गुरु सरिका देव हमारे मन भावे लिरिक्स | guru sarika dev hamare man bhave bhajan hindi lyrics

3939

गुरु सरिका देव हमारे मन भावे लिरिक्स

guru sarika dev hamare man bhave bhajan, gurudev bhajan गुरु सरिका देव हमारे मन भावे

~ गुरु सरिका देव हमारे मन भावे ~

गुरु सरिका देव हमारे मन भावे,
सदा मन भावे।
गुरु काटे करम की जान,
जीव सुख पावे | २
गुरु काटे भरम की जान ,
जीव सुख पावे ,
गुरु सरिका देव…….


अरे वा गुरासा जी,
सेन समझ कर धावे | २ 
भाई कुन संत सजान ,
जीव डुल  जावे ,
अरे हुनर चतुर सुजान
मन डुल जावे ,
अरे वा गुरासा जी ,
देव समझ कर लावे ,
भाई कुन संत सुजान मन को डुलावे ,
गुरु सरिका देव…….


 ऐ इंगला पिंगला ,
नारी सुधम को लावे | २ 
भाई अरद पुरद रा बीच,
माने ठहरावे 
गुरु सरिका देव…….


अरे एक खंडित नाथ ,
चरा चर धावे ,
भाई सकल भ्रम के माये ,
रेद यु जावे | २ 
गुरु सरिका देव…….


 अरे बोल्या ईश्वर दास ,
भरम ने भगावे | २ 
भाई सीतल चरणों के माये ,
सदा सुख पावे 
गुरु सरिका देव…….


GURU SARIKA DEV HAMARE MAN BHAVE HINDI LYRICS

guru sarika dev hamaare man bhaave 

guru sarika dev hamaare man bhaave,
sada man bhaave.
guru kaate karam kee jaan,
jeev sukh paave | 2
guru kaate bharam kee jaan ,
jeev sukh paave ,
guru sarika dev…….


are va guraasa jee,
sen samajh kar dhaave | 2
bhaee kun sant sajaan ,
jeev dul jaave ,
are hunar chatur sujaan
man dul jaave ,
are va guraasa jee ,
dev samajh kar laave ,
bhaee kun sant sujaan man ko dulaave ,
guru sarika dev…….


ai ingala pingala ,
naaree sudham ko laave | 2
bhaee arad purad ra beech,
maane thaharaave
guru sarika dev…….


are ek khandit naath ,
chara char dhaave ,
bhaee sakal bhram ke maaye ,
red yu jaave | 2
guru sarika dev…….


are bolya eeshvar daas ,
bharam ne bhagaave | 2
bhaee seetal charanon ke maaye ,
sada sukh paave
guru sarika dev…….


Read Also:- मारो बेड़ो लगा दीजो पार

Read Also:- अब हम जाते है घर

गुरु सरिका देव हमारे मन भावे lyrics in hindi

guruji bhajan lyrics

गुरु सरिका देव हमारे मन भावे, सदा मन भावे।
गुरु काटे करम की जान जीव सुख पावे | २
गुरु काटे भरम की जान जीव सुख पावे ,
गुरु सरिका देव……. 

अरे वा गुरासा जी सेन समझ कर धावे | २ 
भाई कुन संत सजान ,जीव डुल  जावे ,
अरे हुनर चतुर सुजान मन डुल जावे ,
अरे वा गुरासा जी देव समझ कर लावे ,
भाई कुन संत सुजान मन को डुलावे ,
गुरु सरिका देव……. 

ऐ इंगला पिंगला नारी सुधम को लावे | २ 
भाई अरद पुरद रा बीच माने ठहरावे 
गुरु सरिका देव……. 

अरे एक खंडित नाथ चरा चर धावे ,
भाई सकल भ्रम के माये रेद यु जावे | २ 
गुरु सरिका देव……. 

अरे बोल्या ईश्वर दास भरम ने भगावे | २ 
भाई सीतल चरणों के माये सदा सुख पावे 
गुरु सरिका देव……. 

satguru ke desi bhajan

भजन :- गुरु सरिका देव हमारे मन भावे
गायक :- unknown
लेबल :- राजस्थानी भजन
पिछला लेखहंसा निकल गया रे काया से भजन लिरिक्स | Hansa nikal gaya kaya se bhajan lyrics | hansala bhajan
अगला लेखचारभुजा रा चौक में भजन लिरिक्स | Charbhuja ra chok me nachuli gumar gal re bhajan rajasthani lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

six + 14 =