raanee.


ab yaad hamen,
mahaaraaj kee aatee hai.
aakhiyo se nadiya ,
neer dheer bahatee hai.


saara pehalee,
maat manaoo aaja.
sute sero ko ,
phir se aan jaga ja.


bhakti mandal ,
prastuti karata teree.
tum sahaay karo ,
jagadamba maat maee.


Read Also:- गुरु शब्द पहचान जगत में
Read Also:- मेवाड़ प्यारो लागे जी

le hath dhal talwar kaluram bikhraniya bhajan lyrics

!! ले हाथ ढाल तलवार !!

ले हाथ ढाल तलवार मुठ मजबूती। 
धर दे चामुंडा राजपूतो  में मजबूती। २

मुगलो की फौज,  मेवाड़ देश चढ़  आई ।  २
गढ़ गेर लिया चित्तोड़  घटा सु  छाई।

मुगलो की जिसने, दे डाली आहुति। २
धर दे चामुंडा राजपूतो  में मजबूती।

हल्दी घाटी में जो , तलवार चलाई। २
गीतामा हो तुम्हारी ,जगदम्बा मन माई।

स्वाहुवा गोर कम ,साणी चड़िबा रोका। २
बिजली ज्यू चमके , तेज खनक बा लागी।

इण मारवाड़ में बलियारी ,
आ धरती सूरा वीरा री।

एक समय में, पृथ्वीराज खांडा खड़काया।
आखियो से अँधा फिर भी बाण चलाया।

अब सुणलो धरकर ध्यान ,सुनाऊ कहानी।
ओ धरती पर किना नाम झांसी की रानी।

अब याद हमें, महाराज की आती है।
आखियो से नदिया नीर धीर  बहती है।

सारा पेहली, मात मनाऊ आजा।
सुते सेरो को फिर से आन जगा जा।

भक्ति मंडल ,प्रस्तुति करता तेरी।
तुम सहाय करो जगदम्बा मात माई।

kaluram bikharniya ke bhajan

भजन :- ले हाथ ढाल तलवार
गायक :- कालूराम बिखरनिया
लेबल :- राजस्थानी भजन
पिछला लेखरात सूती ने सपनो आयो लिरिक्स | raat suti ne sapno aayo sonu sisodiya ke bhajan
अगला लेखशरणे आयो देवी लाज राखजो लिरिक्स |Sharan Aayo Re Devi Laaj Rakhjo bhajan lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

11 + seven =