हंसा निकल गया रे काया से भजन लिरिक्स | Hansa nikal gaya kaya se bhajan lyrics | hansala bhajan

8192

हंसा निकल गया रे काया से भजन लिरिक्स

hansa nikal gaya kaya se bhajan, hansala bhajan

।। दोहा ।।
ये तन विष की बेल है , सतगुरु अमृत खान।
शीश दिया सतगुर मिले ,तो भी सस्ता जान।

~ हंसा निकल गया रे काया से ~

औ हंसा निकल गया रे काया से,
खाली पड़ी रेवे तस्वीर -२ 
पड़ी रेवे तस्वीर ,
खाली पड़ी रेवे तस्वीर |
औ हंसा…


कोई मनाया देवी देवता ,
कोई पूज्या पीर -२ 
आया पर्वा ना उसी घर का ,
अब जाना पड़ा आखिर  ।।
 हंसा…


कोई रोवे कोई मल मल धोवे ,
कोई ओढावे चिर -२ 
चार जाना मिल मुर्दो उठायो ,
ले गया जमाना तीर ।।
 हंसा…


यम का दूत लवण ने आवे ,
मनड़ो करे नहीं धीर -२ 
मार -मार के प्राण नीकालिया ,
जद नैना में छलके नीर ।।
हंसा…


माल मूलक की कोड चलाई ,
संग नहीं जावे शरीर -२ 
जाय जंगल में जीता चुनाई ,
कह गया दास कबीर ।।
हंसा…


औ हंसा निकल गया रे काया से,
खाली पड़ी रेवे तस्वीर -२ 
पड़ी रेवे तस्वीर ,
खाली पड़ी रेवे तस्वीर |
औ हंसा…


Read Aslo:-  निंद्रा बेच दू कोई ले तो

Hansa nikal gaya kaya se Hindi lyrics

!! Hansa Nikal Gaya Kaya Se !!

au hansa nikal gaya re kaaya se,
khaalee padee reve tasveer -2
padee reve tasveer ,
khaalee padee reve tasveer |
au hansa…


koee manaaya devee devata ,
koee poojya peer -2
aaya parva na usee ghar ka ,
ab jaana pada aakhir ..
hansa…


koee rove koee mal mal dhove ,
koee odhaave chir -2
chaar jaana mil murdo uthaayo ,
le gaya jamaana teer ..
hansa…


yam ka doot lavan ne aave ,
manado kare nahin dheer -2
maar -maar ke praan neekaaliya ,
jad naina mein chhalake neer ..
hansa…


maal moolak kee kod chalaee ,
sang nahin jaave shareer -2
jaay jangal mein jeeta chunaee ,
kah gaya daas kabeer ..
hansa…


au hansa nikal gaya re kaaya se,
khaalee padee reve tasveer -2
padee reve tasveer ,
khaalee padee reve tasveer |


Read Aslo:- थारी मोह माया ने छोड़ राम ने

Hansa nikal gaya kaya se khali padi rave tasvir , Hansala Rajasthani bhajan Lyrics

!! हंसा निकल गया रे काया से !!

औ हंसा निकल गया रे काया से,खाली पड़ी रेवे तस्वीर -२ 
पड़ी रेवे तस्वीर ,खाली पड़ी रेवे तस्वीर |औ हंसा…

कोई मनाया देवी देवता ,कोई पूज्या पीर -२ 
आया पर्वा ना उसी घर का ,अब जाना पड़ा आखिर  ।।
 हंसा…

कोई रोवे कोई मल मल धोवे ,कोई ओढावे चिर -२ 
चार जाना मिल मुर्दो उठायो ,ले गया जमाना तीर ।।
 हंसा…

यम का दूत लवण ने आवे ,मनड़ो करे नहीं धीर -२ 
मार -मार के प्राण नीकालिया ,जद नैना में छलके नीर ।।
हंसा…

माल मूलक की कोड चलाई ,संग नहीं जावे शरीर -२ 
जाय जंगल में जीता चुनाई ,कह गया दास कबीर ।।
हंसा…

औ हंसा निकल गया रे काया से,खाली पड़ी रेवे तस्वीर -२ 
पड़ी रेवे तस्वीर ,खाली पड़ी रेवे तस्वीर |औ हंसा…

nirguni bhajan marwadi

भजन :- हंसा निकल गया रे काया से
गायक :- सायरमल
लेबल :- राजस्थानी भजन

Read Also:- मारो बेड़ो लगा दीजो पार

पिछला लेखश्री शनिदेवजी की आरती लिरिक्स | Aarti shani dev ji ki Hindi lyrics
अगला लेखगुरु सरिका देव हमारे मन भावे लिरिक्स | guru sarika dev hamare man bhave bhajan hindi lyrics

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

15 − 7 =